रामास्वामी परमेश्वरन की जयंती और जतीन्द्रनाथ दास का  बलिदान दिवस
रामास्वामी परमेश्वरन की जयंती और जतीन्द्रनाथ दास का बलिदान दिवस Social Media

CM शिवराज ने रामास्वामी परमेश्वरन की जयंती और जतीन्द्रनाथ दास के बलिदान दिवस पर किया नमन

भोपाल, मध्यप्रदेश। आज मेजर रामास्वामी परमेश्वरन की जयंती और महान क्रांतिकारी, जतीन्द्रनाथ दास 'जतिन दा' का बलिदान दिवस है, इस मौके पर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर उन्हें नमन किया है।

भोपाल, मध्यप्रदेश। आज परमवीर चक्र से सम्मानित 'ऑपरेशन पवन' मिशन में अपने प्राण गंवाने वाले मेजर रामास्वामी परमेश्वरन की जयंती और महान क्रांतिकारी, जतीन्द्रनाथ दास 'जतिन दा' का बलिदान दिवस है, इस मौके पर प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर उन्हें नमन किया है।

रामास्वामी परमेश्वरन की जयंती पर सीएम ने किया नमन:

मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज ने ट्वीट कर लिखा- श्रीलंका में भारतीय सेना द्वारा चलाए गए 'ऑपरेशन पवन' में अद्भुत शौर्य और साहस का प्रदर्शन करने वाले, परमवीर चक्र विजेता मेजर रामास्वामी परमेश्वरन जी की जयंती पर कोटि-कोटि नमन। देश के प्रति आपकी कर्तव्यनिष्ठा और समर्पण भारतवासियों को सदैव देश सेवा के लिए प्रेरित करती रहेगी।

भारतीय सेना के अधिकारी थे मेजर रामास्वामी परमेश्वरन :

बता दें, मेजर रामास्वामी परमेश्वरन, भारतीय सेना के अधिकारी थे, जिन्होंने श्रीलंका सिविल वॉर के दौरान अपनी बहादुरी के लिए मरणोपरांत भारत का सर्वोच्च सैन्य अलंकरण परमवीर चक्र प्राप्त किया। मेजर परमेश्वरन को 16 जनवरी 1972 को लघु सेवा आयोग द्वारा सेना की 15 बटालियन महार रेजिमेंट में सम्मिलित किया गया था।

जतींद्रनाथ दास के बलिदान दिवस पर उन्हें शत्-शत् नमन : सीएम

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने अंग्रेजी शासन के विरुद्ध 63 दिनों तक भूख हड़ताल कर लाहौर जेल में अपने प्राणों की आहुति देने वाले महान क्रातिकारी जतींद्रनाथ दास जी के बलिदान दिवस पर उन्हें शत्-शत् नमन किया है। ट्वीट कर लिखा- मां भारती को परतंत्रता की बेड़ियों से मुक्त कराने में आपका योगदान सदैव स्मरणीय रहेगा।

भारत के प्रसिद्ध क्रान्तिकारियों में से एक थे जतीन्द्रनाथ दास :

जतीन्द्रनाथ दास भारत के प्रसिद्ध क्रान्तिकारियों में से एक थे, जिन्होंने देश की आज़ादी के लिए जेल में अपने प्राण त्याग दिए और शहादत पाई। इन्हें 'जतिन दास' के नाम से भी जाना जाता है, जबकि संगी साथी इन्हें प्यार से 'जतिन दा' कहा करते थे। जतीन्द्रनाथ दास 'कांग्रेस सेवादल' में सुभाषचन्द्र बोस के सहायक थे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co