भोपाल सम्भाग सहित यहाँ रहेगी 10 दिन सख्ती, बढ़ी कोरोना कर्फ़्यू की अवधि
भोपाल सम्भाग सहित यहाँ रहेगी 10 दिन सख्ती, बढ़ी कोरोना कर्फ़्यू की अवधिSyed Dabeer Hussain - RE

भोपाल सम्भाग सहित यहाँ रहेगी 10 दिन सख्ती, बढ़ी कोरोना कर्फ़्यू की अवधि

कोरोना के मामलों के बीच मध्य प्रदेश सरकार ने कोरोना कर्फ्यू की अवधि बढ़ाने का फैसला कर लिया है। साथ ही कई सख्ती करने सहित कई अन्य आदेश भी जारी किए।

भोपाल, मध्य प्रदेश। आज पूरे देश में कोरोना महामारी से कोहराम मचा हुआ है। हालांकि, देश में वैक्सीनेशन जारी हैं। वहीं, भारत सरकार लगातार जनता को घर में रहने या अधिक जरूरत पड़ने पर ही घर से निकलने का सुझाव दे रही है। ऐसे हालातों के बीच देश के कई राज्य की सरकारें अपने राज्य में लॉकडाउन, नाईट कर्फ्यू, कोरोना कर्फ्यू को लगातार जारी रखना ही उचित समझ रही है। इसी बीच मध्य प्रदेश की सरकार ने भी कोरोना कर्फ्यू की अवधि बढ़ाने का फैसला कर लिया है। हालांकि, बीते दिनों में कई राज्य की सरकारें लॉकडाउन की अवधि बढ़ा चुकी है।

मध्य प्रदेश में बढ़ी कोरोना कर्फ्यू की अवधि :

दरअसल, कोरोना से सावधानी रखने के लिए बीते कुछ महीनों में कई राज्य की सरकारें अपने लेवल पर दोबारा लॉकडाउन का रास्ता चुनती नजर आ रही है। जिसकी अवधि कोरोना के मामलों को देखते हुए बढ़ाई जाती रही है। वहीं, अब मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल सहित प्रदेश के कई शहरों में भी अगले 31 मई तक कोरोना कर्फ्यू जारी रखने के आदेश जारी कर दिए है। इस घोषणा के साथ ही लोगों की 24 मई से शर्तो के साथ बाज़ार खुलने की चर्चाओं और उम्मीदों पर पानी फिर गया है।

इन जगहों में रहेगी सख्ती :

जी हां, भोपाल संभाग के साथ ही विदिशा, राजगढ़, सीहोर व रायसेन में भी अब 31 मई तक कोरोना कर्फ्यू जारी रहेगा। साथ ही यहां पहले से ज्यादा सख्ती से नियमों का पालन किया जाएगा। इस मामले में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को भोपाल सहित इन सभी जगहों के कलेक्टराें को 10 दिन तक सख्ती बढ़ाने के आदेश जारी कर दिए हैं। बता दें, भोपाल संभाग के जिलों की शुक्रवार को हुई क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक में शिवराज सिंह ने ये निर्देश देते हुए कहा कि, 'प्रभारी मंत्री भी अपने-अपने जिलों को कोरोना मुक्त करने की जिम्मेदारी लें।'

मुख्यमंत्री के आदेश :

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह कहां ने जनप्रतिनिधि और अफसरों को टेस्टिंग बढ़ाने के आदेश भी जारी किए हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि, 'हर वार्ड, पंचायत में कोई भी नया पॉजिटिव नहीं बढ़ेगा, यह तय करें। ट्रैसिंग जरूरी है। पहली लहर में हुई थी, इसलिए केस नहीं बढ़ पाए। क्याेंकि टोटल लॉकडाउन था, लेकिन दूसरी लहर में ऐसा नहीं हो पाया। अब केस कम हो रहे हैं, ऐसे में केस ट्रैसिंग करना आसान होगा। बैठक में मंत्री और सांसद भी मौजूद रहे।'

शादी-विवाह को टालने के आदेश :

मुख्यमंत्री ने शादी-विवाह को टालने के आदेश देते हुए कहा है कि, 'कोरोना पर काबू पाने के लिए सामूहिक सहयोग जरूरी है। मन सख्त कर लो, दिल पर पत्थर रख लो। 10 दिन तक शादी-विवाह टालें। कोराेना संक्रमण दर कम हो जाएगी, तो जून में विवाह समारोह की छूट दी जा सकती है। ग्रामीण इलाकाें में संक्रमण कम हो रहा है। टेस्ट ज्यादा से ज्यादा होना चाहिए। जिन गांवों में पॉजिटिव मरीज हैं, वहां आने-जाने पर प्रतिबंधित करें।'

वैक्सीन को बताया सुरक्षा चक्र :

मुख्यमंत्री ने कहा कि, 'कोरोना से बचने के लिए लॉकडाउन के अलावा कोई सुरक्षा चक्र है, तो वह वैक्सीन है। सरकार ने 18 से 44 साल तक आयु के लोगों के लिए वैक्सीन के 5 करोड़ 19 लाख डोज का ऑर्डर दिया है। वैक्सीन की सप्लाई को लेकर केंद्र सरकार और निर्माण कंपनियों से संपर्क किया जा रहा है, ताकि जल्दी से जल्दी वैक्सीन मप्र को मिल सके।' उन्होंने आगे कहा है कि, 'संक्रमण की चेन तोड़ने में विदिशा में काफी हद तक सफलता मिली है। अन्य जिलों में भी क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप पैनी नजर रखें। अगले 10 दिन में ज्यादा से ज्यादा टेस्ट हों, इस पर फोकस किया जाए। शुरुआत में दिक्कत इसलिए आई थी, क्योंकि कोरोना के लक्षण होने के बाद भी लापरवाही की गई। ग्रामीण इलाकों में झोला छाप डॉक्टरों से इलाज करा रहे थे।'

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co