सीएम ने विधानसभा के मानसरोवर सभा कक्ष में "बिछड़े कई बारी बारी" पुस्तक का किया विमोचन
सीएम ने "बिछड़े कई बारी बारी" पुस्तक का किया विमोचनSocial Media

सीएम ने विधानसभा के मानसरोवर सभा कक्ष में "बिछड़े कई बारी बारी" पुस्तक का किया विमोचन

भोपाल, मध्यप्रदेश। CM ने विधानसभा के मानसरोवर सभा कक्ष में "बिछड़े कई बारी बारी" पुस्तक का विमोचन किया है। इस अवसर पर दिवंगत पत्रकारों को श्रद्धांजलि अर्पित की।

भोपाल, मध्यप्रदेश। एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विधानसभा (Assembly) के मानसरोवर सभा कक्ष में "बिछड़े कई बारी बारी" पुस्तक का विमोचन किया हैं। इस अवसर पर एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने दिवंगत पत्रकारों स्वर्गीय शिव अनुराग पटेरिया, स्वर्गीय राजकुमार केसवानी सहित अन्य को श्रद्धांजलि अर्पित की।

सीएमओ (CMO) ने किया ट्वीट

सीएमओ (CMO) ने ट्वीट कर कहा कि मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विधानसभा के मानसरोवर सभा कक्ष में विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम (Girish Gautam) , नेता प्रतिपक्ष कमलनाथ (Kamal Nath) एवं विधानसभा के अन्य सम्मानीय सदस्यों के साथ "बिछड़े कई बारी बारी" पुस्तक का विमोचन किया है।

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कही ये बात

विधानसभा के मानसरोवर सभा कक्ष में "बिछड़े कई बारी बारी" पुस्तक का विमोचन कर मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि, कोरोना काल में दिवंगत पत्रकारों पर केंद्रित यह पुस्तक है, फिर न लिखनी पड़े, ऐसे प्रयास हों। कोरोना संकट से निपटने में मीडिया ने भी प्रमुख भूमिका निभाई है। तीसरी लहर की आशंका के मद्देनजर मीडिया जागरुकता प्रसार की भूमिका का निर्वहन पुनः करेगा।

पुस्तक का संपादन पत्रकार देव श्रीमाली ने किया :

'बिछड़े कई बारी-बारी' पुस्तक का संपादन प्रदेश के वरिष्ठ पत्रकार देव श्रीमाली ने किया है। इस पुस्तक में प्रदेशभर के दिवंगत पत्रकारों का पत्रकारिता के क्षेत्र में योगदान और उनके जीवन के बारे में विस्तार से जानकारी देने की कोशिश की गई है। कोरोना काल में दिवंगत हुए पत्रकारों को यह पुस्तक सच्ची श्रद्धांजलि भी है।

आपको बताते चलें कि, 'बिछड़े कई बारी-बारी' पुस्तक के बारे में इसके संपादक कहते हैं कि कोरोना काल में कर्तव्य और सामाजिक दायित्वों का निर्वहन करते-करते संक्रमण की चपेट में आए और फिर दिवंगत हुए पत्रकारों के संघर्ष की कहानी कहती यह पुस्तक देश-दुनिया की पहली पुस्तक है, जो सिर्फ पत्रकारों के योगदान को बयां करती है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co