झांकी के पास करंट लगने से बच्चे की मौत
झांकी के पास करंट लगने से बच्चे की मौतSocial Media

Bhopal : बिजली विभाग की लापरवाही के चलते झांकी के पास करंट लगने से बच्चे की मौत

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से एक और करंट लगने का मामला सामने आया है।इस मामले के तहत करंट लगने के चलते एक मासूम बच्चे की जान चली गई। इस हादसे के बाद परिवार में मातम सा छा गया है।

भोपाल, मध्य प्रदेश। देश-दुनिया में कोरोना काल से मौत की खबरें सामने आने का सिलसिला कुछ हद तक कम हो गया है। अब लोगो की जान कोरोना के चलते नहीं जा रही है तो, किसी न किसी अन्य कारण के चलते जा रही है। इन कारणों में सड़क हादसे, आत्महत्या के मामले या किसी कोई अन्य दुर्घटना शामिल है। वहीं, अब मध्य प्रदेश के भोपाल से एक और मामला सामने आया है। यह मामला करंट लगने के चलते एक मासूम बच्चे की जान जाने का है। इस हादसे के बाद परिवार में मातम सा छा गया है।

क्या है मामला ?

दरअसल, मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से करंट लगने का एक मामला सामने आया है। इस हादसे के तहत एक 7 साल के बच्चे की करंट लगने से मौत हो गई है। इस हादसे का जिम्मेदार बिजली विभाग की लापरवाही को भी बताया जा रहा है। ऐसा इसलिए क्योंकि, यह हादसा गणेश जी की झांकी के पास करंट लगने से हुआ है और इस मामले से पहले भी यहां करंट लगने की खबर सामने आई थी, जिसके बाद बिजली विभाग को इस बारे में जानकारी दी गई थी, लेकिन बिजली कर्मचारियों ने बिजली के खंभे पर ध्यान नहीं दिया था। इसके बाद मंगलवार को यहां यह हादसा हो गया। इस घटना के सामने आने के बाद पूरे मौहल्ले में अफरातफरी मच गई। लोग मिलकर बिजली विभाग की लापरवाही को जिम्मेदार ठहराते हुए हंगामा करने लगे।

झांकी के पास करंट लगने से बच्चे की मौत :

बताते चलें, यह मामला कमला नगर थाना इलाके का बताया जा रहा है। खबरों के अनुसार, यह बच्चा घर के पास ही लगी गणेश जी की झांकी के पास झांकी देखने गया था। इतने में वह बिजली के खंबे के पास पहुंच गया। बच्चे ने ध्यान नहीं दिया। जब बच्चे को अचानक करंट से जोरदार झटका लगा तो वह बेहोश होकर गिर गया था। जब बच्चे उसे अस्पताल लेकर पहुंचे, तो वहां डाक्टरों ने बच्चे को मृत घोषित कर दिया। इस बच्चे की पहचान नेहरू नगर वार्ड कार्यालय के पास रहने वाले 7 साल के मोहित कुमार नाम से हुई है। वह कक्षा चौथी में पड़ता था। मोहित अपने मां और पिता का इकलौता बेटा था।

रहवासियों और पूर्व पार्षद ने बताया :

रहवासियों ने बताया है कि, 'बिजली के खंभे के अर्थिंग वाले तार में कई दिनों से करंट आ रहा था। शिकायत करने के बाद भी बिजली विभाग के कर्मचारियों ने सुनवाई नहीं की।' मौके पर पहुंची पूर्व पार्षद संतोष कंसाना ने बताया कि, 'वार्ड कार्यालय के पीछे पार्क के पास मोहल्ले के बच्चों ने गणेश उत्सव रखा था। मोहित रात में घर से निकलकर झांकी के लिए निकला था। पार्क के द्वार पर बिजली का खंभा लगा हुआ है। बच्चा खंभे के अर्थिंग तार के संपर्क में आ गया। इससे उसे जोर का झटका लगा और बेसुध हो गया। वहां मौजूद लोग उसे अस्पताल लेकर गए। जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।'

आये दिन सामने आ रहे है ऐसे मामले :

बताते चलें, प्रदेश में इस तरह की घटनाएं अब आए दिन सामने आ रही है। बीते दिन ही भोपाल के गोविंदपुरा इलाके में रहने वाले 8 साल के बच्चे की करंट लगने से मौत की खबर सामने आई थी। इस मामले के तहत बच्चे की मौत नहाकर आने के बाद गीले हाथ से कूलर छू लेने के चलते हुई थी।

करंट से बचने के लिए क्या करें :

  • बिजली से चलने वाली चीजों को छूने से पहले चप्पल जरूर पहनें।

  • बिजली का बटन बंद करने के बाद ही बिजली का काम करें।

  • यदि आपके सामने किसी को करंट लगा है, तो उसे बचाने के लिए उसे छुए नहीं बल्कि, बिजली के कनेक्शन खत्म करने की कोशिश करें।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co