मुख्यमंत्री ने नागदा-खाचरौद क्षेत्र के किसानों की बिमा राशि का किया भुगतान

नागदा जं., मध्य प्रदेश : मुख्यमंत्री ने उज्जैन प्रवास के दौरान नागदा-खाचरौद क्षेत्र के 26 हजार किसानों को 142 करोड़ की बीमा राशि का भुगतान किया।
मुख्यमंत्री ने नागदा-खाचरौद क्षेत्र के किसानों की बिमा राशि का किया भुगतान
मुख्यमंत्री से भेंट करते हुए पूर्व विधायक शेखावतParvej Aziz

नागदा जं., मध्य प्रदेश। उज्जैन आगमन के दौरान मुख्यमंत्री शिवराजसिंहचौहान द्वारा उज्जैन प्रवास पर किसानों को एक बहुत बड़ी सौगात दी गई। जिसमें नागदा-खाचरौद तहसील के 26 हजार 525 किसानों को 142 करोड़ 44 लाख 56 हजार रूपये का भगुतान किसानों के बैंक खातो में किया गया। सम्पूर्ण उज्जैन जिले के 1 लाख 44 हजार किसानों को 8 करोड़ 68 लाख रूपये का भुगतान किया गया। पूर्व विधायक दिलीपिंसंह शेखावत ने बताया कि 73 साल में देश की आजादी के बाद पहली बार नागदा-खाचरौद तहसील के 26 हजार 525 किसानों को 142 करोड़ रूपये का बीमे की राशि का भुगतान हुआ है। पूर्व की कांग्रेस सरकारों के समय पुरी तहसील को इकाई मानकर फसलों का सर्वे किया जाता था जिससे किसानों को उचित बीमा राशि नहीं मिल पाती थी। किन्तु भाजपा सरकार ने प्रत्येक खेत को इकाई मानकर फसल नुकसानी का सर्वे करवाना शुरू किया। जिससे उनकी फसल के नुकसानी का सही आकलन हो सके। इसीका परिणाम है कि आज इतनी बड़ी राशि मेरे किसान भाईयों के खाते में बीमे की जमा हुई है।

वर्तमान विधायक मुआवजा नहीं दिला पाये :

90 इंच वर्षा होने के बाद भी वर्तमान विधायक मुआवजा नहीं दिला पाये लेकिन हमने 53 इंच वर्षा पर भी 45 हजार किसानों को 70 करोड़ से 'यादा की बीमा राशि दिलवाई थी। वर्तमान विधायक जी केवल किसानों को इतना बता देवे कि कांग्रेस की सरकारों में कितना बीमा पूर्व में मिला या आप पूर्व में कांग्रेस की सरकार में भी विधायक रहे है जब कभी बीमा या मुआवजा मिला क्या। आप कभी किसानों का कर्ज माफ करा नहीं सके एवं झूठे प्रमाण पत्र बांटकर नौटंकी करते रहे। कभी आपने सिंचाई का रकबा बढ़ाने की मांग नहीं की ना ही क्षेत्र के किसानों के लिये डेम या तालाब बनाने की मांग की। 2018 में भाजपा की सरकार के समय माननीय शिवराजसिंह जी चौहान ने सोयाबीन का 500 रूपये प्रति क्विंटल भावांतर राशि देने की घोषणा कर बजट में प्रावधान भी कर दिया था किन्तु दिसम्बर 2018 में कांग्रेस की सरकार बनते ही यह भावान्तर राशि भी किसानों को नहीं दी गई। जिससे किसानों को कोई फायदा नहीं हुआ।

2200 करोड़ का अंशदान जमा किया :

किसान भाईयों को अपनी जमा हुई राशि की जानकारी लेने बैंको के या सोसायटियों के चक्कर ना लगना पड़े इसके लिये मेरे द्वारा सभी ग्रुपो में व्हाट्सअप पर 1900 पेज की नागदा-खाचरौद तहसील की पीडीएफ फाईल भी भेज रहा हूँ। जिसमें प्रत्येक गांव के प्रत्येक किसान की मुआवजा राशि एवं संबंधित बैंक की जानकारी आपको उपलब्ध रहेगी। शेखावत ने बताया कि वर्तमान में जो बीमा किसानो को मिल रहा है वह इसलिये मिल रहा है कि मध्यप्रदेश सरकार का अंशदान जो तत्कालीन कांग्रेस के मुख्यमंत्री माननीय कमलनाथजी द्वारा 2200 करोड़ डालना था वह नहीं डाला गया। जिसे भाजपा सरकार के मध्यप्रदेश में आते ही मार्च 2020 में माननीय मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के द्वारा 2200 करोड़ का अंशदान जमा किया गया। इसीका परिणाम है कि आज 142 करोड़ रूपये क्षेत्र के किसानों को भुगतान हुए है। इसके लिये देश के प्रधानमंत्री माननीय नरेन्द्रजी मोदी, माननीय कृषि मंत्री नरेन्द्रसिंहजी तोमर, केन्द्रीय मंत्री थावरचंद गेहलोत, मध्यप्रदेश के कृषि मंत्री कमलजी पटेल, अनिल फिरोजिया सांसद उज्जैन का आभार माना है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co