भोपाल में निर्धारित समय के पहले बन जाएगा ग्लोबल स्किल पार्क : सीएम शिवराज
ग्लोबल स्किल पार्कSocial Media

भोपाल में निर्धारित समय के पहले बन जाएगा ग्लोबल स्किल पार्क : सीएम शिवराज

भोपाल, मध्यप्रदेश। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पहुंचे ग्लोबल स्किल पार्क सिटी सेंटर, कहा कि प्रदेश की राजधानी भोपाल में लगभग 320 करोड़ का बड़ा स्किल सेंटर बनेगा।

भोपाल, मध्यप्रदेश। कोरोना संकट के बीच शिवराज सरकार द्वारा कई योजनाओं पर कार्यवाहियां शुरू हो गई हैं, इस बीच अब ग्लोबल स्किल्स पार्क एक महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट है, सीएम शिवराज ने कहा कि ग्लोबल स्किल्स पार्क का कार्य तेजी से चले, इसे अंतरराष्ट्रीय स्तर का बनाएंगे। यहां प्रशिक्षित विद्यार्थी भारत ही नहीं, अन्य देशों में भी योग्यता दिखा सकें, उन्हें इतना योग्य बनाएंगे। यह मेरा ड्रीम प्रोजेक्ट है।

ग्लोबल स्किल पार्क सिटी सेंटर पहुंचे सीएम :

आज प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज ने और तकनीकी शिक्षा मंत्री ने नरेला शंकरी स्थित निर्माणाधीन ग्लोबल स्किल पार्क का मुआयना किया, सीएम ने ग्लोबल स्किल पार्क सिटी सेंटर पहुंचकर निर्धारित अवधि के पूर्व कार्य पूरा करने के निर्देश दिए, ताकि विद्यार्थी लाभान्वित हों। विश्व स्तरीय स्किल यूनिवर्सिटी बने, लोग सिंगापुर नहीं भोपाल आएं।

भोपाल में लगभग 320 करोड़ का बड़ा स्किल सेंटर बनेगा। 10 संभागीय मुख्यालयों पर मेगा आईटीआई बनेंगे। हमारा लक्ष्य इन कौशल विकास केंद्रों के माध्यम से मध्यप्रदेश के 22 हजार बच्चों को प्रशिक्षित कर रोजगार दिलाने का है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

2 साल के अंदर यह प्रोजेक्ट पूरा होगा : CM

प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर कहा कि आने वाले लगभग 2 साल में निर्धारित समय के पहले भोपाल में विश्वस्तरीय ग्लोबल स्किल पार्क बन जाएगा। कुछ काम ऐसे हैं जो डेढ़ वर्ष में हो जाएंगे और बच्चों के एडमिशन शुरू हो जाएंगे, गुणवत्ता से कोई समझौता नहीं होगा, समय सीमा भी तय है।

सीएम शिवराज सिंह का बयान-

प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बयान देते हुए कहा कि सिंगापुर के स्किल पार्क को देखकर मुझे महसूस हुआ कि प्रदेश में भी ग्लोबल स्किल पार्क की सख्त जरूरत है, सन 2017 में यह योजना बनाई थी कि सिंगापुर सरकार के साथ मिलकर ग्लोबल स्किल पार्क बनायेंगे, इसमें 15 हजार करोड़ से ज्यादा की लागत आएगी, हमारा टारगेट है हर साल 22 हजार बच्चों को ट्रेंड करना, इंटरव्यू के लिए भी बच्चों को क्षमता विकसित की जाएगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co