जनवरी में आयोजित होगा मध्य भारत का सबसे बड़ा लिटरेचर फेस्ट बीएलएफ
भोपाल लिटरेचर एंड आर्ट फेस्टिवल (बीएलएफ)Social Media

जनवरी में आयोजित होगा मध्य भारत का सबसे बड़ा लिटरेचर फेस्ट बीएलएफ

भोपाल, मध्यप्रदेश। एमपी की राजधानी भोपाल लिटरेचर एंड आर्ट फेस्टिवल (बीएलएफ) का चौथा संस्करण 14, 15 और 16 जनवरी को भोपाल के भारत भवन में आयोजित किया जाएगा।

भोपाल, मध्यप्रदेश। एमपी की राजधानी भोपाल लिटरेचर एंड आर्ट फेस्टिवल (बीएलएफ) का चौथा संस्करण 14, 15 और 16 जनवरी को भोपाल के भारत भवन में आयोजित किया जाएगा। तीन दिवसीय इस महोत्सव में बड़ी संख्या में जाने-माने विचारक, लेखक, पूर्व नौकरशाह, पर्यावरणविद और अन्य हस्तियां शामिल होंगी।

पूर्व आईएएस अधिकारी एवं बीएलएफ का आयोजन करने वाली संस्था सोसाइटी फॉर कल्चर एंड एनवायरनमेंट के अध्यक्ष, राघव चंद्रा ने आज जारी एक प्रेस विज्ञप्ति में बताया कि फेस्टीवल का उद्देश्य अच्छे साहित्य को बढ़ावा देना हैै, खासकर शहर के युवाओं के बीच। हमारा प्रयास इस आयोजन को ’ज्ञान उत्सव’ के रूप में विकसित करना है। इस आयोजन में स्वतंत्र विचारक, शिक्षाविद, लेखक, समाज के प्रबुद्ध नागरिक और अनुभवी नौकरशाह अपने विचारों, अनुभव और अपनी नई साहित्यिक रचनाओं पर चर्चा करने और प्रस्तुत करने के लिए शामिल होते हैं।

राघव चंद्रा ने कहा कि इस साल फिर से बीएलएफ, जो पहले से ही राजधानी के सांस्कृतिक और साहित्यिक कैलेंडर में एक प्रमुख कार्यक्रम है, का आयोजन मप्र सरकार के संस्कृति और पर्यटन विभाग की साझेदारी में किया जा रहा है। उन्होंने कहा, ’’इस बार स्थापित लेखकों के साथ-साथ हमने नए विचारकों को भी आमंत्रित किया है।’’ उन्होंने आगे कहा कि शिक्षा इतिहासकार सुश्री सहाना सिंह, महिला फ्लाइट लीड मनीषा मोहन, टेरर सरवाइवर निधि चापेकर, राजनीतिक विश्लेषक और वकील जे साई दीपक, मराठा इतिहासकार डॉ उदय कुलकर्णी, पूर्व केंद्रीय सूचना आयुक्त उदय माहूरकर, पूर्व राजदूत मनजीव सिंह पुरी, कला समीक्षक अलका पांडे, पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त एसवाई कुरैशी, संयुक्त राष्ट्र में पूर्व राजदूत सैयद अकबरुद्दीन, सेलिब्रिटी स्तंभकार शोभा डे, फिल्म स्टार और लेखक कबीर बेदी, दिल्ली के पूर्व पुलिस आयुक्त नीरज कुमार, लेखक पार्थसारथी सेन शर्मा, अनुकृति उपाध्याय, अमी गनात्रा, राजनयिक सौम्या गुप्ता, टाटा समूह के शीर्ष पदाधिकारी और प्रेरक लेखक आर गोपालकृष्णन, फ्रांसीसी राजनीतिक विश्लेषक पैट्रिक वेइल, इतिहासकार विक्रम संपत, कॉर्पाेरेट कोच भरत वाखलू, सिविल सेवक और माउंट एवरेस्ट विजेता रवींद्र कुमार, पक्षी विज्ञानी डॉ सतीश पांडे, फ्रांसीसी लेखक क्रिस्टीन जोर्डिस, पेट्रीसिया लोइसन और कई अन्य ने पहले ही अपनी भागीदारी की पुष्टि कर दी है।

केंद्रीय रक्षा मंत्रालय के अनुरोध पर वीरता और शौर्य पर विशेष सत्र होंगे जिसमें जनरल मिलन नायडू, जनरल आरएस भदौरिया, अंबरीन जैदी और अन्य की भागीदारी शामिल होगी। मध्य प्रदेश के लेखक - डॉ प्रदीप कपूर, मृणालिनी पांडे, ओपी श्रीवास्तव और अन्य को भी अपने काम को प्रस्तुत करने के लिए एक मंच दिया जा रहा है। लग्जरी ब्रांडिंग और नई स्टार्टअप अर्थव्यवस्था पर भी सत्र आयोजित किये जाने की योजना है। चंद्रा ने कहा कि शुक्रवार 14 तारीख की शाम से शुरू हो रहे महोत्सव की तैयारियां जोर-शोर से शुरू हो गई हैं। आयोजन स्थल भारत भवन होगा। उन्होंने अपनी प्रबल इच्छा व्यक्त की कि भोपाल के पुस्तक-प्रेमी और रचनात्मक लोग इस समृद्ध और बौद्धिक रूप से जीवंत आयोजन को सफल बनाने में मदद करने के लिए बड़े पैमाने पर आगे आएं और इसमें भाग लें। दर्शकों के लिए साहित्य प्रश्नोत्तरी प्रश्नों को आकर्षक पुरस्कारों के साथ पूरे कार्यक्रम के सत्रों के बीच अंतरित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि बीएलएफ भोपाल का अपना कार्यक्रम है और यह भोपाल को बुद्धिजीवियों और साहित्यकारों के सांस्कृतिक रूप से उन्मुख शहर के रूप में स्थापित करने में मदद करें।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co