CM ने ग्वालियर, चंबल संभाग एवं विदिशा जिले के बाढ़ प्रभावितों को वितरित की राहत राशि
CM ने वितरित की राहत राशि Syed Dabeer Hussain - RE

CM ने ग्वालियर, चंबल संभाग एवं विदिशा जिले के बाढ़ प्रभावितों को वितरित की राहत राशि

भोपाल, मध्यप्रदेश: आज एमपी के मुख्यमंत्री ने पूर्ण क्षतिग्रस्त मकानों के पुनर्निर्माण एवं अन्य क्षतियों की पूर्ति हेतु 31.51 करोड़ रुपए की राहत राशि का सिंगल क्लिक के माध्यम से वितरण किया।

भोपाल, मध्यप्रदेश। प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) लगातार कई जिलों का दौरा, बाढ़ राहत कार्यों की समीक्षा कर रहे हैं, वहीं बाढ़ प्रभावितों को राहत राशि वितरित की जा रही है, इस बीच आज फिर सीएम शिवराज सिंह चौहान ने मध्यप्रदेश के ग्वालियर, चंबल संभाग एवं विदिशा ज़िले के बाढ़ प्रभावितों को राहत राशि का वितरण किया।

CM द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ग्वालियर, चंबल संभाग एवं विदिशा जिले में बाढ़ राहत राशि का वितरण

आज सीएम ने 31.51 करोड़ रुपए की राहत राशि का किया वितरण :

मिली जानकारी के मुताबिक आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पूर्ण क्षतिग्रस्त मकानों के पुनर्निर्माण एवं अन्य क्षतियों की पूर्ति हेतु 31.51 करोड़ रुपए की राहत राशि का सिंगल क्लिक के माध्यम से वितरण किया। इस अवसर पर नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भी उपस्थित रहे।

CM चौहान ने ट्वीट कर कहा

इस बीच सीएम शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर कहा कि यह समय संकट का है, एक तरफ बाढ़ और दूसरी तरफ सूखे का संकट। मध्य प्रदेश में 17-18 जिले ऐसे हैं, जहां कम वर्षा के कारण बांध खाली पड़े हैं। अभी कोरोना की तीसरी लहर की संभावना कई जगह से जताई जा रही है। लेकिन मेरा मानना है नेतृत्व की परीक्षा भी कठिन समय में होती है।

कई कठिनाइयों से हम जूझ रहे हैं। लेकिन एक ही संकल्प है मन में कि हम हर परिस्थिति में अपनी जनता की बेहतर सहायता करेंगे और संकट के पार निकालकर अपनी जनता को ले जाएंगे।

CM चौहान ने कहा

आगे सीएम शिवराज ने ट्वीट कर कहा- "लगभग एक लाख 27 हजार बाढ़ पीड़ितों के खातों में लगभग 110 करोड़ रुपए हम डाल चुके हैं, बाकी सामाजिक संस्थाओं से मिली सहायता अलग है। फसल के नुकसान के पैसे अलग से आरबीसी 6 (4) के अंतर्गत आएंगे। कोशिश यह थी कि संकट के समय अपनी जनता को कोई परेशानी न हो, जितने तरह के नुकसान हुए हैं, उन नुकसानों से जनता की जिंदगी प्रभावित न हो पाए और जिंदगी की गाड़ी पटरी पर चलती रहे। इसलिए सारी सहायता करने का प्रयास किया है।"

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co