कैबिनेट मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर
कैबिनेट मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर|Deepika Pal - RE
मध्य प्रदेश

स्वच्छता हमारा कर्तव्य के अंदाज में मंत्री ने अधिकारियों को दी सीख

इंदौर, मध्यप्रदेश: देश के सबसे स्वच्छ शहर के एक हिस्से की गंदगी को देख भड़के खाद्य मंत्री तोमर, खुद ही उठाया सफाई का बीड़ा, अनियमितता के मामले में अधिकारियों को लगाई फटकार।

Deepika Pal

Deepika Pal

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश की व्यावसायिक राजधानी इंदौर जहां स्वच्छता की तर्ज पर देश में सबसे अव्वल दर्जे पर कायम है, वहीं अन्य मामलों में इस शहर के एक हिस्से में फैली गंदगी देखकर आज प्रदेश के कैबिनेट मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर भड़क गए और स्वयं ही सफाई करने उतर गए। दरअसल खाद्य मंत्री तोमर आज शहर के निरीक्षण पर निकले थे। साथ ही राशन की दुकानों पर व्याप्त अनियमितताओं पर खाद्य अधिकारियों को फटकार भी लगाई। बता दें कि इससे पहले भी सफाई अभियान के तहत खाद्य मंत्री ग्वालियर और शिवपुरी में नाले-नालियों एवं शौचालयों की खुद सफाई कर चर्चा में आ चुके हैं।

निरीक्षण के लिए पहुंचे थे मंत्री :

बता दें कि, प्रदेश के कैबिनेट खाद्य मंत्री तोमर आज गणपति क्षेत्र स्थित खाद्य विभाग के वेयर हाउस के औचक निरीक्षण के लिए आए थे उसी दौरान परिसर में फैली गंदगी और कचरे को देखकर भड़क उठे, साथ ही नाराजगी जताते हुए फावड़ा उठाकर खुद ही सफाई में जुट गए। खाद्य मंत्री के द्वारा सफाई किए जाने से वेयर हाउस के कर्मचारी शर्मिंदा हो गए। इस वाकये का वीडियो और तस्वीरे सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है। इस संबंध में खाद्य मंत्री ने कहा कि, "अपने परिवेश को साफ रखना एक नागरिक के तौर पर हम सबका दायित्व है।" साथ ही कहा- जिस तरह हम अपने घर को स्वच्छ रखने का प्रयास करते हैं, उसी तरह मैंने पूरे प्रदेश को ही अपना घर मान रखा है। मेरे विभाग के अधीन आने वाले वेयर हाउस परिसर को गंदा देख मैं स्वयं को रोक नहीं पाया। "गंदगी से मच्छरों के जरिये डेंगू और मलेरिया जैसी बीमारियां फैलती हैं।

वहीं इस मामले पर निगम आयुक्त ने कहा कि, हम शहर के प्रत्येक सार्वजनिक स्थलों पर सफाई की व्यवस्था सुनिश्चित कर रहे हैं, सरकारी परिसरों के अंदर की नियमित सफाई का दायित्व हमारे दायरे में नहीं आता है।

दुकानों में अनियमितताओं पर फिर भड़के मंत्री :

बता दें कि, खाद्य मंत्री तोमर अधिकारियों के साथ वेयरहाउस का निरीक्षण करने से पहले क्षेत्र की दुकानों पर पहुंचे थे, उसी दौरान दुकानों पर पूछताछ के दौरान अनियमितता सामने आने पर मंत्री भड़क गए और खाद्य अधिकारियों को जमकर फटकार लगाई और जांच के आदेश दिए। साथ ही कहा कि, जिसने गरीबों की थाली से निवाला छीना उसे बख्शा नहीं जाएगा और मामले पर अधिकारियों से जवाब भी मांगा।

जानकारी के मुताबिक, राशन की दुकानों पर अनियमितता की शिकायतें लगातार खाद्य मंत्री तोमर को मिल रही थीं, जिस पर लोगों का कहना था कि, तय मात्रा से कम राशन दिया जा रहा है और सामग्रियों की गुणवत्ता भी सही नहीं है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co