मुंबई में आयोजित कार्यक्रम
मुंबई में आयोजित कार्यक्रमSocial Media

गेहूं के उत्पादन में MP ने पंजाब को पीछे छोड़ दिया और देश में पहले स्थान पर पहुंच गया: CM शिवराज

मध्यप्रदेश। मुंबई में आयोजित उद्योगपतियों और निवेशकों से मुलाकात कार्यक्रम का मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दीप प्रज्ज्वलन कर शुभारंभ किया, इस अवसर पर कही ये बातें...

मध्यप्रदेश। मुंबई में आयोजित उद्योगपतियों और निवेशकों से मुलाकात कार्यक्रम का मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दीप प्रज्ज्वलन कर शुभारंभ किया, इस अवसर पर औद्योगिक नीति एवं निवेश प्रोत्साह मंत्री सहित गणमान्य उद्योगपति एवं निवेशक उपस्थित रहे।

इस कार्यक्रम में सीएम शिवराज ने कहा- मध्यप्रदेश तेजी से बढ़ता हुआ राज्य है। इस साल करेंट प्राइजेज पर हमारी ग्रोथ रेट 19.67 % है, मध्यप्रदेश का देश की जीएसडीपी में पहले योगदान था 3.6 प्रतिशत और अब बढ़कर 4.6 % हो गया है, यह कहते हुए मुझे प्रसन्नता है कि बेरोजगारी की दर देश के किसी राज्य में सबसे कम है, तो वह राज्य मध्यप्रदेश है, हमारे यहां बेरोजगारी दर 0.8 प्रतिशत है। हमने बेरोजगारी दूर करने के लिए कई उपाय किये हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि, मैं आपको बताना चाहता हूं कि मध्यप्रदेश में शानदार इन्फ्रास्ट्रक्चर है। 3 लाख किमी सड़कें हमने बनाई हैं, 24 घण्टे बिजली उपलब्ध है और पर्याप्त भूमि और प्रशिक्षित मैनपावर है। मध्यप्रदेश जनसंपदा, खनिज संपदा व प्राकृतिक सौंदर्य से भरपूर राज्य है। हमने अपने जंगल भी सुरक्षित रखे हैं, यहाँ 30% फॉरेस्ट कवर है। मध्यप्रदेश आपको ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के लिए इनवाइट कर रहा है। प्रधानमंत्री ने कोविड के दौरान कहा कि आपदा को अवसर में बदलो, आत्मनिर्भर भारत बनाओ। हमने आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश का रोडमैप बनाया है।

आगे सीएम शिवराज ने कहा कि, मध्यप्रदेश में टेक्सटाइल की पॉलिसी ऐसी है कि लोग खिंचे चले आते हैं। रेडीमेड गारमेंट्स के क्षेत्र में तेजी से काम हो रहा है। ऑटोमोबाइल के क्षेत्र में अनेक कंपनियां काम कर रही हैं। सिंगापुर के सहयोग से हमने भोपाल में ग्लोबल स्किल पार्क बनाया। आज की जरूरतों के हिसाब से हम अपने बच्चों को प्रशिक्षित कर रहे हैं। मध्यप्रदेश में आईआईटी और आईआईएम हैं। भोपाल में हमने सिंगापुर के सहयोग से ग्लोबल स्किल पार्क बनाया है। हम आपके साथ मिलकर ऐसी योजना बना लेंगे कि हम वहीं ट्रेंड करके लोगों को काम दे सकें। चंबल के बीहड़ों में जहां पहले डाकू हुआ करते थे, वहाँ हम अटल एक्सप्रेस वे बना रहे हैं, इंडस्ट्रियल टाउनशिप बन रहा है। लगभग 950 किमी का नर्मदा एक्सप्रेस बन रहा है।

कार्यक्रम में सीएम ने कही ये बातें

  • आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के चार प्रमुख स्तंभ है- इन्फ्रास्ट्रक्चर, हेल्थ-एजुकेशन, गुड गवर्नेंस और अर्थव्यवस्था व रोजगार।

  • मध्यप्रदेश की प्रगति व विकास के लिए, रोजगार के नए अवसरों का सृजन करने के लिए, मध्यप्रदेश की संभावनाओं का सम्पूर्ण दोहन करने के लिए आज मैं आपको आमंत्रित कर रहा हूँ।

  • हमने निश्चय किया है कि भारत को $5 ट्रिलियन की इकोनॉमी बनाने के लिए 2026 तक मध्यप्रदेश बनेगा $550 बिलियन की इकोनामी।

  • मध्यप्रदेश पहला टाइगर स्टेट था, फिर लेपर्ड स्टेट बना। अब हम चीता स्टेट भी हो गए हैं। मध्यप्रदेश वल्चर स्टेट भी है, हमने गिद्धों को भी सुरक्षित रखा है।

  • मध्यप्रदेश पावर सरप्लस स्टेट है। हम पानी से भी बिजली बनाते हैं और पानी पर भी बिजली बनाते हैं। ओंकारेश्वर बांध में हम सोलर पैनल बिछाकर 600 मेगावाट बिजली का उत्पादन करने वाले हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co