खंडवा में CM शिवराज ने पेसा जागरूकता सम्मेलन को किया संबोधित
खंडवा में CM शिवराज ने पेसा जागरूकता सम्मेलन को किया संबोधितSocial Media

खंडवा में CM शिवराज ने पेसा जागरूकता सम्मेलन को किया संबोधित

खंडवा जिले के पंधाना में पेसा जागरूकता सम्मेलन को संबोधित कर सीएम शिवराज सिंह चौहान ने अपने संबोधन में यह बातें कहीं...

खंडवा, मध्य प्रदेश। खंडवा जिले के पंधाना में पेसा जागरूकता सम्मेलन आयोजित हुआ, जिसमें मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी शामिल हुए और उन्होंने इस सम्मेलन को संबोधित किया।

वनोपज पर अब सरकार का कोई अधिकार नहीं होगा :

खंडवा जिले के पंधाना में पेसा जागरूकता सम्मेलन को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा- वनोपज पर अब सरकार का कोई अधिकार नहीं होगा। अचार की गुठली, महुए का फूल, महुए की गुल्ली, हर्रा, बहेड़ा, आंवला आदि को बीनने और बेचने का अधिकार जनता का ही होगा। इसका मूल्य भी जनता ही तय करेगी, अब अधिसूचित क्षेत्र में रेत, मिट्टी, पत्थर या कोई अन्य खदान का पट्टा बिना ग्रामसभा की अनुमति के सरकार नहीं दे सकेगी।

अधिसूचित क्षेत्र की खदानों पर पहला अधिकार जनजातीय सोसायटी का, दूसरा अधिकार जनजातीय बहनों का और तीसरा जनजातीय पुरुषों का होगा। अगर वो कोई नहीं लेंगे तो फिर किसी और को दिया जाएगा।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

  • जमीन का अधिकार देकर हमने गांव को मजबूत करने की कोशिश की है। ग्रामसभा को और गांव में रहने वाले भाई-बहनों को आर्थिक रूप से मजबूत करने की हमने कोशिश की है।

  • गांवों में होने वाले छोटे-मोटे झगड़ों को निपटाने के लिए 'शांति और विवाद निवारण समिति' बनेगी, जिसे ऐसे झगड़ों को निपटाने का अधिकार होगा। बड़े और गंभीर मामले ही थाने तक जायेंगे।

  • 100 एकड़ तक की सिंचाई के जो तालाब होंगे उनका प्रबंधन ग्रामसभा करेगी। सरकार केवल उनकी मदद करेगी।

  • यह कानून बन गया है कि अगर कोई मजदूरी के लिए गावों के किसी मजदूर को दूसरे प्रदेश या जिले में ले जाता है तो उसे पहले गांव में ग्रामसभा को सूचना देनी होगी, ताकि मुसीबत के समय में मजदूर की मदद की जा सके। यदि किसी गरीब बच्चे में प्रतिभा है और उसका एडमिशन मेडिकल या इंजिनीयरिंग कॉलेज में होगा तो उसकी पूरी फीस उसके माता-पिता नहीं मध्यप्रदेश सरकार भराएगी।

  • जनता की जिंदगी में बाधा डालने वाले बर्दाश्त नहीं किए जाएंगे। गुंडे-बदमाशों को छोड़ना नहीं है। यह सरकार जनता के लिए है। गड़बड़ करने वाले कुचल दिए जाएंगे।

  • गावों में पेयजल उपलब्ध करने के लिए पाइप लाइन बिछाकर, टोंटी वाले नल से घरों में जल पहुंचाने का काम किया जा रहा है, ताकि हमारी बेटियों को घर से दूर पानी भरने न जाना पड़े।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co