शाजापुर में बोले CM शिवराज- 'बेटियों की शिक्षा, प्रगति के लिए MP सरकार प्रतिबद्ध है'
CM शिवराज- 'बेटियों की शिक्षा, प्रगति के लिए सरकार प्रतिबद्ध है'Social Media

शाजापुर में बोले CM शिवराज- 'बेटियों की शिक्षा, प्रगति के लिए MP सरकार प्रतिबद्ध है'

शाजापुर, मध्यप्रदेश। सीएम ने शाजापुर में 1500 मेगावाट आगर, नीमच, शाजापुर सोलर पार्कों के शिलान्यास व ऊर्जा साक्षरता अभियान कार्यक्रम का शुभारंभ किया। इस अवसर पर सीएम ने कही ये बात...

शाजापुर, मध्यप्रदेश। आज मध्यप्रदेश के शाजापुर में कार्यक्रम आयोजित किया गया है। कार्यक्रम में पहुंचकर मुख्यमंत्री शिवराज ने 1500 मेगावॉट के आगर, शाजापुर और नीमच सोलर पार्कों का भूमिपूजन एवं ऊर्जा साक्षरता अभियान (ऊषा) का शुभारंभ दीप प्रज्जवलन कर किया। सीएम ने केंद्रीय ऊर्जा मंत्री व अन्य गणमान्य जनप्रतिनिधियों के साथ शाजापुर में 1500 मेगावाट आगर, नीमच, शाजापुर सोलर पार्कों के शिलान्यास व ऊर्जा साक्षरता अभियान कार्यक्रम का शुभारंभ किया।

आगर, शाजापुर और नीमच में 1500 मेगावॉट के सोलर पार्कों का शिलान्यास एवं ऊर्जा साक्षरता अभियान (ऊषा) का शुभारंभ

मिली जानकारी के मुताबिक इस कार्यक्रम में सीएम, केंद्रीय ऊर्जा मंत्री व अन्य गणमान्य मंत्रीगण, जनप्रतिनिधियों की गरिमामय उपस्थिति में शाजापुर में पीएम कुसुम 'अ' के विकासकों के साथ अनुबंध हस्ताक्षरों का आदान-प्रदान हुआ। इस अवसर पर सीएम ने शाजापुर में सोलर पार्कों के भूमिपूजन एवं ऊर्जा साक्षरता अभियान के शुभारंभ कार्यक्रम में लाड़ली लक्ष्मी और विभिन्न योजनाओं का हितलाभ हितग्राहियों को सौंपा है।

आगे सीएम शिवराज ने कहा कि 2003 में बिजली का ये हाल था कि लोग कहते थे कि जब तक रहेंगे दिग्गी, जलती रहेगी डिब्बी। उस समय 5 हजार मेगावॉट भी बिजली की उपलब्धता नहीं थी, आज प्रदेश में बिजली की 22 हजार मेगावॉट की उपलब्धता है। हमने मध्य प्रदेश में पानी, कोयला, हवा से बिजली का उत्पादन किया है और अब सौर ऊर्जा से भी बिजली के उत्पादन के क्षेत्र में कदम बढ़ा दिए हैं। सौर ऊर्जा पर्यावरण की दृष्टि से भी बेहतरीन है।

जो सूर्य से हम बिजली बनाते हैं, उससे पर्यावरण भी नहीं बिगड़ता है और बिजली भी सस्ती मिलती है। मुझे यह बताते हुए खुशी है कि रीवा के सोलर प्लांट से मिलने वाली सौर ऊर्जा से दिल्ली की मेट्रो चल रही है

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

कार्यक्रम में सीएम ने कही ये बात

आज इस अवसर पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि नवकरणीय ऊर्जा पर चर्चा से पहले यह खुशखबरी देना चाहता हूं कि मध्यप्रदेश में आबादी में बेटियों का अनुपात बढ़ा है। अब 1000 बेटों पर यह संख्या 956 हो गई है। हम बेटियों के उज्ज्वल भविष्य के लिए सदैव साथ खड़े है। सीएम बोले- "प्रदेश में लाडली लक्ष्मी योजना हमने चलाई, जिसका सुपरिणाम आज 1000 बेटों पर 956 बेटियां हैं, जो 2015 में 1000 बेटों की तुलना में 905 बेटियां ही जन्म लेती थीं। बेटियों की शिक्षा, प्रगति के लिए प्रदेश सरकार प्रतिबद्ध है" प्रधानमंत्री की प्रेरणा से हम बेटियों के आगे बढ़ने के लिए कई तरह की योजनाओं के माध्यम से मदद कर रहे हैं। बेटियां आगे बढ़ें, खूब तरक्की करें। यही हमारा प्रयास होना चाहिए। बेटियां ही इस धरा का आधार हैं।

शाजापुर में आयोजित कार्यक्रम में सीएम ने कही ये भी बातें

  • आज का कार्यक्रम साधारण कार्यक्रम नहीं है। 1500 मेगावॉट सौर ऊर्जा के प्लांट का भूमिपूजन हुआ है।

  • सौर ऊर्जा मतलब ऊर्जा के भंडार सूरज से बिजली बनेगी, आज न केवल देश की बल्कि पूरी दुनिया की ऊर्जा की आवश्यकताएं तेजी से बढ़ रही हैं और इनकी पूर्ति के लिए सौर ऊर्जा सबसे बड़ा माध्यम है।

  • ये धरती हम सबकी है। इसको बनाये रखना, बचाए रखना हम सबका कर्तव्य है। विशेषज्ञों का अनुमान है कि वर्ष 2050 तक धरती का तापमान 2 प्रतिशत तक बढ़ जाएगा।

  • आज मुझे कहते हुए खुशी है कि दिल्ली मेट्रो के लिए बिजली मध्यप्रदेश से जा रही है, 2012 तक सूरज से 500 मेगावॉट बिजली बनाते थे आज हम 5300 मेगावॉट से ज्यादा की बिजली सूरज से बना रहे हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co