Raj Express
www.rajexpress.co
ये कैसा व्यव्हार मंत्री जी,महिला सफाईकर्मी को धक्का देकर निकलवाया?
ये कैसा व्यव्हार मंत्री जी,महिला सफाईकर्मी को धक्का देकर निकलवाया?|Deepika Pal - RE
मध्य प्रदेश

ये कैसा व्यवहार मंत्री जी, महिला सफाईकर्मी को धक्का देकर निकलवाया?

हाल ही के हरदा में हुए मंत्री शर्मा और किसान नेता के मामले के बाद रीवा से एक और मामला चर्चा में आया, पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज ने कसा तंज।

Deepika Pal

Deepika Pal

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश में बीते दिनों हरदा में हुए किसान नेता और कैबिनेट मंत्री शर्मा के मामले के बाद एक और ताजा मामला प्रदेश के रीवा जिले से सामने आया है जिसमें प्रदेश के कैबिनेट मंत्री कमलेश्वर पटेल द्वारा शिकायत करने आई महिला को कथित तौर पर धक्का देकर बाहर कर दिया गया। इस घटना के बाद से सोशल मीडिया पर इसका वीडियो वायरल किया जा रहा है। वहीं इस मामले पर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने वीडियो जारी करते हुए ट्वीट किया है।

क्या है मामला :

मिली जानकारी के मुताबिक, प्रदेश के कैबिनेट पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री कमलेश्वर पटेल रीवा जिले के एक स्थानीय होटल में पत्रकार वार्ता कर रहे थे, उसी दौरान नगर निगम की एक महिला सफाईकर्मी मुन्नी पटेल रोते हुए शिकायत लेकर मंत्री के समक्ष पहुंची थी, जहां महिला को कथित तौर पर धक्का देकर कमरे से बाहर कर दिया गया। बताया जा रहा है कि महिला की ड्यूटी पूर्व में पार्क की देख-रेख में लगाई गई थी, जिसे अब बदल दिया गया है, इसी समस्या के समाधान कराने के लिए उक्त महिला मंत्री पटेल से मिलने पहुंची थी। इस दौरान मंत्री पटेल के साथ जिला कलेक्टर समेत कई अधिकारी मौजूद थे।

पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज ने किया ट्वीट :

इस मामले में प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने वीडियो जारी करते हुए ट्वीट किया है। जिसमें उन्होंने कहा कि,- कांग्रेस के नेता सत्ता के नशे में चूर हैं। इन्हें जिन नागरिकों की समस्याओं के समाधान के लिए चुना गया है, अब उनके आंसू भी दिखाई देना बंद हो गये हैं। गरीबों के ये आंसू इन्हें ले डूबेंगे।

महिला पार्षद पर लगाए मंत्री ने आरोप :

इस संबंध में मंत्री पटेल ने महिला पार्षद नम्रता सिंह पर पूरी घटना की योजना बनाने का आरोप लगाया है। वहीं मौके पर मौजूद रीवा कलेक्टर ने भी योजना के तहत उक्त महिला को मंत्री तक पहुंचाने की बात कही है। बहरहाल मामले पर अब तक कोई भी स्पष्टीकरण और उक्त मंत्रियों की प्रतिक्रिया नहीं आई है।

एक और मामला आया था सामने :

बता दें कि, इस मामले से पहले हरदा जिले से एक मामला सामने आया था जिसमें कैबिनेट मंत्री पीसी शर्मा द्वारा किसान नेता शैलेन्द्र वर्मा को ऊंची आवाज में बात करने के मामले में कलेक्ट्रेट परिसर से बाहर कर दिया गया था, हालांकि बाद में मामला शांत हो गया था।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।