बच्चे बाल श्रम, भीख ना मांगे उनका किसी तरह का शोषण ना हो, इस पर मैं काम करुंगा: CM शिवराज
CM शिवराज सिंह चौहानSocial Media

बच्चे बाल श्रम, भीख ना मांगे उनका किसी तरह का शोषण ना हो, इस पर मैं काम करुंगा: CM शिवराज

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज चाइल्ड कंजर्वेशन फाउंडेशन द्वारा आर.सी.व्ही.पी नरोन्हा प्रशासन अकादमी में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित किया।

भोपाल, भारत। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज रविवार को चाइल्ड कंजर्वेशन फाउंडेशन द्वारा आर.सी.व्ही.पी नरोन्हा प्रशासन अकादमी में आयोजित कार्यक्रम में शामिल हुए और कार्यक्रम को संबोधित किया।

आर.सी.व्ही.पी नरोन्हा प्रशासन अकादमी में आयोजित कार्यक्रम में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने संबोधन में कहा- केवल सरकार के प्रयास काफी नहीं हैं। बच्चों के कल्याण के लिए समाज को,आमजन को भी साथ जुड़ना चाहिए। सही प्लेटफॉर्म लोगों को मिल जाए, तो वे कसर नहीं छोड़ते। मैं ठेला लेकर निकला था लोगों ने 𝟏𝟎 ट्रक भर दिए। 𝟏 करोड़ 𝟖𝟔 लाख के चेक बच्चों के लिए दिए गए हैं। बाल कल्याण भी ऐसा विषय है जिसमें सरकार और समाज को मिलकर कार्य करना चाहिए। जो ड्राफ़्ट आपने मुझे बनाकर दिया है उसमें हम लोग मिलकर बेहतर काम करने का प्रयास करेंगे।

बच्चे बाल श्रम ना करें, भीख ना मांगे। उनका किसी तरह से शोषण ना हो। इस पर मैं काम करुंगा। इस पॉलिसी डॉक्यूमेंट में जो इम्प्लीमेंट करने लायक चीजें हैं उसे निकाल लीजिए।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

  • आंगनबाड़ी के लिए खिलौने, बच्चों की आवश्यक वस्तुओं सहित विभिन्न सामग्री एकत्र करने के लिए मैं स्वयं हाथ ठेला लेकर निकला। भोपाल और इंदौर में मुझे समाज का ऐसा सहयोग मिला जिसकी कल्पना भी नहीं थी। आंगनबाड़ी के लिए सामान एकत्र करने भोपाल में निकला तो 10 ट्रक सामान और 1 करोड़ 40 लाख रुपए लोगों ने दिए, वहीं इंदौर में 40 ट्रक सामान और 8.30 करोड़ रुपए से अधिक की राशि समाज की ओर से प्राप्त हुई।

  • उचित प्लेटफार्म मिल जाए तो समाज और सरकार साथ मिलकर कोई भी बदलाव ला सकते हैं। बच्चों के कल्याण के लिए भी सरकार और समाज को साथ आना होगा तभी हम बच्चों का कल्याण सुनिश्चित कर सकते हैं।

  • प्रत्येक बच्चे में नैसर्गिक प्रतिभा और क्षमता है। यदि हमने बच्चों के लिए परिस्थितियां निर्मित कर दीं, तो ये चमत्कार कर सकते हैं। हम सब मिलकर प्रयास करेंगे, तभी उचित परिणाम आयेंगे।

  • बच्चे भीख ना मांगे, उनकी पढ़ाई-लिखाई, कपड़े, भोजन इत्यादि की व्यवस्था हो, बच्चों से बाल श्रम न कराया जा सके और उन्हें शोषण से बचाया जाए, इस दिशा में सरकार के साथ समाज को भी आगे आना होगा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co