Chhindwara : नागपुर के रास्ते जिले में डेल्टा प्लस की एंट्री
नागपुर के रास्ते जिले में डेल्टा प्लस की एंट्रीSocial Media

Chhindwara : नागपुर के रास्ते जिले में डेल्टा प्लस की एंट्री

छिन्दवाड़ा, मध्यप्रदेश : छिन्दवाड़ा के लिए खतरे की घंटी, तीसरी लहर की आहट, फिर लागू होंगे कड़े प्रतिबंध। नागपुर में कोरोना की तीसरी लहर आ चुकी है, यहां हर दिन नए मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है।

छिन्दवाड़ा, मध्यप्रदेश। नागपुर के रास्ते छिन्दवाड़ा से होगी मध्यप्रदेश में तीसरी लहर की एंट्री! हमारे जिले की सीमा से लगे पड़ोसी राज्य महाराष्ट्र के नागपुर में कोरोना की तीसरी लहर आ चुकी है, विगत कुछ दिनों से यहा हर दिन मिलने वाले नए मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है। अब नए मरीज डबल डिजिट में आने लगे हैं। कुछ मरीजों में डेल्टा प्लस वैरिएंट भी पाया गया है, ऐसे में सोमवार को बढ़ते संक्रमण की रोकथाम को लेकर नागपुर जिले के प्रभारी मंत्री राउत ने स्थानीय प्रशासन के आला अधिकारियों के साथ एक हाई लेवल मीटिंग की।

यह फैसला भी किया गया कि आने वाले दो-चार दिनों में नागपुर शहर और ग्रामीण में फिर से कड़े प्रतिबन्ध लागू किये जाएंगे। बैठक में तय किया गया कि अब दुकानें, बाजार, समस्त व्यापारिक प्रतिष्ठान सुबह 8 से दोपहर 4 बजे तक ही खुले रह सकेंगे। वहीं, होटल रेस्टोरेंट रात 8 बजे तक बंद होंगे। नागपुर में एक बार फिर लॉक डाउन के हालात बनते दिखाई दे रहे हैं। इस प्रतिबंधों के बाद भी अगर जल्द हालात काबू में नहीं आए तो आने वाले दिनों में सम्पूर्ण लॉक डाउन भी लगाया जा सकता है। जहां रविवार को 10 नए संक्रमित मिले थे तो वही सोमवार को यह संख्या बढ़कर 13 हो गई। इसमें कुछ बच्चे भी शामिल हैं, ऐसे में अब मध्यप्रदेश के वो जिले जो नागपुर की सीमा से लगे हुए हैं उन्हें पहले से और ज्यादा सतर्क रहने की आवश्यकता है। विशेष कर छिन्दवाड़ा, बैतूल, सिवनी और बालाघाट ये वो जिले है जिनकी सीमा नागपुर से टच होती है।

ऐसे में अब इन जिलों में किसी भी वक्त डेल्टा प्लस वैरिएंट के साथ तीसरी लहर की एंट्री हो सकती है, ज्ञात हो की कुछ दिन पूर्व की महाराष्ट्र और मध्यप्रदेश के बीच यात्री बस परिवहन सेवा भी शुरू कर दी गई है जो एमपी के लिए खतरनाक साबित हो सकती है, तो वही छिन्दवाड़ा-नागपुर के मध्य हर दिन चलने वाली ट्रेन भी तीसरी लहर का बड़ा कारण बनकर सामने आ सकती है, कही ऐसा न हो की छिन्दवाड़ा जिला प्रशासन की सुस्त कार्यप्रणाली और जिले में हर आये दिन आयोजनों के नाम पर लगती भीड़ भारी न पड़ जाये, प्रशासनिक अधिकारियों के सामने कोरोना गाइडलाइन की खुलेआम धज्जियां उड़ाकर जिस प्रकार के आयोजन हो रहे हैं, लोगों की भारी भीड़ जुट रही है ।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co