सीएम कैबिनेट की बैठक आज, इन प्रस्तावों पर लग सकती है मुहर
सीएम कैबिनेट की बैठक आज, इन प्रस्तावों पर लग सकती है मुहरSocial Media

सीएम कैबिनेट की बैठक आज, इन प्रस्तावों पर लग सकती है मुहर

आज मंत्रालय में 11:00 बजे सीएम शिवराज कैबिनेट की बैठक होगी, इस बैठक में कई महत्वपूर्ण प्रस्तावों को मंजूरी मिल सकती हैं।

हाइलाइट्स

  • आज सीएम शिवराज सिंह चौहान की कैबिनेट बैठक

  • आज मंत्रालय में 11: 00 बजे होगी कैबिनेट की बैठक

  • फर्नीचर क्लस्टर को सुविधा मिलने वाले प्रस्ताव पर लग सकती है मुहर

  • ओबीसी मामले को लेकर हो सकती है चर्चा

  • कई महत्वपूर्ण प्रस्तावों को कैबिनेट की मिल सकती है मंजूरी

भोपाल, मध्यप्रदेश। मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) लगातार बैठक कर रहे हैं। इस बीच आज प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 11:00 बजे कैबिनेट मंत्रियों की बैठक बुलाई है, जिस दौरान कई अहम प्रस्तावों को मंजूरी मिल सकती है।

बैठक में इन मुद्दों पर होगी चर्चा :

इस संबंध में, सीएम शिवराज की कैबिनेट बैठक के दौरान कई महत्वपूर्ण प्रस्तावों को मंजूरी मिल सकती है। मिली जानकारी के मुताबिक नक्सल प्रभावित बालाघाट, मंडला, डिंडौरी जिलों में सूचना तंत्र को पुख्ता करने के लिए सरकार विशेष सहयोगी दस्ता तैयार करेगी, स्थानीय मूल निवासियों को सहयोगी के तौर पर नियुक्त किया जाएगा। गृह विभाग ने तैयार किया प्रस्ताव पर आज मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में प्रस्तावित कैबिनेट में अंतिम निर्णय लिया जा सकता है।

बता दें, बालाघाट में बैहर, बिरसा, परसवाड़ा, लांजी और किरनापुर विकासखंड नक्सल प्रभावित हैं। यहां सर्वाधिक 80 सहयोगी नियुक्त किए जाएंगे। डिंडौरी में बजाग, धमनापुर और करंजिया विकासखंड के लिए 40 और मंडला जिले में बिछिया व मवई विकासखंड में 30 सहयोगी नियुक्त करना प्रस्तावित है। नियुक्ति के लिए शारीरिक दक्षता परीक्षा होगी। चयनित उम्मीदवार का साक्षात्कार होगा।

इसके अलावा मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना (MP Kanya Vivah Yojana) में दी जाने वाली सामग्री की व्यवस्था आफलाइन टेंडर के माध्यम से की जाएगी। इसके लिए सरकार भंडार क्रय नियम में जुलाई 2022 तक छूट देने जा रही है।

-फर्नीचर क्लस्टर को सुविधा मिलने वाले प्रस्ताव पर लग सकती है मुहर

-लाड़ली लक्ष्मी योजना 2.0 का अनुसमर्थन

-राजधानी भोपाल में 50 बिस्तर क्षमता के पुलिस अस्पताल का निर्माण

-अन्य पिछड़ा वर्ग आरक्षण पर हो सकती है चर्चा

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.