देवास के शासकीय भवनों का वर्चुअली लोकार्पण
देवास के शासकीय भवनों का वर्चुअली लोकार्पणSocial Media

देवास के शासकीय भवनों का वर्चुअली लोकार्पण कर सीएम ने इन भवनों का नाम स्व. कैलाश जोशी के नाम पर रखा

मध्यप्रदेश : देवास जिले में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि, शासकीय महाविद्यालय बागली व शासकीय महाविद्यालय सतवास भी अब स्व. कैलाश जोशी जी के नाम से जाने जाएंगे।

मध्यप्रदेश। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने वर्चुअल कार्यक्रम के माध्यम से देवास जिले के सतवास के शासकीय महाविद्यालय का नाम पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय कैलाश जोशी के नाम किया गया। इस कार्यक्रम के दौरान पूर्व जिलाध्यक्ष गोपीकिशन व्यास वरिष्ठ भाजपा नेता कैलाश जोशीला जनपद अध्यक्ष प्रतिनिधि रेवाराम सारण मंडल अध्यक्ष सोहन पटेल राजेश मालवीया बंटी जोशी, विनोद राठी, कमलेश जोशी, लालू नागौरी, महामंत्री योगेश शर्मा पत्रकार आदि ने संबोधित करते हुए स्वर्गीय कैलाश जोशी के जीवन पर प्रकाश डाला।

CM ने देवास जिले के चार शासकीय भवनों का किया वर्चुअली लोकार्पण

इस कार्यक्रम में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने देवास जिले के चार शासकीय भवनों का वर्चुअली लोकार्पण किया। भवनों का नाम स्व. कैलाश जोशी के नाम पर रखा गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि, कृषि उपज मंडी लोहारदा का नाम स्व. श्री कैलाश जोशी कृषि उपज मंडी लोहारदा, कृषि उपज मंडी बागली का नाम स्व. श्री कैलाश जोशी कृषि उपज मंडी बागली होगा। शासकीय महाविद्यालय बागली व शासकीय महाविद्यालय सतवास भी अब स्व. श्री कैलाश जोशी जी के नाम से जाने जाएंगे।

श्रद्धेय स्व. श्री जोशी जी ने भारत माता के लिए, देश के लिए पूरा जीवन समर्पित किया। उनका जीवन हम सबके लिए प्रेरणा का ऐसा दीप स्तम्भ है जो सदा जीने की राह दिखाता रहेगा।

मुख्यमंत्री शिवराज

सीएम शिवराज ने कही ये बातें

  • श्रद्धेय स्व. श्री कैलाश जोशी बहुत सहज, सरल विद्वान व चिंतक थे। मैं उनके साथ कई जगह जाया करता था।

  • जोशी के भाषणों का अध्ययन करने पर ज्ञात होता है कि उनके अंदर ज्ञान का भंडार था। मुद्दों को उठाने व बोलने की कला उनसे सीखनी चाहिए।

  • राजनैतिक क्षेत्र में श्रद्धेय स्व. श्री कैलाश जोशी जी ने कई प्रतिमान गढ़े, जो आज भी दीप स्तम्भ का कार्य करते हैं।

  • स्व. जोशी जी अद्भुत थे। कोई छल-कपट नहीं, कोई अहंकार-दम्भ नहीं। इसी कारण जनता ने उन्हें संत की उपाधि से विभूषित किया था।

  • भोपाल स्व. कैलाश जोशी जी की कर्मभूमि है। यहाँ भी उनकी प्रतिमा स्थापित की जाएगी ताकि आने वाली पीढियां उनके बारे में जान सकें।

इस अवसर पर नगर अध्यक्ष रमेश जायसवाल, विधायक प्रतिनिधि अंकित जायसवाल सहित बडी संख्या मे भाजपा नेता तथा बच्चे उपस्थित थे। कार्यक्रम के दौरान नायब तहसीलदार संगीता महतो महाविद्यालय के प्रभारी प्राचार्य दिलीप मौर्य विशेष रूप से उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन शिक्षक मनोज दुबे ने किया। इसी तरह लोहारदा कृषि उपज मंडी का नाम भी स्वर्गीय कैलाश जोशी कृषि उपज मंडी कर दिया गया।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co