मुख्यमंत्री शिवराज का बयान
मुख्यमंत्री शिवराज का बयान|Social Media
मध्य प्रदेश

कांग्रेस बेरोजगारी भत्ते की बात करती थी, मैं रोजगार देकर दिखाऊंगा : सीएम

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भांडेर में सभा को संबोधित करते हुए पूर्व सीएम कमलनाथ पर साधा निशाना।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

मध्यप्रदेश। मध्यप्रदेश में एक तरफ कोरोना का संकट वही दूसरी तरफ मुख्यमंत्री शिवराज ने भांडेर, ज़िला दतिया में विभिन्न विकासकार्यों का भूमिपूजन एवं कार्यक्रम लोकार्पण किया। बता दे कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भांडेर में सभा को संबोधित करते हुए पूर्व सीएम कमलनाथ पर साधा निशाना।

मुख्यमंत्री शिवराज ने भांडेर, ज़िला दतिया में राज्यसभा सांसद सिंधिया, प्रदेश शासन में गृहमंत्री मिश्रा सहित मंत्रिपरिषद के अन्य सदस्यों और जनप्रतिनिधियों के साथ विभिन्न विकासकार्यों का भूमिपूजन एवं लोकार्पण किया है। वही सभा मे मुख्यमंत्री ने कई मुद्दों पर दिया बयान। कमलनाथ पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी ने ज्योतिरादित्य सिंधिया का चेहरा जनता को दिखाकर कमलनाथ को मुख्यमंत्री बन दिया, बाद में कमलनाथ जी ने अपने साथियों के साथ मिलकर प्रदेश को बर्बाद कर दिया।

बेरोजगारी भत्ते को लेकर कही ये बात :

आगे मुख्यमंत्री शिवराज ने कहा कि कांग्रेस ने किसानों, युवाओं, बहनों को धोखा दिया। सभी कल्याणकारी योजनाओं को बंद कर विकास को ठेंगा दिखाया। कांग्रेस बेरोजगारी भत्ते की बात करती थी, मैं रोजगार देकर दिखाऊंगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं बुजुर्गों को तीर्थयात्रा करवाता था, कमलनाथ जी ने वो छीन ली! मैं बच्चों को लैपटॉप बाँटता था, कमलनाथ जी ने वो छीन लिया! मैं गरीबों के कफन-दफन की व्यवस्था करता था, कमलनाथ जी ने वह भी नहीं छोड़ा, वह भी छीन लिया।

आज साँवेर कमलनाथ सोयाबीन की फसल देखने खेत पर गए, इस पर बोले शिवराज

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री ने बोला कि कमलनाथ जी आज साँवेर में सोयाबीन की फसल देखने खेत पर गए। कमलनाथ ने मुख्यमंत्री रहते कभी किसान की फसलों की चिन्ता नहीं की। कमलनाथ जी काश तब किसानों की चिंता करते तो आज खेतोंं में नहीं जाना पड़ता। आज मैंने पढ़ा कि कमलनाथ जी सोयाबीन के खेते में गये। 15 महीने आपकी सरकार रही, तो जनता के बीच जाने की जहमत नहीं उठाई। आज किसानों के सामने घड़ियाली आंसू बहाने पहुंच गये ।

वही फसल बीमा योजना को लेकर बोले मुख्यमंत्री कहा कि कमलनाथ जी ने फसल बीमा योजना के प्रीमियम के 2,200 करोड़ रुपये जमा ही नहीं किये थे। हमने मुख्यमंत्री बनते ही यह प्रीमियम जमा किया जिससे किसानों को करीब 3,000 करोड़ रुपये का लाभ मिला।आगे शिवराज ने कहा कि हमने गरीब गर्भवती बहनों के लिए लड्डू के 16,000 रुपये की व्यवस्था की लेकिन कमलनाथ जी लड्डू के पैसे भी खा गए। बहनों अब चिंता मत करना, मैं लड्डू के पैसे वापस आपके लिए लेकर आया हूँ।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co