Raj Express
www.rajexpress.co
पूर्व CM ने व्यवस्था पर उठाये सवाल
पूर्व CM ने व्यवस्था पर उठाये सवाल|Social Media
मध्य प्रदेश

सीहोर : हॉस्टल में छात्र की मौत-पूर्व CM ने व्यवस्था पर उठाये सवाल

बुदनी, सीहोर : शासकीय छात्रावास में छात्र की संदिग्ध मौत का मामला, पूर्व सीएम शिवराज ने मामले की जांच के दिए आदेश साथ ही छात्रावास का निरीक्षण कर छात्रों से व्यवस्था का हाल जाना।

Deepika Pal

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश के सीहोर जिले के बुदनी में शासकीय छात्रावास में छात्र के संदिग्ध मौत का मामला तूल पकड़ता जा रहा है जिसमें छात्र की मौत के बाद पुलिस द्वारा मौत के कारणों का पता लगाया जा रहा है वहीं पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने इस मामले में आवश्यक जांच करने के आदेश दिए साथ ही छात्रावास की स्थिति और व्यवस्था के निरीक्षण के लिए छात्रावास पहुंचे। छात्रावास की व्यवस्था के विषय में छात्रों से बातचीत की जिसमें पाया कि छात्रावास में अव्यवस्था और गंदगी का माहौल है जिससे नाराज होकर प्रबंधन को व्यवस्था दुरूस्त करने के निर्देश दिए। वही कैबिनेट मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने मृतक छात्र के परिजनों शोक व्यक्त कर 4 लाख रुपए की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की।

क्या है छात्र की मौत का मामला:

जानकारी के मुताबिक, सीहोर जिले के बुदनी क्षेत्र के शासकीय छात्रावास में भड़कुल तहसील रेहटी निवासी एक छात्र (श्रवण पवार 17 वर्ष) की संदिग्ध मौत का मामला सामने आया जिसमें बीते मंगलवार को रात 4 बजे छात्र के पेट में अचानक दर्द होने पर उसे बुदनी के स्वास्थ्य केंद्र लाया गया जहां छात्र को डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। पुलिस द्वारा भोपाल के हमीदिया अस्पताल में छात्र का पोस्टमार्टम कराया गया जहां मौत का कारण तिल्ली का फटना बताया। वहीं मौत की सूचना मिलते ही छात्र के परिजन अस्पताल पहुंचे मौत को संदिग्ध बताते हुए छात्रावास प्रभारी पर गंभीर आरोप लगाकर प्रभारी के साथ मारपीट की ।

इस मामले पर पुलिस ने जब छात्रावास के छात्रों से पूछताछ की तो छात्रों ने बताया कि, मुझे रात में 2 बजे फोन किया कि मैं घायल हो गया हूँ और छात्रावास के पीछे पड़ा हूँ…मुझे उठाकर ले जाओ जिस पर अन्य अपने साथी छात्रों को जगाया देखा कि मेन गेट पर ताला लगा हुआ है। जिसकी चाबी मृतक के पास ही रहती थी।

पुलिस द्वारा की जा रही है जांच :

पुलिस ने बताया कि, छात्र के शरीर पर चोट के निशान मिले हैं, वहीं मृतक की किसी अज्ञात से बात हुई थी जिसके बाद कॉल डिटेल डिलीट कर दी हैं। जांच में सामने आया है कि मृतक को पूर्व मे करंट लगा था फिलहाल जांच की जा रही है जिसके बाद ही मौत के कारणों का पता चल पाएगा।

छात्र की मौत से छात्रावास के अन्य छात्रों ने हंगामा कर खाना खाने से मना कर दिया, जिसके बाद सूचना मिलने पर प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंचे जिसके बाद छात्रों को शांत कराया जा सका। घटना की जानकारी कलेक्टर को मिलते ही उन्होंने छात्रावास प्रभारी को मामले को देखते हुए निलंबित कर दिया गया।

पूर्व सीएम ने किया छात्रावास का निरीक्षण :

पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान रात में बुदनी स्थित शासकीय छात्रावास पहुंचे और छात्रावास का निरीक्षण किया जहां छात्रावास की अव्यवस्था और गंदगी की स्थिति को देखकर नाराज हुए वहीं छात्रों से छात्रावास की व्यवस्था की जानकारी ली।

जिस संबंध में छात्रों ने बताया कि,

यहां टॉयलेट में गंदगी रहती है और वहां लाइट भी नहीं है, उन्हें मिलने वाले बिस्तर-चादर सब पुराने हैं जो अक्सर गंदे रहते हैं। निरीक्षण के दौरान सीएम देखा कि, छात्रावास के कमरों और टॉयलेट में बल्ब नहीं है वही छात्रावास प्रबंधन के पास नई चादर और कम्बलों का स्टॉक है इसके बाद भी छात्रों के सुविधाएं नहीं मिल रही हैं। छात्रों से सभी स्तर भोजन, सफाई एवं व्यवस्थाओं के संबंध में विस्तार से समस्याएं सुनकर संबंधित अधिकारियों को व्यवस्थाएं तुरंत दुरुस्त करने के निर्देश दिए।

साथ ही अपने निरीक्षण के संबंध में ट्विटर पर लिखा कि,

''आज विदिशा सांसद श्री रमाकांत भार्गव के साथ बुधनी स्थित अनुसूचित जाति बालक सीनियर छात्रावास का निरीक्षण किया गया, जहां छात्रों से छात्रावास की समस्याओं के बारे में बातचीत की जिस पर तुरंत दुरुस्त करने के संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।