उज्जैन में CM ने की घोषणा
उज्जैन में CM ने की घोषणाSocial Media

उज्जैन में CM ने की घोषणा- हरसिद्धि मंदिर से महाकाल मार्ग को अब संत सत्यमित्रानंद के नाम से जाना जाएगा

उज्जैन, मध्यप्रदेश। आज सीएम ने समन्वय परिवार के आश्रम में भारत माता मंदिर के संस्थापक स्वामी सत्यमित्रानंद गिरी महाराज की प्रतिमा का अनावरण किया। इस अवसर पर कही ये बात...

उज्जैन, मध्यप्रदेश। आज मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान महाकाल की नगरी उज्जैन में है, यहां सीएम शिवराज ने उज्जैन के नरसिंह घाट के समीप शंकराचार्य मठ के पास समन्वय परिवार के आश्रम में भारत माता मंदिर के संस्थापक स्वामी सत्यमित्रानंद गिरी महाराज की प्रतिमा का अनावरण किया। इस अवसर पर महामंडलेश्वर के आचार्य महाराज व अन्य साधु संतजन उपस्थित थे।

श्रीस्वामी सत्यमित्रानंद गिरि महाराज का अवतरण महोत्सव :

उज्जैन में आयोजित श्रीस्वामी सत्यमित्रानंद गिरि महाराज का अवतरण महोत्सव में सीएम शिवराज ने कहा कि, परमपूज्य गुरुदेव सत्यमित्रानंद गिरि जी महाराज के चेहरे पर तेज था। उनकी वाणी में ओज था।मैंने विवेकानंद जी को प्रत्यक्ष रूप से कभी नहीं सुना, लेकिन जब परमपूज्य गुरुदेव बोलते थे तो ऐसा लगता था कि साक्षात स्वामी विवेकानंद जी बोल रहे हों। ऐसे गुरु के चरणों में बारंबार प्रणाम करता हूं।

अवतरण महोत्सव में मुख्यमंत्री ने की घोषणा-

आज उज्जैन में श्रीस्वामी सत्यमित्रानंद गिरि जी महाराज के अवतरण महोत्सव में मुख्यमंत्री ने घोषणा की है कि हरसिद्धि मंदिर से महाकाल मार्ग को अब संत सत्यमित्रानंद जी के नाम से जाना जायेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि, हम सब सौभाग्यशाली हैं कि परम पूज्य गुरुदेव स्वामी सत्यमित्रानंद गिरी जी महाराज की समन्वय निलयम की कल्पना आज साकार हुई है, और हम सब उस कार्यक्रम में उपस्थित हैं। हम सबके प्रेरणास्रोत श्रीस्वामी सत्यमित्रानंद गिरि जी महाराज ने भारत माता के अद्भुत मंदिर का निर्माण कराया है, ऐसे दिव्य मंदिर को देखो तो बस देखते रह जाओ। मैं परमपूज्य गुरुदेव के चरणों में प्रणाम करता हूं।

सीएम शिवराज ने कही ये बातें

  • मैंने विवेकानंद जी को बोलते हुए प्रत्यक्ष रूप से कभी नहीं सुना, लेकिन जब-जब परम पूज्य गुरुदेव को सुनते थे तो लगता है कि साक्षात स्वामी विवेकानंद जी बोल रहे हैं।

  • श्रीस्वामी सत्यमित्रानंद गिरि जी महाराज जी के चरणों में बारंबार प्रणाम करता हूं। हमारा देश, हमारी संस्कृति उन्हीं के आशीर्वाद से आगे बढ़ रही है। उनका आशीर्वाद सर्वदा हम सब पर बना रहे, यही प्रार्थना करता हूं।

  • परम पूज्य गुरुदेव की प्रतिमा हमेशा आंखों के सामने रहती है उनके चेहरे पर तेज था, उनकी वाणी में ओज था।

  • मुझे याद है कि परम पूज्य गुरुदेव श्री स्वामी सत्यमित्रानंद गिरी जी महाराज महाकुंभ संकल्प में बेटियों को सोने का लॉकेट पहनाते थे l धर्मांतरण जैसे प्रयासों के खिलाफ उन्होंने जागरूकता फैलाने का काम किया था।

  • उज्जैन के लालपुर भगतसिंह से हरसिद्धि माता मंदिर चौराहे तक बने सड़क मार्ग को स्वामी सत्यमित्रानंद गिरि जी महाराज मार्ग के नाम से जाना जाएगा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co