तेलंगाना में आयोजित कार्यक्रम
तेलंगाना में आयोजित कार्यक्रमSocial Media

MP की धरती पर Heartfulness के माध्यम से पर्यावरण संरक्षण एवं ध्यान तथा अनेक कार्य संपन्न हो रहे: सीएम

मध्यप्रदेश : तेलंगाना में आयोजित कार्यक्रम में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा-Heartfulness अलग-अलग गतिविधियों से फुल है।

मध्यप्रदेश। आज मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने तेलंगाना में जैविक खेती के तरीकों का अवलोकन किया। इस अवसर पर मिशन के अध्यक्ष भी वहां पर उपस्थित थे। इसके बाद सीएम ने तेलंगाना में राम चंद्र मिशन के मुख्यालय में हार्टफुलनेस इंटरनेशनल स्पोर्ट्स सेंटर और गोपीचंद बैडमिंटन अकादमी का अवलोकन किया व प्रशिक्षण की बारीकियां समझीं।

वही, मुख्यमंत्री शिवराज तेलंगाना में श्री राम चंद्र मिशन के मुख्यालय kanhashantivanam के हार्टफुलनेस सेंटर में आदरणीय कमलेश जी एवं अन्य गणमान्य जनों के साथ ध्यान सत्र में सम्मिलित हुए। यहां आयोजित कार्यक्रम में सीएम शिवराज ने नशा मुक्ति के संबंध में हार्टफुलनेस द्वारा प्रकाशित 'YES, YOU CAN DO IT' पुस्तक के हिंदी संस्करण 'जी हां, आप यह कर सकते हैं' का विमोचन किया। पुस्तक 'जी हां, आप कर सकते हैं', नशा मुक्ति पर एक विशेष अभियान का शुभारंभ है। इस पुस्तिका में योग व ध्यान के माध्यम से नशे की लत को छुड़ाने की विभिन्न विधियों का उल्लेख है।

सीएम शिवराज ने ट्वीट कर लिखा कि, आज जब मैं आदरणीय कमलेश जी के साथ जब घूम रहा था तो मुझे गीता जी के श्लोक याद आ गए कि, यदा यदा हि धर्मस्य ग्लानिर्भवति भारत। अभ्युत्थानमधर्मस्य तदात्मानं सृजाम्यहम्।। परित्राणाय साधूनां विनाशाय च दुष्कृताम्ध, र्मसंस्थापनार्थाय सम्भवामि युगे युगे।। कार्यक्रम में सीएम शिवराज ने कहा कि, आदरणीय कमलेश जी के चरणों में प्रणाम करता हूं। ध्यान के माध्यम से हम परमात्मा को प्राप्त कर सकते हैं। यह पद्धति मुझे आज की परिस्थितियों में संपूर्ण लगती है। ह्रदय में प्रकाश की ज्योति जल रही है और वह ज्योति परमात्मा की तरफ जा रही है। परमात्मा हमें बुला रहा है। उससे हम जुड़ जाएं, एकाकार हो जाएं यह ध्यान करें।

मुख्यमंत्री शिवराज ने कहा कि, दुनिया में मनुष्य दो चीजें चाहता है। पहला यह कि व्यक्ति खूब जीना चाहता है। दूसरा यह कि सब सुखी जीवन जीना चाहते हैं। जितनी भी पद्धतियां और विचारधाराएं इसी सुख की प्राप्ति के लिए प्रारंभ होती है। शरीर के समाप्त होने के बाद भी हम समाप्त नहीं होते क्योंकि हम सिर्फ शरीर नहीं हैं, हम अजर अमर आत्मा हैं। सीएम बोले- पूज्य kamleshdaaji हम सबको ज्ञान का प्रकाश देने, सद्बुद्धि देने सद् मार्ग दिखाने आए हैं। इसलिए केवल ध्यान और योग नहीं और भी अनेक तरह की गतिविधियां kanhashantivanam में चल रही हैं।

  • मध्यप्रदेश की धरती पर भी heartfulness के माध्यम से पर्यावरण संरक्षण एवं ध्यान तथा अनेक कार्य संपन्न हो रहे हैं, मैं उन सभी कार्यों का अभिनंदन करता हूं।

  • Heartfulness अलग-अलग गतिविधियों से फुल है। यहाँ योग भी करो, ध्यान भी करो, व्यापार भी करो तकनीकी का उपयोग करके बेहतर किसानी कैसे हो सकती है, किसान कैसे ज्यादा आय प्राप्त कर सकता है। यह यहाँ से सीख जा सकता है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co