सीधी : बस पीड़ितों के परिजनों से मिले मुख्यमंत्री, कई अफसरों पर गिरी गाज
बस पीड़ितों के परिजनों से मिले मुख्यमंत्रीSocial Media

सीधी : बस पीड़ितों के परिजनों से मिले मुख्यमंत्री, कई अफसरों पर गिरी गाज

सीधी, मध्य प्रदेश : सीएम चौहान बस हादसे में मृत लोगों के घर पहुंचे और परिजनों को ढाढस बंधाया। कुछ जगह परिजन उनसे लिपटकर रो पड़े, तो शिवराज भावुक हो गए।

सीधी, मध्य प्रदेश। प्रदेश के सीधी जिले में मंगलवार सुबह यात्रियों से भरी बस बाणसागर बांध की मुख्य नहर में गिरने के बाद बुधवार सुबह चार और शव नहर से निकाले गए, इसके साथ ही मृतकों की संख्या 51 पहुंच गई है। प्रशासन के अनुसार अब कोई लापता नहीं है। श्री चौहान मंगलवार को ही यहां आने वाले थे, लेकिन राहत एवं बचाव कार्य प्रभावित नहीं हों, इसलिए वे मंगलवार के स्थान पर बुधवार यहां पहुंचे और प्रभावितों से मुलाकात का क्रम दिन भर के बाद देर रात तक चला।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बुधवार दोपहर करीब 2:15 बजे सीधी के रामपुर नैकिन पहुंचे। सीएम चौहान बस हादसे में मृत लोगों के घर पहुंचे और परिजनों को ढाढस बंधाया। कुछ जगह परिजन उनसे लिपटकर रो पड़े, तो शिवराज भावुक हो गए। इस दौरान उन्हें परिवार के गुस्से का भी सामना करना पड़ा। एक परिवार ने जाते-जाते उनसे कहा कि रहम मत कीजिए। सस्पेंड करना समाधान नहीं। जिम्मेदार रोड और पुलिसवालों को पद से हटाइए।

हादसे को लेकर शिवराज के सख्त तेवर, इनपर गिरी गाज :

सीधी में हुए बस हादसे के बाद एमपीआरडीसी के अधिकारी जिनकी जिम्मेदारी रोड मेंटेनेंस की थी उन्हें तत्काल प्रभाव से सस्पेंड किया गया है। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने बैठक में सीधी आरटीओ एसपी दुबे को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया है। एमपीआरडीसी के डिविजनल मैनेजर, एजीएम और मैनेजर को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया गया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार रात 10:00 बजे कलेक्टर ऑफिस सीधी में आईजी और कमिश्नर के साथ जिला प्रशासन के अधिकारियों की बैठक ली। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सीधी कलेक्ट्रेट में जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ बैठक में कहा कि घटना हृदय विदारक घटना से मैं अंदर से व्यथित हूँ और इसे बेहद गंभीरता से ले रहा हूं। मैं दिन भर से जनता को सुन रहा हूं। इस बैठक में रीवा कमिश्नर आईजी उपस्थित हैं। बैठक में सीएम के सख्त तेवर रहे और वो सिलसिलेवार जानकारी लेते रहे। बैठक में जिला प्रशासन और एमपीआरडीसी से लगातार सवाल जवाब हुए। इससे पहले सीएम ने बुधवार दोपहर सीधी नहर हादसे में मारे गए और जीवित बचे हुए लोगों के परिजनों से मुलाकात की। मुख्यमंत्री अब तक रामपुर नैकिन, चुरहट, पचोखर, पड़रिया, कुकरझर, संझहा, गांधीग्राम, गाड़ा खोह, बुदरहा, अमहवा सहित कई गांव पहुंचकर मृत व्यक्तियों के परिवारजनों से मिलकर अपनी संवेदनाएं व्यक्त कर चुके है एवं सहायता राशि 7 लाख रुपए के चेक प्रदान कर चुके हैं।

कलेक्टर ऑफिस सीधी में आईजी और कमिश्नर के साथ जिला प्रशासन के अधिकारियों की बैठक ली।
कलेक्टर ऑफिस सीधी में आईजी और कमिश्नर के साथ जिला प्रशासन के अधिकारियों की बैठक ली।Social Media

रात्रि विश्राम रीवा में ही किया :

जिले में बस हादसे के प्रभावितों से मिलने पहुंचे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान देर रात तक प्रभावितों से उनके निवास पर जाकर मिले और वे रात्रि विश्राम यहीं पर करेंगे। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार श्री चौहान रात्रि विश्राम यहीं किया और इसके पहले वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक ली। गुरुवार सुबह भी वे शेष प्रभावित परिवारों से मुलाकात कर सकते हैं।

बस ड्राइवर गिरफ्तार :

सीधी बस हादसे में पुलिस ने ड्राइवर बालेन्दु को गिरफ्तार कर लिया है। ड्राइवर का कहना है कि अचानक बस में आवाज आई और वह सड़क से उतरकर नहर में चली गई। मेरे पहले एक लड़की बस से निकली और फिर मैं, ग्रामीणों ने रस्सी के जरिए हमें बाहर निकाला। घटना के बाद से ड्राइवर फरार हो गया था, जिसे पुलिस ने दबिश देकर पकड़ा है।

सीएम का काफिला भी दुर्घटनाग्रस्त, हादसे के बाद गाड़ी क्षतिग्रस्त हो गई :

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के काफिले में बड़ा हादसा होने से बच गया। काफिले में शामिल सीधी एसपी की गाड़ी ने मंत्री रामखेलावन पटेल की गाड़ी को टक्कर मार दी। इसके बाद मंत्री की गाड़ी ने आईजी रीवा की गाड़ी को मारी टक्कर मार दी। हालांकि किसी को चोट नहीं आई।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co