Raj Express
www.rajexpress.co
छात्रा की मौत पर 4 घंटे जाम में फंसा रहा छतरपुर
छात्रा की मौत पर 4 घंटे जाम में फंसा रहा छतरपुर|Pankaj Yadav
मध्य प्रदेश

छतरपुर: दलित छात्रों ने नेशनल हाईवे के कई स्थानों पर लगाया जाम

छतरपुर, मध्यप्रदेश : छतरपुर जिले के उत्कृष्ट कन्या छात्रावास की एक 10वीं की छात्रा ऋचा अहिरवार द्वारा आत्महत्या किए जाने के बाद दलित छात्रों ने शहर के दोनों हाईवे जाम कर दिए।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

Pankaj Yadav

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश के छतरपुर जिले के जाम महोबा रोड पर स्थित उत्कृष्ट कन्या छात्रावास की एक 10वीं की छात्रा ऋचा अहिरवार के आत्महत्या किए जाने के बाद दलित छात्रों के द्वारा शहर के दोनों हाईवे जाम किए गए। विरोध प्रदर्शन कर रहे छात्र-छात्राओं ने चार घंटे तक पुलिस, छात्रावास अधीक्षिका और आदिमजाति कल्याण विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

जमकर नारेबाजी
जमकर नारेबाजी
Pankaj Yadav

बुधवार की शाम करीब 5 बजे शासकीय उत्कृष्ट सीनियर कन्या छात्रावास में रहने वाली 10वीं की एक छात्रा ऋचा अहिरवार ने पंखें से दुपट्टा बांधकर फांसी लगा ली थी। दो दिन पहले हॉस्टल में ही 11वीं की छात्राओं ने एक विदाई पार्टी दी, जिसके दौरान हॉस्टल की एक छात्रा का पेंट चोरी हो गया। यह पेंट धोखे से बदल जाने के कारण ऋचा अहिरवार के पास आ गया था जिसके कारण छात्रावास की दो लड़कियों पुष्पा एवं लड्डू अहिरवार ने ऋचा पर चोरी का आरोप लगाया था।

ऋचा ने खुद अपने सुसाइड नोट में यह बात लिखी-

अपने माता-पिता को संबोधित करते हुए उसने लिखा कि, उसने कोई चोरी नहीं की फिर भी उसे दोनों लड़कियां चोरी के लिए बदनाम कर रही हैं। इस बदनामी का जवाब देने के लिए वह अपनी मौत से अपने सच्चे होने की गवाही दे रही है। सुसाइड नोट लिखकर इस मासूम बच्ची ने अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली। प्रदर्शनकारियों ने चार घंटे तक किसी की बात नहीं सुनी। छात्राओं ने सुशीला पाठक पर भी एफआईआर करने की मांग की। जिसके बाद उन्हें निलंबित कर दिया गया।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।