सीएम का जनता के नाम संदेश: आंगनबाड़ियों से जुड़े समाज और संकल्प लें कि हर बच्चा स्वस्थ हो

भोपाल, मध्यप्रदेश। आज प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जनता को संबोधित करते हुए मध्यप्रदेश के भाई-बहनों के नाम ये महत्वपूर्ण संदेश दिया है।
सीएम का जनता के नाम संदेश
सीएम का जनता के नाम संदेशSocial Media

भोपाल, मध्यप्रदेश। आज सीएम शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने प्रदेश की जनता को संबोधित करते हुए मध्यप्रदेश के भाई-बहनों के नाम ये महत्वपूर्ण संदेश दिया है।

मुख्यमंत्री द्वारा प्रदेश की जनता के नाम संदेश

आज सुबह सीएम ने अपने संदेश में कहा-

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज सुबह प्रदेश की जनता के नाम अपने करीब दस मिनट के संदेश में कहा- समाज का हर वर्ग आंगनबाड़ियों से जुड़ कर देश के भविष्य से जुड़े और संकल्प ले कि हर बच्चा स्वस्थ हो, उन्होंने कहा कि इस अभियान में किसान अनाज, व्यापारी सामग्री और अन्य काम में लगे लोग अपने सामर्थ्य के अनुरूप आंगनबाड़ियों की जरूरतों को पूरा करने में सामान दे सकते हैं। उन्होंने अपील की कि लोग अपना जन्मदिन या माता-पिता की पुण्यतिथि जैसे अवसरों को आंगनवाड़ी के बच्चों के साथ मना सकते हैं।

इसके साथ ही उन्होंने अपील की है कि लोग अपना जन्मदिन या माता-पिता की पुण्यतिथि जैसे अवसरों को आंगनबाड़ी के बच्चों के साथ मना सकते हैं। जो लोग ऐसा नहीं कर पाते, वे बच्चों के लिए सामान इकट्ठा करने के कार्य में भी सहयोग कर सकते हैं। ये सामग्री इकट्ठी कर आंगनबाड़ी के बच्चों को भेंट कर दीजिए। CM ने लोगों से हर बच्चे के संपूर्ण स्वस्थ होने के अभियान का संकल्प लेने की भी अपील की।

बच्चे हमारे देश का भविष्य और वर्तमान दोनों हैं। स्वस्थ, शिक्षित और संस्कारित बच्चे समर्थ राष्ट्र का निर्माण करते हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में एक वैभवशाली और शक्तिशाली भारत के निर्माण का महायज्ञ चल रहा है। उसकी पूरी सफलता के लिए जरूरी है कि बच्चे स्वस्थ रहें।
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

सीएम ने कहा कि, आंगनबाड़ी माध्यम है बच्चों को स्वस्थ रखने, सुशिक्षित करने, बेहतर संस्कार देने और उनकी बेहतर ग्रोथ का; लेकिन आंगनबाड़ी केवल सरकार की जवाबदारी नहीं है, सरकार संसाधन जुटा रही है, पोषण आहार भेज रही है, व्यवस्थाएं बना रही है, लेकिन समाज की भी तो कोई जवाबदारी है। मेरी, हमारी, आपकी क्या अपने बच्चों के प्रति कोई जवाबदारी नहीं है? और इसलिए हमने सोचा कि आंगनबाड़ी केवल सरकार न चलाये, सरकार के साथ समाज को भी जोड़ा जाये। इसलिए हमने आंगनबाड़ी गोद लें अभियान प्रारंभ किया, कई लोगों ने आंगनबाड़ी गोद ली, लेकिन कुछ व्यक्ति ही आंगनबाड़ी गोद क्यों लें? वे अपना काम करेंगे, लेकिन हम भी तो आंगनबाड़ी से जुड़ें।

आंगनबाड़ी में संपूर्ण पोषण आहार मिले, शिक्षा देने की व्यवस्था ठीक हो, खेलकूद की व्यवस्था की जाये, आज इसकी आवश्यकता है। इसी को ध्यान में रखते हुए आंगनबाड़ी को समाज से जोड़ने के लिए, आंगनबाड़ियों में संपूर्ण संसाधन की व्यवस्था के लिए मैं भोपाल में हाथ ठेला लेकर निकला था, बच्चों के लिए खिलौने और अन्य सामग्री एकत्रित करने के लिए। सीएम बोले- मैं यह बताते हुए भावविभोर हूं, लोगों ने दोनों हाथ खोल कर दिया। मैं तो हाथ ठेला लेकर निकला था, लेकिन खिलौनों से ट्रक भर गये, अनेक प्रकार की सामग्री आ गई, लाखों रुपये आ गये, मेरा उत्साह और बढ़ गया। समाज को आंगनबाड़ी से जोड़ने का अभियान अब एक सामाजिक आंदोलन बन रहा है।

शेष आवश्यकताओं की पूर्ति हम करेंगे, समाज करेगा। ये आंगनबाड़ी से समाज को जोड़ने का अभियान है, बच्चों को स्वस्थ, शिक्षित और संस्कारित बनाने का महायज्ञ है, आप भी इसमें अपनी आहुति डालिये। बहुत-बहुत धन्यवाद!

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co