रोजगार के लिए हमारी 8 सूत्रीय रणनीति है: CM शिवराज सिंह चौहान
रोजगार के लिए हमारी 8 सूत्रीय रणनीति है: CM शिवराज सिंह चौहानSocial Media

रोजगार के लिए हमारी 8 सूत्रीय रणनीति है: CM शिवराज सिंह चौहान

MP के CM शिवराज सिंह चौहान ने आज राष्ट्रीय युवा दिवस के अवसर पर आयोजित रोजगार दिवस कार्यक्रम में कहा- अगर निश्चय कर लो, किसी भी चीज के बारे में लक्ष्य तय कर लो तो सफलता अवश्य मिलेगी।

भोपाल, मध्‍य प्रदेश। मध्‍य प्रदेश के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज बुधवार को राष्ट्रीय युवा दिवस के अवसर पर आयोजित रोजगार दिवस कार्यक्रम में शासन की विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत हितग्राहियों को ऋण राशि के स्वीकृति-पत्र प्रदान किये।

विवेकानंद के विचार मुझे नई ऊर्जा से भर देते हैं :

इस अवसर पर CM शिवराज सिंह चौहान ने कहा- 16 नवंबर से हमने यह अभियान प्रारंभ किया था। तब से अनेक भाई-बहनों को रोजगार मिल चुका है या मिल रहा है। यह हमारे लिए प्रसन्नता का विषय है कि, स्वामी विवेकानंद जी की जयंती के अवसर पर यह कार्यक्रम आयोजित हो रहा है। मैं बचपन से स्वामी विवेकानंद जी को पढ़ता रहा हूं। उनके विचार मुझे नई ऊर्जा से भर देते हैं। मैं सच कहता हूं अगर निश्चय कर लो, किसी भी चीज के बारे में लक्ष्य तय कर लो तो सफलता अवश्य मिलेगी।

रोज़गार के लिए हमारी 8 सूत्रीय रणनीति है :

CM शिवराज ने बताया कि, ''रोजगार के लिए हमारी 8 सूत्रीय रणनीति है। नई शिक्षा नीति का प्रभावी क्रियान्‍वयन कर कक्षा 6 वीं से ही रोज़गार मूलक शिक्षा प्रदान की जाए। शिक्षा और उद्योग जगत की मांग में गैप को भरने के लिए अंतर्राष्‍ट्रीय स्‍तर का कौशल प्रशिक्षण दिया जाए। रोज़गार चाहने वालों को नियोक्‍ताओं से जोड़ने के लिए ऑनलाईन प्‍लेटफार्म उपलब्ध कराया जाएगा। जिला एवं विकासखण्‍ड स्‍तर पर रोज़गार मेलों का नियमित आयोजन होगा। सरकारी भर्तियों के माध्‍यम से सार्वजनिक क्षेत्र में रोज़गार के अवसर बढ़ाये जाएंगे।''

प्रदेश में अधिक औद्योगिक निवेश लाकर नियोजन के अवसरों में वृद्धि की जा रही है। आर्थिक गतिविधियों के माध्‍यम से स्‍व रोज़गार हेतु विभिन्‍न योजनाओं के अंतर्गत ऋण एवं अन्‍य सुविधाएं मिल रही है। नए क्षेत्रों जैसे-वन,पर्यटन,श्रम,खनिज,सहकारिता आदि में रोज़गार के अवसर सृजित हो रहे हैं।

मध्‍य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

  • हमने आयुष चिकित्‍सा अधिकारी, संविदा लैब टेक्‍नीशियन, संविदा एसटीएलएस,संविदा महिला पोषक प्रशिक्षक, विकासखंड लेखा प्रबंधक, जिला चिकित्‍सालय लेखापाल, संविदा स्‍टाफ नर्स, संविदा एएनएम,मेडिकल कॉलेजों में चिकित्‍सक, नर्सिंग स्‍टाफ, पैरा मेडिकल स्‍टाफ और शिक्षकों की भर्ती की है।

  • मध्यप्रदेश में खनिज संपदा के साथ गेहूं, धान, फल, सब्जी आदि की देश ही नहीं, विदेश में भी मांग है। वन संपदा में भी हमारा प्रदेश अग्रणी है। हम इसे प्रोत्साहित करकर रोजगार के अवसरों को बढ़ावा दें।

  • भोपाल की जरदोजी और बुधनी के लकड़ी के खिलौने प्रसिद्ध हैं, इनके सामान को हम खरीदें और माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के लोकल को वोकल बनाने के संकल्प को साकार करें।

  • कृषि में मध्यप्रदेश निरंतर बेहतर प्रदर्शन कर रहा है। अब केवल कृषि पर निर्भर नहीं रहना है,बल्कि प्रदेश में लघु एवं कुटीर उद्योगों का जाल बिछा देना है। शासकीय विभागों और संस्थानों में भर्ती प्रक्रिया जारी है। शासकीय सेवा के अलावा स्व-रोजगार के अवसरों को बढ़ाने पर भी हमारा फोकस है।

  • मुझे कहते हुए गर्व है कि मध्यप्रदेश पीएम स्वनिधि योजना के क्रियान्वयन में नंबर एक पर है। यही नहीं ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को लाभान्वित करने के लिए हमने सीएम स्वनिधि योजना बनाई।

  • विगत दो माह में लगभग 5 लाख 26 हजार 510 लोगों को रोजगार की गतिविधियों से जोड़ने का कार्य किया गया है। यह काम यही नहीं रुकेगा। हर महीने रोजगार दिवस मनाकर हम लगभग एक लाख लोगों को रोजगार की गतिविधियों से जोड़ेंगे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co