'अंतरिक्ष परी' कल्पना चावला की पुण्यतिथि पर सीएम ने अर्पित की श्रद्धांजलि
'अंतरिक्ष परी' कल्पना चावला की पुण्यतिथिPriyanka Yadav-RE

'अंतरिक्ष परी' कल्पना चावला की पुण्यतिथि पर सीएम ने अर्पित की श्रद्धांजलि

भोपाल, मध्यप्रदेश : भारत की महान बेटी "कल्पना चावला" की आज पुण्यतिथि है, अंतरिक्ष में जाने वाली प्रथम भारतीय महिला कल्पना चावला की पुण्यतिथि पर मुख्यमंत्री शिवराज ने उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की है।

भोपाल, मध्यप्रदेश। भारत की महान बेटी "कल्पना चावला" की आज पुण्यतिथि है, बता दें कि 1 फरवरी यानि आज ही के दिन कल्पना चावला का निधन हुआ था, वह अंतरिक्ष में जाने वाली प्रथम भारतीय महिला थी, कल्पना ने न सिर्फ अंतरिक्ष की दुनिया में उपलब्धियां हासिल की, बल्कि तमाम छात्र-छात्राओं को सपनों को जीना सिखाया। "कल्पना चावला" की पुण्यतिथि पर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की है।

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज ने किया ट्वीट-

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर अंतरिक्ष में जाने वाली प्रथम भारतीय महिला स्व. कल्पना चावला की पुण्यतिथि पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की है। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि- कल्पना चावला युवा पीढ़ी समेत हर भारतीय के लिये प्रेरणास्त्रोत हैं। उनकी उपलब्धियां हमें हमेशा प्रेरित करती रहेंगी।

कल्पना चावला ने अपने अल्प जीवन में ही एक नया इतिहास रच दिया। भारत की बेटी पर हमें नाज़ है। कल्पना और उनके साथ असमय दुनिया से विदा होने वाले उनके सहयोगियों की पुण्यतिथि पर श्रद्धा सुमन अर्पित करता हूं। आप सर्वदा हमारी स्मृतियों और दिलों में ज़िंदा रहेंगे।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

नरोत्तम मिश्रा ने किया ट्वीट-

मध्यप्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने ट्वीट कर कहा कि 'असंभव को भी संभव किया जा सकता है, यदि आप अपने लक्ष्य के प्रति पूर्णतः एकाग्र और संकल्पित हों' नासा के अभियान में शामिल होकर अंतरिक्ष जगत में भारत का नाम रोशन करने वाली नारी शक्ति की प्रतीक कल्पना चावला की पुण्यतिथि पर सादर नमन और विनम्र श्रद्धांजलि।

बताते चलें कि अंतरिक्ष की पहली यात्रा के दौरान "कल्पना चावला" ने अंतरिक्ष में 372 घंटे बिताए और पृथ्वी की 252 परिक्रमाएं पूरी की, इस सफल मिशन के बाद कल्पना ने अंतरिक्ष के लिए दूसरी उड़ान कोलंबिया शटल 2003 से भरी, बता दें कि सन 2003 को स्पेस शटल कोलम्बिया से शुरू हुई, यह 16 दिन का अंतरिक्ष मिशन था, जो पूरी तरह से विज्ञान और अनुसंधान पर पर आधारित था,1 फरवरी 2003 को धरती पर वापस आने के क्रम में यह यान पृथ्वी की कक्षा में प्रवेश करते ही टूटकर बिखर गया था, इस दुर्घटना में कल्पना चावला समेत सभी सातों अन्तरिक्षयात्रियों की मृत्यु हो गयी थी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

AD
No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co