सैन्य सम्मान के साथ पंचतत्व में विलीन हुए कैप्टन Varun Singh, बेटे-भाई ने दी मुखाग्नि
सैन्य सम्मान के साथ पंचतत्व में विलीन हुए कैप्टन Varun SinghSocial Media

सैन्य सम्मान के साथ पंचतत्व में विलीन हुए कैप्टन Varun Singh, बेटे-भाई ने दी मुखाग्नि

भोपाल, मध्यप्रदेश : आज ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह का अंतिम संस्कार हुआ है, ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह (Varun Singh) के बेटे और भाई ने मुखाग्नि दी है।

भोपाल, मध्यप्रदेश। तमिलनाडु हेलीकॉप्टर हादसे (Coonoor Helicopter Crash) में शहीद ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह पंचतत्व में विलीन हो गए। आज ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह का अंतिम संस्कार हुआ है। बता दें कि, ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह (Varun Singh) के बेटे और भाई ने मुखाग्नि दी है।

पंचतत्‍व में विलीन कैप्टन वरुण सिंह :

कैप्टन वरुण सिंह का आज पूरे सैन्य सम्मान के साथ अंतिम संस्कार कर दिया गया है। हर किसी की आंख नम दिखाई दी। वहीं, बेटे को विदाई देते समय पिता रिटायर्ड कर्नल केपी सिंह भावुक हो गए। इससे पहले मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कैप्टन को सैल्यूट किया।

सीएम शिवराज ने ट्वीट कर कहा- ऐ मातृभूमि के सच्चे सेवक, तुम्हारे शौर्य को प्रणाम! माटी के कण-कण को, तुम पर रहेगा सर्वदा अभिमान! राष्ट्र सेवा की तुमने जो ज्योत जलाई, उसको हम सब करते हैं प्रणाम! शहीद ग्रुप कैप्टन वरूण सिंह जी के चरणों में भोपाल के वैकुंठ धाम, संत हिरदाराम मुक्तिधाम में श्रद्धांजलि दी। वही सीएम ने शहीद ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह के परिवार से संत हिरदाराम मुक्तिधाम में भेंट की। अब उनका परिवार मेरा और सम्पूर्ण मध्यप्रदेश का परिवार है। उनके परिवार की सेवा एवं देखभाल अब हम सबका कर्तव्य है और हम पूरी निष्ठा से इसका निर्वहन करेंगे।

कल ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा था- श्रद्धेय वरुण सिंह की स्मृतियों को अक्षुण्ण रखने के लिए उनकी प्रतिमा की स्थापना और संस्था का नामकरण उनके नाम पर किया जायेगा। परिवार को एक करोड़ रुपये की सम्मान निधि और परिवार के सदस्य को शासकीय नौकरी दी जायेगी। अमर शहीद के चरणों में नमन्!

सैन्य सम्मान के साथ पंचतत्व में विलीन हुए कैप्टन Varun Singh
शहीद कैप्टन Varun Singh के परिजन को दी जायेगी एक करोड़ रुपये की सम्मान निधि: सीएम

बता दें कि 8 दिसंबर को सीडीएस बिपिन रावत के हेलीकॉप्टर क्रैश हादसे में बचे एकमात्र व्यक्ति ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह का लंबे इलाज के बाद बुधवार को निधन हो गया। ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह ग्रुप कैप्टन अभिनंदन वर्तमान के बैचमैट थे। अभिनंदन वर्तमान ने ही 27 फरवरी 2019 को भारत की सीमा में घुसे पाकिस्तानी विमानों को खदेड़ा था।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.