CM ने किया पौधरोपण
CM ने किया पौधरोपणSocial Media

कामताशील जन युवा कल्याण समिति के सदस्यों के साथ CM ने किया पौधरोपण, स्मार्ट पार्क में लगाए 2 पौधे

भोपाल, मध्यप्रदेश। पौधारोपण की परंपरा को आगे बढ़ाते हुए आज मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने चौहान ने कामताशील जन युवा कल्याण समिति के सदस्यों के साथ पौधरोपण किया है।

भोपाल, मध्यप्रदेश। पौधारोपण की परंपरा को आगे बढ़ाते हुए आज मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कामताशील जन युवा कल्याण समिति के सदस्यों के साथ पौधरोपण किया और भोपाल के स्मार्ट सिटी उद्यान में कचनार और सप्तपर्णी के पौधे लगाए है। इस अवसर पर सीएम शिवराज ने कहा है कि, आने वाली पीढ़ियों के लिए वृक्षारोपण पृथ्वी बचाने का सबसे अहम संदेश है।

मिली जानकारी के मुताबिक, आज सीएम शिवराज सिंह चौहान न स्मार्ट पार्क में कामताशील जन युवा कल्याण समिति के सदस्य राजन त्रिपाठी, संदीप तोमर, मयंक जोशी, सुनील चौहान, वंदना तिवारी और डॉ. जीवन के साथ कचनार और सप्तपर्णी के पौधे लगाए। इधर मुख्यमंत्री के साथ विवेक तिवारी ने अपने जन्मदिवस के शुभ अवसर पर नीम का पौधा लगाया। मुख्यमंत्री ने विवेक को जन्मदिन पर स्वस्थ और सुदीर्घ जीवन के लिए शुभकामनाएं दी।

इन पाैधों के बारे में जानकारी देते हुए CM ने कहा-

आज लगाया गया कचनार सुंदर फूलों वाला वृक्ष है। प्रकृति ने कई पेड़-पौधों को औषधीय गुणों से भरपूर रखा है, इन्हीं में से कचनार एक है। एंटीबायोटिक तत्वों से भरपूर नीम को सर्वोच्च औषधि के रूप में जाना जाता है। सप्तपर्णी का पौधा सदाबहार औषधीय वृक्ष है, जिसका आयुर्वेद में बहुत महत्व है।

प्रतिदिन पौधारोपण कर रहे मुख्यमंत्री शिवराज :

बताते चलें कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान प्रतिदिन पौधारोपण कर रहे हैं और लोगों को पर्यावरण संरक्षण के लिए प्रेरित कर रहे हैं। एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का कहना है कि, यदि धरती को बचाना है तो हमें पर्यावरण बचाना पड़ेगा, पेड़ लगाने पड़ेंगे, धरती सिर्फ मनुष्य मात्र के लिए नहीं है, यह जीव जंतु और पशु पक्षियों के लिए भी उतनी ही महत्वपूर्ण है।

हर पौधे में केवल जीवन नहीं, बल्कि यह जीवन देने वाले भी हैं। आइये प्राणवायु प्रदान करने वाले पौधों को रोपें ओर जीवन को समृद्ध करें।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co