सीएम ने अतिवृष्टि से हुए नुकसान को लेकर की चर्चा
सीएम ने अतिवृष्टि से हुए नुकसान को लेकर की चर्चा|Social Media
मध्य प्रदेश

सीएम ने अतिवृष्टि से हुए नुकसान को लेकर की खास चर्चा, बैठक में कही ये बात

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री ने आज निवास पर अतिवृष्टि से हुए नुकसान का जायज़ा लेने के लिए आई इंटर मिनिस्टीरियल सेंट्रल टीम के सदस्यों से मुलाकात की।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

भोपाल मध्यप्रदेश। प्रदेश में जहां कोरोना का संकट तेजी से बढ़ रहा है, वहीं प्रदेश में हुई भारी बारिश से कई जिले तरबतर हो गए। प्रदेश में ऐसी स्थिति में कई जिलों के गाँव में जलस्तर बढ़ने से बाढ़ की वजह फसलों और मकान नष्ट हो गए है। इस बीच मध्यप्रदेश के शिवराज सिंह चौहान ने लगातार कई जिलों का दौरा किया कर रहे थे। आज मुख्यमंत्री ने अतिवृष्टि से हुए नुकसान को लेकर महत्वपूर्ण चर्चा की है।

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज अतिवृष्टि से हुए नुकसान का जायजा लेने आई इंटर मिनिस्ट्रियल सेंट्रल टीम के सदस्यों से मुलाकात कर महत्वपूर्ण चर्चा की। बैठक में मुख्यमंत्री शिवराज ने अधिक वर्षा से हुए नुकसान की चर्चा करते हुए कहा कि लोगों को जल्द से जल्द राहत दिलाने की आवश्यकता है।

अतिवृष्टि से हुए नुकसान का जायज़ा लेने के लिए मुख्यमंत्री ने आई इंटर मिनिस्टीरियल सेंट्रल टीम के सदस्यों से भेंट की और उनके साथ बैठक कर चर्चा की। बैठक में कहा पिछले दिनों हुई बारिश ने कई जिलों में जमकर तबाही मचाई। इस अतिवृष्टि से हुए नुकसान की जल्द से जल्द भरपाई होगी।

मुख्यमंत्री ने केंद्रीय टीम को जानकारी देते हुए कहा को मध्यप्रदेश में कुल 231 राहत शिविर स्थापित किये गए है। अगस्त माह में अतिवृष्टि और बाढ़ से 24 जिलों में लगभग 15 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में फसलों का नुकसान का आंकलन है । मुख्यमंत्री ने अतिवृष्टि से फसलों की नुकसान की जानकारी दी। बाढ़ अतिवृष्टि से क्षतिग्रस्त केंद्रीय टीमों को मकानों की जानकारी भी दी गई है। इसके अलावा मध्यप्रदेश स्थित सभी बांधो की तत्कालीन जानकारी दी गई है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co