छिंदवाड़ा : मूसलाधार बारिश से अस्पताल में भरा पानी, सड़कें डूबीं, आवागमन हुआ प्रभावित
छिंदवाड़ा : मूसलाधार बारिश से सड़कें डूबीं, अस्पताल में भरा पानी। रवि सोलंकी

छिंदवाड़ा : मूसलाधार बारिश से अस्पताल में भरा पानी, सड़कें डूबीं, आवागमन हुआ प्रभावित

छिंदवाड़ा, मध्य प्रदेश : कलेक्ट्रेट, सत्कार तिराहा रोड हुआ जलमग्न, जहां तक नजरें जा रही थीं, वहां तक पानी ही पानी दिख रहा था, रविवार दोपहर से हुई दो घंटे की बारिश ने नगर निगम की पोल खोल कर रख दी।

छिंदवाड़ा, मध्य प्रदेश। जिले में रविवार को दोपहर बाद झमाझम बारिश के बाद सड़कें पानी से लबालब भर गईं। जिले में कल रात से ही मौसम मेहरबान है। रविवार दोपहर 2 बजे से हुई दो घंटे बारिश ने नगर निगम की पोल खोल दी। दोपहर में हुई मूसलाधार बारिश से गुलाबरा, छोटी बाजार और अन्य स्थानों मे जल भराव हो गया। बारिश में कलेक्ट्रेट, सत्कार तिराहा रोड जलमग्न हो गया। छिंदवाड़ा सोनपुर को जोड़ने वाली पुलिया में पानी का बहाव तेज होने की वजह से लोगों का आवागमन थम गया।

बारिश का यह दौर 1 सप्ताह तक और जारी रहेगा :

मौसम विभाग की मानें तो अभी एक सप्ताह तक और बारिश का दौर जारी रहेगा। बंगाल की खाड़ी में बने -लो प्रेशर एरिया के साथ ही 16 सितंबर से एक और सिस्टम तैयार हो रहा है। अगर यह तैयार होता है, तो अगले 8 दिन तक प्रदेश भर में बारिश रहेगी। मौसम वैज्ञानिक ने बताया कि लो- प्रेशर एरिया पूर्वी राजस्थान में बना हुआ है। इसके साथ ही मानसून ट्रफ लाइन बूंदी, श्योपुर, टीकमगढ़ और छतरपुर से होकर जा रही है। इस कारण अभी 15 सितंबर तक इसी तरह बारिश का दौर जारी रहेगा। 16 से नया सिस्टम तैयार हो रहा है, जिससे अगले चार पांच दिन तक बारिश हो सकती है। रविवार को जिले में एक घंटे मूसलाधार बारिश हुई, जिसकी वजह से सड़कें जलमग्न हो गईं हैं।

यह सिस्टम तैयार :

वर्तमान में पूर्व- मध्य बंगाल की खाड़ी में निम्न- दाब क्षेत्र दक्षिणी झुकाव वाली चक्रवातीय एक्टिविटी के साथ सक्रिय है। पूर्वी राजस्थान के ऊपर सक्रिय निम्न दाब क्षेत्र के साथ चक्रवातीय गतिविधियां और प्रभावशाली होकर साइक्लोन फैला हुआ है। मानसून ट्रफ जैसलमेर, निम्न दाब क्षेत्र से होते हुए नौगांव, पेंड्रा रोड, सम्बलपुर और पूरी से लेकर निम्न दाब क्षेत्र तक फैली है। वहीं पूर्वोत्तर अरब सागर से लेकर गुजरात, राजस्थान और मध्य प्रदेश-छत्तीसगढ़ से होते हुए ओडिशा-बंगाल की खाड़ी तक अन्य ट्रफ लाइन गुजर रही है।

अचानक बादलों ने बदला अपना रुख :

रविवार की सुबह से धूप खिली रही तो दोपहर बाद अचानक बादलों ने अपना असर दिखाना शुरु कर दिया। बारिश के चलते सुबह अधिकतम तापमान 29 डिग्री और दोपहर के समय 33 डिग्री सेल्सियस रहा। मौसम वैज्ञानिक लगातार बारिश की संभावना जता रहे हैं। जिले में अब तक 150 एमएम से अधिक बारिश हो चुकी है। बुधवार को पूरे दिन मौसम खुशनुमा बना रहा। बारिश और हवा के चलते अधिक उमस नहीं हुई। लगातार हो रही बारिश से सबसे अधिक किसान खुश हैं। उनका कहना है कि बारिश होने से धान समेत अन्य फसलों को फायदा हो रहा है। इसी तरह बारिश जारी रहने से जिले का भूजल स्तर भी बढ़ेगा। कृषि विज्ञान केंद्र के मौसम वैज्ञानिक रामानंद पटेल का कहना है कि अभी तक जनपद में मानसून की 831.5 एमएम से अधिक बारिश हो चुकी है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co