Raj Express
www.rajexpress.co
सीआरपीएफ जवान का अंतिम संस्कार
सीआरपीएफ जवान का अंतिम संस्कार|Pankaj Yadav
मध्य प्रदेश

छतरपुरः राजकीय सम्मान से हुआ सीआरपीएफ जवान का अंतिम संस्कार

छतरपुर,मध्यप्रदेशः सीआरपीएफ बटालियन के जवान का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम यात्रा निकालकर अंतिम संस्कार किया गया। दिल्ली से चेन्नई जाते वक्त हुआ था निधन।

Pankaj Yadav

हाइलाइट्सः

  • सीआरपीएफ जवान का हुआ राजकीय सम्मान से अंतिम संस्कार

  • दिल्ली से चेन्नई जाते वक्त हुआ था निधन

  • छेदलाल कुछ दिनों से थे लकवा के मरीज

  • 50 हजार रू. सहायता राशि, पेंशन और नौकरी देने की घोषणा

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश के छतरपुर जिले के बिजावर थाना क्षेत्र, ग्राम जसगुंवा निवासी सीआरपीएफ बटालियन के जवान छेदीलाल अहिरवार पुत्र मंजुआ अहिरवार की अंतिम यात्रा गुरूवार को सुबह करीब आठ बजे राजकीय सम्मान के साथ निकाली गई। इस दौरान सबसे पहले उनके शव को उनके पैतृक ग्राम जसगुवां ले जाया गया जहां उनके परिजनों ने अंतिम दर्शन किए उसके बाद सभी लोग मुक्तिधाम पहुंचे। मुक्तिधाम में साथी जवानों द्वारा बंदूकों से सलामी दी और राष्ट्रीय ध्वज को सम्मान के साथ शव से अलग किया गया और उनके दोनों पुत्रों अशोक तथा दशरथ ने मुखाग्नि दी।

दिल्ली से चेन्नई जाते वक्त हुआ था निधनः

बता दें कि छेदीलाल अहिरवार पुत्र मंजुआ अहिरवार 50 वर्ष 27 सीआरपीएफ बटालियन में तैनात थे। बीते रोज वे दिल्ली से कोयंबटूर-केरला एक्सप्रेस में सफर कर रहे तब ही रास्ते में कटपड़ी स्टेशन पर उन्हें अचानक उल्टी तथा सीने में दर्द हुआ। उन्हें तत्काल नजदीकी अस्पताल ले जाया गया लेकिन तब उनके प्राण निकल चुके थे। 27 सीआरपीएफ बटालियन के कमांडरो द्वारा परिजनों को उनकी मृत्यु की सूचना दी गई और सीआरपीएफ का एक दस्ता उनके शव को लेकर रात करीब 2 बजे उनके वर्तमान निवास पठारी रोड पहुंचा था।

उनकी बेटी ने बताया कि, छेदीलाल कुछ दिनों से लकवा के मरीज थे और उनकी फिटनेस के लिए ही उन्हें दिल्ली से कोयंबटूर पहुंचाया जा रहा था लेकिन रास्ते में यह हादसा हो गया।