Raj Express
www.rajexpress.co
कैबिनेट वन मंत्री उमंग सिंघार
कैबिनेट वन मंत्री उमंग सिंघार |Social Media
मध्य प्रदेश

भोपाल : कैबिनेट मंत्री ने रोकी अफसरों के तबादलों की फाइल

भोपाल, मध्यप्रदेश : कैबिनेट वन मंत्री उमंग सिंघार ने वन अफसरों के तबादलों की बोर्ड के फैसले की फाइल रोकी, विभाग में बनी विवाद की स्थिति।

Deepika Pal

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश के भोपाल में कैबिनेट वन मंत्री उमंग सिंघार ने वन अफसरों के तबादलों पर बोर्ड द्वारा किए गए फैसले की फाइल रोक ली है, जिसकी वजह से चीफ वाइल्ड लाइफ वार्डन का पद दो माह से अधिक समय से खाली है।

क्या है मामला:

पिछले महीने 22 अक्टूबर को आईएफएस अफसरों के तबादलों को लेकर बोर्ड की मीटिंग में तय किया गय़ा था कि, 1984 बैच के राजेश श्रीवास्तव को प्रदेश के चीफ वाइल्ड लाइफ वार्डन और एसपी रयाल को प्रधान मुख्य वन संरक्षक, एबी गुप्ता को पीसीसीएफ उत्पादन के पद पर पदस्थ किया जाए। जिसके लिए बोर्ड की अध्यक्षता में मुख्य सचिव ने फाइल को वन मंत्री के अनुमोदन के लिए उनके पास भेजा था, लेकिन बिना किसी अनुमोदन और कार्रवाई के फाइल अभी तक उनके पास ही है। मंत्री के इस व्यवहार से विभाग के अफसरों में नाराजगी है।

मंत्री और एसीएस के बीच चल रही है खींचतानः

सूत्रों के मुताबिक बताया जा रहा है कि, कैबिनेट वन मंत्री उमंग सिंघार और एसीएस श्रीवास्तव के बीच आपसी खींचतान चल रही है श्रीवास्तव से वन मंत्री थोड़े नाखुश से चल रहे हैं। जिसकी वजह से अफसरों की तबादलों की फाइल को लेकर कोई अनुमोदन और प्रत्युत्तर नहीं किया जा रहा है और ना ही मंजूरी दी जा रही है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।