Raj Express
www.rajexpress.co
सीएम से नहीं मिल पाए नातीराजा के समर्थक
सीएम से नहीं मिल पाए नातीराजा के समर्थक|Pankaj Yadav
मध्य प्रदेश

विधायक और कांग्रेस जिलाध्यक्ष के बीच एयरपोर्ट पर हुई तीखी बहस

छतरपुर, मध्यप्रदेश : एक ओर कांग्रेस नेताओं द्वारा सरकार के एक साल पूरे होने का जश्न मनाया जा रहा है वही कांग्रेस के नेताओं के बीच आपसी रिश्तों में खटास के मामले भी सामने आ रहे हैं।

Pankaj Yadav

राज एक्सप्रेस। प्रदेश में भले ही कांग्रेस नेता सरकार के एक साल पूरे होने पर जश्न मनाते दिखाई दे रहे हों लेकिन कांग्रेस के भीतर नेताओं के बीच आपसी रिश्तों में खटास के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। रविवार को खजुराहो एयरपोर्ट पर राजनगर से कांग्रेस विधायक एवं कांग्रेस जिलाध्यक्ष मनोज त्रिवेदी के बीच सार्वजनिक रूप से तीखी बहस के वीडियो वायरल हुए। इन दोनों नेताओं के बीच लगभग 10 मिनिट तक बहस चलती रही। बहस का कारण था विधायक नातीराजा की इस बात को लेकर नाराजगी कि, उनके समर्थकों को सीएम से मिलने नहीं दिया गया।

ये है मामला :

दरअसल रविवार को मुख्यमंत्री कमलनाथ सतना में आयोजित एक जनसभा में शामिल होने के लिए गए थे। वे भोपाल से सरकारी विमान के माध्यम से खजुराहो एयरपोर्ट पहुंचे और यहां से कुछ देरी बाद हेलीकॉप्टर लेकर सतना चले गए। विमान से हेलीकॉप्टर बदलने के इस सीमित समय में कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ता उनकी आगवानी के लिए खजुराहो पहुंचे थे। नियम के तहत कांग्रेस जिलाध्यक्ष मुख्यमंत्री का स्वागत करने के लिए सुरक्षा की दृष्टि से प्रशासन को पहले से ही एक सूची देते हैं। सूची में दर्ज कार्यकर्ताओं को ही सीएम के नजदीक जाने और उनका स्वागत करने की अनुमति मिलती है।

प्रशासन पर बौखलाए विधायक नातीराजा :

रविवार को जब सीएम खजुराहो पहुंचे तो क्षेत्रीय विधायक नातीराजा के कुछ समर्थकों को सुरक्षाकर्मियों ने भीतर नहीं घुसने दिया, जिससे नातीराजा प्रशासन पर बौखला गए। इसी बीच कांग्रेस जिलाध्यक्ष मनोज त्रिवेदी यहां पहुंचे तो उन्होंने मनोज त्रिवेदी पर भी अपना गुस्सा निकालना शुरु कर दिया और कहा कि आपके द्वारा हर बार सूची देने में इस तरह की गलती की जाती है। यह बात सुनते ही मनोज त्रिवेदी भी नाराज हो गए और उन्होंने विधायक नातीराजा को बताया कि सूची देने का अधिकार जिलाध्यक्ष होने के नाते उनके पास है और वे इस सूची में कांग्रेस के सभी प्रकोष्ठों का ख्याल रखते हैं।

बहस का वीडियो सोशल मीडिया पर हुआ वायरल :

थोड़ी देर बाद यह बहस खत्म हो गई और दोनों नेता अपने-अपने रास्ते चले गए। लेकिन जब यह बहस चल रही थी तभी वहां कुछ मीडियाकर्मियों ने कैमरे से इन क्षणों को कैद कर लिया। फिर नेताओं की बहस का यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। बाद में दोनों नेता अपनी सफाई देते हुए इस गफलत के लिए प्रशासन को दोषी ठहराते नजर आए।

कांग्रेस के जिम्मेदार पदाधिकारियों को सीएम से मिलने नहीं दिया गया। प्रशासन की यह तानाशाही अनुचित है। इसीलिए नाराजगी जाहिर की थी। आपस में हमारा कोई बैर नहीं।

नातीराजा, विधायक, राजनगर

मैंने सभी कांग्रेस के प्रकोष्ठों के पदाधिकारियों की सूची सहित जिम्मेदार पदाधिकारियों की जानकारी प्रशासन को दी थी। प्रशासन ने इस सूची को छोटा कर दिया, जिससे थोड़ी-बहुत विवाद की स्थिति बनी थी। पार्टी में सब ठीक है।

मनोज त्रिवेदी, जिलाध्यक्ष, कांग्रेस

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।