नए वर्ष 2021 में मेरा सिर्फ एक ही लक्ष्य है "आत्मनिर्भर मप्र": CM शिवराज
आत्मनिर्भर मध्य प्रदेशSocial Media

नए वर्ष 2021 में मेरा सिर्फ एक ही लक्ष्य है "आत्मनिर्भर मप्र": CM शिवराज

इंदौर, मध्यप्रदेश : मुख्यमंत्री शिवराज ने कहा कि नए साल 2021 में हमारी सरकार की प्राथमिकता के मुद्दे सुशासन व कानून-व्यवस्था, अर्थव्यवस्था एवं रोजगार, कई विकास कार्य होंगे।

इंदौर, मध्यप्रदेश। नए वर्ष 2021 का आगाज होते ही मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार विकास कार्यों और सरकारी योजनाओं को जन-जन तक पहुंचने में जुट गई हैं, नए वर्ष में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज ने कहा कि इस साल मेरा सिर्फ एक ही लक्ष्य है और वह है 'आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश' सुशासन व कानून-व्यवस्था, अर्थव्यवस्था एवं रोजगार, किसान कल्याण, स्वास्थ्य एवं शिक्षा और अधोसंरचना का विकास नए साल में हमारी सरकार की प्राथमिकता के मुद्दे होंगे।

सीएम शिवराज ने कहा-

साल 2020 कोरोना महामारी के चलते काफी खराब रहा है, इस साल में लोगों को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ा, साल 2020 में कोरोना के संकटकाल ने हमें बहुत कुछ सिखाया है और नया वर्ष 2021 हमें खुशहाली की ओर ले जाएगा, सीएम ने कहा कि सड़क पानी बिजली के क्षेत्र में मप्र बहुत बेहतर स्थिति में है, अब हमें आत्मनिर्भर होना है, इसके लिए सारा रोडमैप तैयार कर लिया है। हमारा लक्ष्य युवाओं के लिए ज्यादा से ज्यादा रोजगार के अवसर उपलब्ध कराना है।

सीएम ने कहा है कि हमारा लक्ष्य युवाओं के लिए ज्यादा से ज्यादा रोजगार के अवसर उपलब्ध कराना है। इसके लिए निवेश पर काम चल रहा है। साथ में पर्यटन क्षेत्र में भी विशेष फोकस किया जा रहा है, ताकि ग्रामीण और शहरी क्षेत्र के युवाओं को रोजगार मिल सके। महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए स्व-सहायता समूह से लेकर उनके उत्पाद को बाजार उपलब्ध कराएंगे। हमारा यह भी लक्ष्य है कि अगले तीन साल में हम प्रदेश को देश का अग्रणी राज्य बना लें।

हमारी प्राथमिकता के केंद्र में शिक्षा और लोक स्वास्थ्य: शिवराज

आगे मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि आत्मनिर्भर राज्य बनाने की दिशा में हमारी प्राथमिकता का केंद्र लोक स्वास्थ्य और शिक्षा रहेगा, हमारी सरकार सुशासन के लिए प्रतिबद्ध है। लोक कल्याण की हमारी सभी योजनाओं को लाभ प्रत्येक पात्र आवेदक को मिले इस दिशा में हमने कुछ अहम फैसले लिए हैं।

  • 7 दिवस में आवेदनों को निराकृत न करने वाले अधिकारियों पर जुर्माना लगाया जाएगा। इसके साथ ही आठवें दिन आवेदक को स्वत: ही लाभार्थी मान उसे डीम्ड परमिशन देते हुए इसकी सूचना उसके मोबाइल फोन पर अग्रेषित हो जाएगी।

  • राज्य के मंदसौर, उज्जैन और इंदौर में सामने आई अप्रिय घटनाओं के प्रश्न के उत्तर में कहा कि कानून अपना काम कर रहा है। हम किसी भी सज्जन व्यक्ति के लिए फूल से ज्यादा कोमल हैं, लेकिन कोई गड़बड़ करता है माफिया है तो व्यवस्था उसके लिए वज्र से ज्यादा कठोर रहेगी।

  • नागरिक सेवाओं और सुविधाओं को पूरी तरह भ्रष्टाचार मुक्त बनाया जाएगा। इस बात का विशेष ध्यान दिया जाएगा कि सेवाओं के एवज में कोई अवैध लेन-देन न करे।

  • अर्थव्यवस्था को मजबूत करने और रोजगार के अवसर उत्पन्न करना भी हमारी प्राथमिकता है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co