कोरोना संक्रमण की चेन तोड़कर इसे पराजित करने में सभी सहयोग दें
कोरोना संक्रमण की चेन तोड़कर इसे पराजित करने में सभी सहयोग दें|Social Media
मध्य प्रदेश

भोपाल : कोरोना संक्रमण की चेन तोड़कर इसे पराजित करने में सभी सहयोग दें

भोपाल, मध्य प्रदेश : अनलॉक में बड़े पॉजीटिव प्रकरण चिंता का विषय। मुख्यमंत्री ने आमजन से जागरूकता बरतने का किया आग्रह।

राज एक्सप्रेस

राज एक्सप्रेस

भोपाल, मध्य प्रदेश। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश की जनता से अपील की है कि वे कोरोना वायरस के संक्रमण की चेन तोड़कर इसे पराजित करने में अपना-अपना सहयोग प्रदान करें। फिलहाल पार्टियां और समारोह आयोजित न हों। घरों में भी फिजिकल डिस्टेंसिंग और स्वच्छता से रहते हुए संक्रमण की चेन को हर स्थिति में तोड़ा जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि लॉकडाउन से अनलॉक की स्थिति में आने के बाद जुलाई माह में कोरोना वायरस के पॉजीटिव प्रकरण निरंतर बड़े हैं, जो चिंता का विषय है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सर्वकल्याण की भावना से सभी के निरोग रहने की कामना करते हुए लॉकडाउन की व्यवस्था की जा रही है। गत तीन-चार माह से किए जा रहे प्रयास वायरस को नियंत्रित कर रहे थे। आमजन के सहयोग से काफी सफलता भी प्राप्त हुई, लेकिन अब वर्तमान स्थिति को देखते हुए पुन: पूरी सावधानी और गाइडलाइन का पालन करने की आवश्यकता है।

प्रधानमंत्री का फैसला ऐतिहासिक था, सावधानी आज भी जरूरी :

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना वायरस ने मानवता के सामने बड़ा संकट खड़ा किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यथासमय लॉकडाउन घोषित कर ऐतिहासिक फैसला लिया। उन्होंने कोई कसर नहीं छोड़ी। देश में लॉकडाउन का बेहतर पालन भी हुआ। संक्रमण रोकने में काफी सहायता मिली, लेकिन जिंदगी भी चलाना आवश्यक है। इसलिए लॉकडाउन में विभिन्न अवसरों पर रियायत दी गई, आर्थिक गतिविधियां भी शुरू करनी पड़ीं। लॉकडाउन से देश अनलॉक की ओर बढ़ा, लेकिन अनलॉक की ओर बढ़े तो लोग असावधान भी हो गए। आवश्यक सावधानियों का पालन नहीं किया गया। लोग घरों से निकलकर सड़कों और बाजारों में अधिक संख्या में जाने लगे। पार्टियां भी शुरू हो गईं। विवाह समारोह में दोनों पक्षों के लोगों की सीमित 50 की संख्या में भागीदारी की व्यवस्था की गई। इसका अनेक स्थानों पर पालन नहीं किया गया। कई मित्रों ने मास्क नहीं पहने। इससे पॉजीटिव रोगियों की संख्या में वृद्धि दिखाई दी। जून तक मध्यप्रदेश में नियंत्रित कोरोना जुलाई में बढ़ने लगा। यह बढ़ते आंकड़े चिंता का विषय है। हमें संक्रमण रोकना ही पड़ेगा। इसलिए कई जगह फिर से लॉकडाउन किया गया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि नसरूल्लागंज, सिरोंज, मुरैना, ग्वालियर आदि स्थानों पर फिर से प्रकरण बढ़ने से संक्रमण की चेन तोड़ने के उपाय को प्रभावी रूप से लागू करने की आवश्यकता है। इसके लिए आवश्यक सावधानियों का पालन करना होगा। हम सावधानी नहीं रखेंगे तो अनलॉक से लॉकडाउन की ओर जाने के लिए विवश होना पड़ेगा।

डिस्क्लेमर: यह आर्टिकल न्यूज एजेंसी फीड के आधार पर प्रकाशित किया गया है। इसमें राज एक्सप्रेस द्वारा कोई संशोधन नहीं किया गया हैं। अतः इस आर्टिकल अथवा समाचार में प्रकाशित हुए तथ्यों की जिम्मेदारी राज एक्सप्रेस की नहीं होगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co