Raj Express
www.rajexpress.co
एटीएम के भीतर बदल लिया कार्ड, कर डाली 57 हजार की चोरी
एटीएम के भीतर बदल लिया कार्ड, कर डाली 57 हजार की चोरी|Pankaj Yadav
मध्य प्रदेश

डिजिटल फ्रॉड के मामलों में पुलिस की उदासीनता, रोज लुट रहे लोग

छतरपुर, मध्यप्रदेश : एटीएम के भीतर बदल लिया कार्ड, हुई 57 हजार की चोरी, सीसीटीवी वीडियो में दिख रहा चोर फिर भी 20 दिन से कोतवाली पुलिस नहीं कर पायी एफआईआर दर्ज।

Pankaj Yadav

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश के छतरपुर जिले में डिजिटल फ्रॉड के मामलों की बाढ़ आ गई है। हर महीने जिले भर में 20 से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं और सारे मामलों में पुलिस की सफलता शून्य के करीब है। ताजा मामला डिजिटल फ्रॉड कर रहे अपराधियों के बेखौफ हौसले और पुलिस की उदासीनता को बयां करने वाला है। जिला मुख्यालय पर जवाहर रोड स्थित एचडीएफसी बैंक के एटीएम के भीतर एक भोले-भाले व्यक्ति को 57 हजार की ठगी का शिकार होना पड़ा। इस मामले में सीसीटीव्ही का स्पष्ट वीडियो भी है फिर भी कोतवाली पुलिस ने 20 दिन गुजरने के बाद भी एफआईआर नहीं की है।

क्या है मामला

शिकायतकर्ता अतरेश कोंदर निवासी छतरपुर ने बताया कि, 22 दिसम्बर की शाम 7 बजे वह जवाहर रोड स्थित एचडीएफसी बैंक के एटीएम से रूपए निकाल रहा था। इसी दौरान एक युवक एटीएम चेम्बर में घुसा और जबर्दस्ती मेरी मदद करने लगा। मेरे मना करने के बावजूद भी वह मुझसे सटकर खड़ा रहा। मैंने जैसे ही मशीन के भीतर अपना कार्ड डाला उसने जमीन में कुछ गिराकर मेरा ध्यान भटकाया और मशीन से मेरा कार्ड निकालकर रामनिवास मौर्य नामक व्यक्ति का कार्ड फंसा दिया। कार्ड बदलकर यह युवक मौके से रफूचक्कर हो गया। मैने जैसे ही बदला हुआ कार्ड देखा एटीएम के गार्ड से इसकी शिकायत की और युवक को भी ढूंढऩे की कोशिश की लेकिन वह नहीं मिला। मुझे ज्यादा जानकारी नहीं थी इसलिए मैंने एटीएम कार्ड को लॉक नहीं कराया। इस दौरान युवक ने मेरे खाते से 20 हजार नगद निकाले और 37 हजार की दोसाज कंपनी बस स्टेण्ड से ऑनलाईन शॉपिंग करते हुए सामग्री खरीद ली। मैं जब कोतवाली पहुंचा तो पुलिस ने कहा कि आवेदन दे दो।

20 दिन बाद भी पुलिस ने नहीं की एफआईआर दर्ज :

आवेदक अतरेश कोंदर ने बताया कि वह घटना के दिन ही थाने पहुंचा तो कोतवाली पुलिस ने कहा कि अभी तुम्हारे कार्ड से पैसा नहीं निकला है जब निकल जाये तब आना। इसके बाद चोरी हो गई लेकिन पुलिस ने एफआईआर नहीं की। मैं विधायक आलोक चतुर्वेदी के निवास पर भी गया जहां से उनके पीए ने कोतवाली टीआई सरिता वर्मन को फोन लगाया तो उन्होंने कार्यवाही करने की बात कही लेकिन आज दिनांक तक पुलिस वीडियो में दिख रहे युवक को न तो पकड़ सकी और न ही मेरे रूपए वापस मिल सके।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।