सीएम शिवराज ने छत्रपति शिवाजी महाराज की पुण्यतिथि पर दी विनम्र श्रद्धांजलि
आज छत्रपति शिवाजी महाराज की पुण्यतिथिPriyanka Yadav-RE

सीएम शिवराज ने छत्रपति शिवाजी महाराज की पुण्यतिथि पर दी विनम्र श्रद्धांजलि

भोपाल, मध्यप्रदेश। आज छत्रपति शिवाजी महाराज की पुण्यतिथि है, छत्रपति शिवाजी महाराज की पुण्यतिथि पर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अर्पित की श्रद्धांजलि।

भोपाल, मध्यप्रदेश। आज छत्रपति शिवाजी महाराज (Chhatrapati Shivaji Maharaj) की पुण्यतिथि है, बता दें कि आज के दिन (3 अप्रैल 1680) छत्रपति शिवाजी महाराज की मृत्यु हो गई, छत्रपति शिवाजी महाराज की पुण्यतिथि पर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की है।

CM शिवराज ने किया ट्वीट-

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट के माध्यम से कहा-हर इंसान को सबसे पहले अपने राष्ट्र, फिर गुरु, तब माता-पिता की तरफ ध्यान देना चाहिए, क्योंकि राष्ट्र से बढ़कर कुछ भी नहीं।छत्रपति शिवाजी महाराज अप्रतिम साहस एवं वीरता के प्रतीक, मराठा गौरव छत्रपति शिवाजी महाराज की पुण्यतिथि पर विनम्र श्रद्धांजलि।

राष्ट्र के गौरव और सम्मान के लिए आजीवन युद्धरत रहने वाले महान योद्धा छत्रपति शिवाजी महाराज जी की शौर्य गाथा हर युग में युवाओं को देश के मान एवं स्वाभिमान की रक्षा हेतु मर-मिटने के लिए प्रेरित करती रहेगी। भारत की महान विभूति के चरणों में सादर नमन!

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

नरोत्तम मिश्रा ने भी ट्वीट कर कहा-

मध्यप्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने भी ट्वीट कर कहा- अपने आत्मबल को जगाने वाला,खुद को पहचानने वाला,मानव जाति के कल्याण की सोच रखने वाला,पूरे विश्व पर राज कर सकता है।- छत्रपति शिवाजी महाराज

मराठा साम्राज्य की नींव रखने वाले धर्मरक्षक, साहस और शौर्य के प्रतीक छत्रपति शिवाजी महाराज की पुण्यतिथि पर विनम्र श्रद्धांजलि।

आपको बताते चलें कि भारतीय इतिहास के पन्नों में स्वर्ण अक्षर में शिवाजी महाराज की गौरव गाथा दर्ज है वे एक महान योद्धा थे। छत्रपति शिवाजी महाराज ने अपने शौर्य, पराक्रम और कुशल युद्धनीति के चलते मुगल साम्राज्य के छक्के छुड़ा दिए थे। वे बचपन से ही निडर और साहसी थे, छत्रपति शिवाजी महाराज के पिता का नाम शाहजी भोसले और माता का नाम जीजाबाई था।

बता दें कि छत्रपति शिवाजी महाराज का जन्म 19 फरवरी 1630 को शिवनेरी दुर्ग में हुआ था वही वर्ष 1674 में छत्रपति शिवाजी महाराज ने ही मराठा साम्राज्य की नींव रखी थी, शिवाजी महाराज ने अपने जीवनकाल में कई बार मुगलों की सेना को मात दी वही 3 अप्रैल को छत्रपति शिवाजी महाराज की मृत्यु हो गई, लेकिन आज भी दुनिया छत्रपति शिवाजी महाराज के पराक्रम और शौर्य को नहीं भूली है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co