Chhatarpur : मिठाई की दुकान में सिलेण्डर फटे, आग से लाखों का नुकसान
मिठाई की दुकान में सिलेण्डर फटे, आग से लाखों का नुकसानराज एक्सप्रेस संवाददाता

Chhatarpur : मिठाई की दुकान में सिलेण्डर फटे, आग से लाखों का नुकसान

छतरपुर, मध्यप्रदेश। छतरपुर का छत्रसाल चौक आगजनी की एक घटना से दहल उठा। आगजनी यहां की प्रख्यात मिठाई की दुकान कृष्णा स्वीट्स में हुई।

छतरपुर, मध्यप्रदेश। सुबह करीब साढ़े 11 बजे छतरपुर का छत्रसाल चौक आगजनी की एक घटना से दहल उठा। आगजनी यहां की प्रख्यात मिठाई की दुकान कृष्णा स्वीट्स में हुई। आग कैसे लगी यह तो साफ नहीं हो सका, लेकिन पिछले हिस्से में जहां दुकान की रसोई संचालित होती है उसी हिस्से से आग की शुरुआत हुई जिसने देखते ही देखते पूरी दुकान को खाक कर दिया। आगजनी की घटना के दौरान यहां रखे रसेाई गैस के सिलेण्डर में भी विस्फोट हुए तो वहीं फ्रिज आदि भी धमाके के साथ जल गए।

लगभग दो घंटे तक आग पर काबू पाने के लिए पुलिस, नगर पालिका और आम जनता प्रयास करती रही। जिला मुख्यालय पर मौजूद फायर ब्रिगेड के अलावा आसपास के कस्बों से भी फायर ब्रिगेड बुला ली गई थीं फिर भी कई बार जब फायर ब्रिगेड का टैंकर पानी भरने के लिए जाता था तब जनता और पुलिस पानी के टैंकर से बाल्टियों में पानी लेकर आग बुझाती रही।

आगजनी पर आम जनता और प्रशासन के संयुक्त प्रयास से समय रहते काबू पा लिया गया अन्यथा शहर के व्यवसायिक क्षेत्र और घनी बस्ती में मौजूद कृष्णा स्वीट्स की यह आग लगभग दो दर्जन दुुकानों को खाक कर देती। दुकान के पिछले हिस्से से शुरू हुई आग एलपीजी सिलेण्डर के ब्लास्ट के बाद इतनी तेजी से फैल रही थी कि कुछ ही पलों में इसने पहले कृष्णा स्वीट्स को खाक कर दिया इसके बाद ऊपर मौजूद दुकान के अलावा अगल-बगल की दो दुकानों की ओर बढऩे लगी। यहां रहने वाले लोग पुलिस का सहयोग करते हुए पानी के टैंकरों से बाल्टियों में पानी लेकर उसे फैलने से रोक रहे थे तो वहीं ऊंचाई वाले हिस्से पर पानी के पाऊच फेंककर आग का फैलाव रोका जा रहा था। फायर ब्रिगेड की टीम कृष्णा स्वीट्स के अंदर मौजूद आग पर काबू पा रही थी।

पुलिस और नपा की टीमों ने दिखायी बहादुरी

आगजनी की घटना कलेक्ट्रेट और जिला अस्पताल से कुछ ही दूरी पर घटित हुई थी, इसलिए तुरंत ही अधिकारी डीएसपी शशांक जैन, तहसीलदार अभिनव शर्मा, सीएमओ ओमपाल भदौरिया, कोतवाली टीआई अरविंद दांगी सहित भारी पुलिस बल और नगर पालिका की टीमें मौके पर पहुंच गईं। आगजनी के विकराल रूप धारण करने के पहले ही सटई, सिविल लाइन थाना, गढ़ीमलहरा का पुलिस बल और आसपास की लगभग 7 फायर मशीनों को भी बुला लिया गया। आग बुझाने में पानी के चार टैंकरों सहित 7 फायर ब्रिगेड मशीनों को पानी उड़ेलना पड़ा। आग बुझाने में डीएसपी शशांक जैन और कोतवाली टीआई अरविंद दांगी भारी मशक्कत करते नजर आए और बहादुरी के साथ खुद की जान जोखिम में डालकर आग के फैलाव को बढऩे से रोक लिया।

नेताओं ने पहुंचकर परिवार को दी सांत्वना

आगजनी की घटना के बाद कृष्णा स्वीट्स संचालित करने वाला अग्रवाल परिवार बेहद दुखी था। परिवार के सदस्य इस घटना के बाद पास में ही बिलखते नजर आए। उन्हें सांत्वना देने के लिए मौके पर पूर्व राज्यमंत्री ललिता यादव, विधायक आलोक चतुर्वेदी के पुत्र मिक्की चतुर्वेदी, पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष अर्चना सिंह सहित कई गणमान्य नागरिक यहां पहुंचे। परिवार को सांत्वना देने के बाद उक्त नेताओं ने इस आगजनी की घटना से पीड़ित परिवार को मुआवजा देने की मांग भी उठाई।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co