मध्‍यप्रदेश: CM शिवराज ने विद्या भारती के नवनिर्मित भवन का किया लोकार्पण
मध्‍यप्रदेश: CM शिवराज ने विद्या भारती के नवनिर्मित भवन का किया लोकार्पणTwitter

मध्‍यप्रदेश: CM शिवराज ने विद्या भारती के नवनिर्मित भवन का किया लोकार्पण

मध्‍यप्रदेश के CM शिवराज ने विद्या भारती मध्यक्षेत्र के नवनिर्मित भवन 'अक्षरा' का लोकार्पण कर कहा- इस भवन में शोध, अनुसंधान और प्रशिक्षण के ऐसे कार्यक्रम चलेंगे, जिससे बच्चों का भविष्य निखरेगा...

भोपाल, मध्‍यप्रदेश। मध्‍यप्रदेश के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज 14 जुलाई को भोपाल में विद्या भारती मध्यक्षेत्र के नवनिर्मित भवन 'अक्षरा' का लोकार्पण किया। विद्या भारती मध्यक्षेत्र के नवनिर्मित भवन 'अक्षरा' का लोकार्पण कार्यक्रम के दौरान CM शिवराज सिंह चौहान ने अपने संबोधन में शिक्षा क्षेत्र को लेकर कुछ बातें भी कहीं।

विद्या भारती शिक्षा के क्षेत्र में महत्वपूर्ण भूमिका अदा कर रही :

CM शिवराज सिंह चौहान ने कहा- मैं मानता हूं कि विद्या भारती शिक्षा के क्षेत्र में महत्वपूर्ण भूमिका अदा कर रही है और अदा कर भी सकती है। आजकल अगर बालक थोड़ा परिश्रम कर ले तो मीडिया में सुर्खी बन जाती है। हमें यह बदलना है। अगर हमने बच्चों को सही दिशा दी, तो उनका जीवन सफल हो जाता है।

मुझे विश्वास है कि इस भवन में शोध, अनुसंधान और प्रशिक्षण के ऐसे कार्यक्रम चलेंगे, जिससे बच्चों का भविष्य निखरेगा और सरकारी शिक्षा व्यवस्था में भी सुधार के लिए कदम बढ़ेंगे।

मध्‍य प्रदेश के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

25-26 जुलाई से स्कूल आधी संख्या के साथ खोल देंगे :

इसके अलावा आज मध्‍य प्रदेश के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का स्‍कूल खोले जाने को लेकर भी अपनी प्रतिक्रिया देते हुए ये बताया कि, ''हमें लगता है कि, 25-26 जुलाई से 11वीं और 12वीं कक्षा के स्कूल आधी संख्या के साथ खोल देंगे। 15 अगस्त तक सब ठीक रहा तो नीचे की कक्षा के स्कूल भी खोल देंगे।''

  • पहले चरण के रूप में हमने तय किया है कि, 26 जुलाई से जो सप्ताह प्रारंभ होगा, उसमें 50% क्षमता के साथ हम 11वीं और 12वीं कक्षा के विद्यालय प्रारंभ करेंगे।

  • सप्ताह में एक दिन एक बैच आएगा और अगले दिन दूसरा बैच आएगा। इसी हिसाब से महाविद्यालय आधी क्षमता के साथ फेसेज़ में प्रारंभ करेंगे।

  • हम इसकी रणनीति बना रहे हैं और परिस्थितियों पर नज़र रखते हुए जनता यदि COVID-19 एप्रोप्रियेट बिहेवियर का पालन करती रहे, तो हम 9वीं, 10वीं और क्रमशः 6वीं से 8वीं और पहली से 5वीं तक की कक्षाएँ भी प्रारंभ करने की प्रक्रिया शुरू करेंगे, ताकि हमारे बच्चे शिक्षा प्राप्त कर सकें।

बता दें कि, इससे पहले कल मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा था है कि, ''लाड़ली लक्ष्मी योजना को शिक्षा और रोजगार से जोड़ा जाएगा। समाज में यह धारणा स्थापित करना है कि बेटी बोझ नहीं बुढ़ापे का सहारा है। लाड़ली लक्ष्मी योजना में पंजीकृत लाड़लियाँ, सशक्त, समर्थ, सक्षम और आत्म-निर्भर बनकर समाज में योगदान दें।''

उन्‍होंने ये भी बताया था कि, ''मध्यप्रदेश में 39.37 लाख बालिकाएं लाड़ली लक्ष्मी योजना के अंतर्गत पंजीकृत हैं। कुल 5,91,203 बालिकाओं को रु. 136 करोड़ की छात्रवृत्ति का अब तक वितरण किया जा चुका है। लाड़ली लक्ष्मी निधि में रु. 9,150 करोड़ जमा हैं। प्रदेश में लाड़ली लक्ष्मी अधिनियम 2018 प्रभावशील है।''

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co