MP CM ने बिरसा मुंडा जयंती पर होने वाले कार्यक्रम पर दिए निर्देश
MP CM ने बिरसा मुंडा जयंती पर होने वाले कार्यक्रम पर दिए निर्देशTwitter

MP CM ने बिरसा मुंडा की जयंती पर होने वाले कार्यक्रम के लिए दिए निर्देश, वितरण समस्या वाले कलेक्टर्स से चर्चा

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भगवान बिरसा मुंडा की जयंती पर होने वाले कार्यक्रम की तैयारियों को लेकर समीक्षा बैठक की। इस बैठक में जनजातीय बहुल विकासखंडों वाले जिलों के कलेक्टर्स शामिल हुए।

भोपाल, मध्य प्रदेश। मध्य प्रदेश में जब भी कुछ होने वाला होता है या कोई नया फैसला लिया जाना होता है तो मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान उस मामले पर मीटिंग कर चर्चा करते हैं। साथ ही आदेश जारी करते हैं या अपनी बात रखते हैं। वहीँ, अब उन्होंने भगवान बिरसा मुंडा की जयंती पर होने वाले कार्यक्रम की तैयारियों को लेकर समीक्षा बैठक की। इस बैठक में जनजातीय बहुल विकासखंडों वाले जिलों के कलेक्टर्स शामिल हुए।

मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री की बैठक :

दरअसल, शुक्रवार की शाम मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जनजातीय बहुल विकासखंडों वाले जिलों के कलेक्टर्स के साथ बैठक कर चर्चा की थी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने बैठक में चर्चा कर जनजातीय गौरव दिवस के अवसर पर सभी 89 विकासखंडों में होने वाले कार्यक्रमों की व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। इस बारे में जानकारी मुख्यमंत्री कार्यलय की तरफ से दी गई है। बता दें, इस बैठक के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने एनी मामलों पर हुई चर्चा के बाद कहा है कि, 'किसानों को आसानी से खाद मिले,लाइन न लगानी पड़े,ये सुनिश्चित करें। उपलब्धता है,बस वितरण व्यवस्था की कमी जहां है,वो दूर करें। कहीं भी किसान को लाइन न लगाना पड़े। कलेक्टर्स पूरी व्यवस्था बनाएं। प्रदेश में खाद की कमी नहीं है। केंद्रीय रसायन एवं उर्वरक मंत्री श्री मनसुख एल मंडाविया से पूर्ण सहयोग मिला है।'

सीएम श्री शिवराज सिंह चौहान ने 15 नवंबर को भगवान बिरसा मुंडा की जयंती पर शहडोल में होने वाले जनजातीय गौरव दिवस कार्यक्रम की तैयारियों की समीक्षा बैठक की। बैठक में उन्होंने कहा कि हमारा संकल्प पैसा कानून के माध्यम से समरसता के साथ जनजातीय कल्याण के कार्यों को अमल में लाना है। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने बैठक में जनजातीय बहुल विकासखंडों वाले जिलों के कलेक्टर्स से चर्चा कर जनजातीय गौरव दिवस के अवसर पर सभी 89 विकासखंडों में होने वाले कार्यक्रमों की व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री कार्यलय

जिलों के कलेक्टर्स से चर्चा की गई :

मुख्यमंत्री चौहान ने आज सुल्तानपुर से लौटने के बाद निवास से वीसी द्वारा वितरण समस्या वाले कुछ जिलों के कलेक्टर्स से चर्चा की। इस दौरान कृषि मंत्री श्री कमल पटेल, राजस्व मंत्री श्री गोविंद सिंह राजपूत, सूक्ष्म,लघु और मध्यम उद्यम मंत्री श्री ओम प्रकाश सखलेचा,मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, सहित वरिष्ठ अफसर उपस्थित थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान की जिन जिलों से चर्चा हुई। उनमें सतना,राजगढ़, सागर, और नीमच के नाम शामिल हैं। उन्होंने जिलों के कलेक्टर्स से खाद की उपलब्धता, वितरण केंद्र संख्या, वितरण व्यवस्था के संबंध में बातचीत कर निर्देश दिए।

कटनी कलेक्टर ने बताया :

कटनी कलेक्टर ने बताया कि, 'बैंकर्स सहयोग कर रहे। शाम 4 की जगह 5.30 तक वितरण का प्रबंध किया गया है। किसानों से प्राप्त राशि के संबंध में बैंक देर शाम तक वित्तीय व्यवहार कर रहे। Cm ने यह व्यवस्था अन्य जिलों में करने के निर्देश दिए।' बता दें इस बैठक में प्रमुख सचिव श्री के सी गुप्ता दमोह से वीसी में शामिल हुए। उन्होंने सागर,छतरपुर और दमोह जिलों की व्यवस्थाएं दौरा कर देखी हैं।

मुख्यमंत्री द्वारा दिए गए निर्देश :

  • कहीं भी ब्लैक न हो खाद।

  • किसान को कहीं जबरन खाद न दें।

  • कलेक्टर्स भ्रमण करते रहें।

  • किसी भी जिले में किसानों को लाइन न लगानी पड़े।

  • जिलों में खाद वितरण सुचारू रहे, जहां आवश्यक हो विकेंद्रीकरण किया जाए।

  • किसानों को अधिक दूरी से खाद लेने न आना पड़े।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co