Bhopal : खाद वितरण में अव्यवस्था को लेकर सीएम ने जताई नाराजगी
खाद वितरण में अव्यवस्था को लेकर सीएम ने जताई नाराजगीSocial Media

Bhopal : खाद वितरण में अव्यवस्था को लेकर सीएम ने जताई नाराजगी

भोपाल, मध्यप्रदेश : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दमोह, छतरपुर, गुना, बीना में खाद के वितरण को लेकर हुई अव्यवस्था पर गहरी नाराजगी जताई है।

भोपाल, मध्यप्रदेश। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दमोह, छतरपुर, गुना, बीना में खाद के वितरण को लेकर हुई अव्यवस्था पर गहरी नाराजगी जताई है। उन्होंने कहा है कि खाद की उपलब्धता तो है, लेकिन अफसर वितरण व्यवस्था नहीं बना पा रहे हैं। इस कारण ही किसानों को परेशानी हो रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में यूरिया, डीएपी, एनपीके और सिंगल सुपर फास्फेट की पर्याप्त उपलब्धता है। भारत सरकार द्वारा भी लगातार रैक भेजे जा रहे हैं। सभी किसानों को आवश्यकतानुसार उर्वरक उपलब्ध होगा।

मुख्यमंत्री चौहान मंत्रालय में रबी 2021-22 के लिए प्रदेश में उर्वरक व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे। कृषि मंत्री कमल पटेल बैठक में वर्चुअली शामिल हुए। इस दौरान मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि जिले में पेक्स तथा प्रायवेट रिटेलर पाइंट्स अधिक से अधिक संख्या में चालू रहें। रिटेलर पाइंट्स पर गत वर्ष के विक्रय के अनुसार प्रतिमाह खाद पहुंचाना सुनिश्चित किया जाए। सोसायटियों के माध्यम से किसानों को खाद उपलब्ध कराएं, जिससे मार्कफेड के डबल लॉक पर अधिक भीड़ न लगे। सभी विक्रय पीओएस के माध्यम से हों। मुख्यमंत्री ने कहा कि गैर कृषकों को खाद नहीं बेची जाए और कालाबाजारी पर नियंत्रण आवश्यक है। कालाबाजारी जैसी गतिविधि में लिप्त पाए जाने वाले व्यक्ति पर कठोरतम कार्यवाही करते हुए रासुका लगाया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि एनपीके और एसएसपी को बढ़ावा देना आवश्यक है। स्थानीय स्तर पर कृषि वैज्ञानिकों और कृषि विज्ञान केन्द्र के माध्यम से इससे संबंधित जानकारियों का प्रचार-प्रसार किसानों में किया जाए। इसके लिए स्थानीय स्तर पर सक्रिय किसानों के वॉट्सएप ग्रुप तथा अन्य सोशल मीडिया और इलेक्ट्रानिक मीडिया का उपयोग भी किया जाना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि हम केन्द्र के निरंतर सम्पर्क में हैं। प्रदेश को उर्वरक के पर्याप्त रैक प्राप्त हो रहे हैं।

कलेक्टर प्रत्येक स्तर पर किसानों से जीवंत संवाद में रहें :

मुख्यमंत्री ने कहा कि जिला कलेक्टर प्रत्येक स्तर पर किसानों से जीवंत संवाद में रहें और उन्हें आश्वस्त करें कि खाद की कमी की स्थिति नहीं है। आवश्यकता के अनुसार सभी को खाद उपलब्ध होगी। चौहान ने सागरए शिवपुरी और आगर-मालवा के कलेक्टरों से भी उर्वरक की उपलब्धता तथा वितरण व्यवस्था के संबंध में जानकारी ली। बैठक में जानकारी दी गई कि नवम्बर माह की औसत आवश्यकता के अनुसार यूरिया, डीएपी, एनपीके और एसएसपी उपलब्ध करा दी गई है। अक्टूबर 2021 में अक्टूबर 2020 की तुलना में एनपीके और एसएसपी का अधिक विक्रय हुआ है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co