मेजर पीरू सिंह शेखावत के बलिदान दिवस पर CM ने दी विनम्र श्रद्धांजलि
पीरू सिंह शेखावत का बलिदान दिवसSocial Media

मेजर पीरू सिंह शेखावत के बलिदान दिवस पर CM ने दी विनम्र श्रद्धांजलि

Bhopal, Madhya Pradesh: आज 18 जुलाई को मेजर पीरू सिंह शेखावत का बलिदान दिवस है, मेजर पीरू सिंह शेखावत के बलिदान दिवस पर सीएम शिवराज सिंह चौहान ने विनम्र श्रद्धांजलि दी है।

भोपाल, मध्यप्रदेश। आज 18 जुलाई को मेजर पीरू सिंह शेखावत का बलिदान दिवस है, बता दें कि दारापारी के युद्ध में अपने शौर्य व पराक्रम से पाकिस्तान को धूल चटाकर कश्मीर में तिरंगा लहराने वाले राजस्थान के प्रथम परमवीर चक्र विजेता मेजर पीरू सिंह (Piru Singh) के बलिदान दिवस पर मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने विनम्र श्रद्धांजलि दी है।

सीएम शिवराज ने किया ट्वीट

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने किया ट्वीट, कहा- 1948 के युद्ध में पाकिस्तानी बंकर को तबाह कर भारत की विजय में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले परमवीर चक्र से सम्मानित, मेजर पीरू सिंह शेखावत जी के बलिदान दिवस पर विनम्र श्रद्धांजलि! आप जैसे वीरों पर मां भारती के कण-कण को गर्व है। जय हिन्द!

भारत मां के वीर सपूत और भारतीय सेना में कंपनी हवलदार रहे परमवीर चक्र विजेता मेजर पीरू सिंह शेखावत की पुण्यतिथि पर विनम्र श्रद्धांजलि। 1948 के भारत-पाकिस्तान युद्ध में अंतिम सांस तक दुश्मनों से लोहा लेकर तिरंगे का मान बढ़ाने वाले शेखावत जी का बलिदान सदैव स्मरणीय रहेगा।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा

मंत्री सारंग ने भी किया ट्वीट

प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने भी ट्वीट कर कहा- 1947-48 के भारत-पाकिस्तान युद्ध में विरोधियों के बंकरों को नष्ट कर, कश्मीर के तिथवाल में तिरंगा लहराने वाले परमवीर चक्र से सम्मानित मेजर पीरा सिंह शेखावत की पुण्यतिथि पर उन्हें शत्-शत् नमन्।

पीरू सिंह का जन्म 20 मई 1918 में हुआ था

बता दें कि पीरू सिंह का जन्म 20 मई 1918 को गाँव रामपुरा बेरी, (झुँझुनू) राजस्थान में हुआ था, पीरू सिंह लाल सिंह के पुत्र थे। यद्यपि पीरू सिंह अपने बचपन से सेना में शामिल होना चाहते थे, लेकिन पीरू सिंह अठारह वर्ष की आयु पूर्ण नहीं होने के कारण दो बार निकाल दिए गए तथा बाद में सेना में शामिल हुए थे।

18 जुलाई 1948 को शहीद हुए थे पीरू सिंह शेखावत

मिली जानकारी के मुताबिक मेजर पीरू सिंह 18 जुलाई 1948 को भारत-पाक युद्ध में शहीद हुए थे, मेजर पीरू सिंह ने 1952 में मरणोपरांत परमवीर चक्र से सम्मानित किया गया जो शत्रु के सामने वीरता प्राप्त करने के लिए दिया जाने वाला सर्वोच्च भारतीय सम्मान है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co