CM शिवराज ने मदद करने वालों को किया धन्यवाद
CM शिवराज ने मदद करने वालों को किया धन्यवाद|Social Medai
मध्य प्रदेश

CM शिवराज ने मदद करने वालों का किया धन्यवाद, मप्र में अब थमी बारिश

मध्यप्रदेश में बाढ़ की स्थिति और बचाव कार्य को लेकर मीडिया के बंधुओं किया संवाद, अब वर्षा थम गई है, और बाढ़ के पानी ने उतरना शुरू किया है।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

भोपाल, मध्यप्रदेश। कोरोना संकट के बीच प्रदेश में 28 अगस्त से मौसम में बदलाव आते ही प्रदेश में कई जगहों पर भारी बारिश ने आफत मचा दी, जिसके चलते जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है, तेज बारिश के कारण नदी-नाले एक बार फिर उफान होने से बाढ़ तक की स्थिति बनी, जिसके चलते मुख्यमंत्री के निर्देश अनुसार कंट्रोल रूम से काम चला और ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों से कहीं से भी मदद मांगी जाये, तो तत्काल उन्हें मदद पहुंचाई गई।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आपात स्थिति से निपटने के लिए गोताखोर, बोट, हेलीकाप्टर आदि के पुख्ता इंतजाम किया । आम नागरिकों की सहायता के लिए राज्य सरकार तत्पर है। जिलों में पदस्थ आपदा प्रबंधन दल हर तरह के संकट में लोगों की सहायता के लिए तैयार हैं, आमजन भी सजग रहे। मुख्यमंत्री ने कलेक्टर्स को निर्देश दिये कि वे संकट की इस स्थिति में प्रभावित लोगों की सहायता के लिए सक्रिय रहें। निचली बस्तियों में जल भराव की स्थिति को देखते हुए नागरिकों को अन्य स्थानों पर शिफ्ट किया जाये। नियंत्रण कक्ष सक्रियता से कार्य करें।

मध्यप्रदेश में बाढ़ की स्थिति और बचाव कार्य को लेकर किया संवाद

मध्यप्रदेश में बाढ़ की स्थिति और बचाव कार्य को लेकर मीडिया के बंधुओं से संवाद किया। अब वर्षा थम गई है और बाढ़ के पानी ने उतरना शुरू किया है, लेकिन अभी भी होशंगाबाद में खतरे के निशान से लगभग 8 फीट ऊपर नर्मदा जी का पानी रहा। होशंगाबाद में अब भी हालात चिंताजनक हैं, कई गांव में पानी भरा है, नर्मदा खतरे के निशान से ऊपर बह रही है, शासन- प्रशासन हर जगह मुस्तैद है।

मुख्यमंत्री ने दूसरों की मदद करने वालों को धन्यवाद देता हूँ, एयरफोर्स के 5 हेलीकॉप्टर से मदद मिली, रेस्क्यू के कमांडिंग ऑफिसर शेखवात को मैंने एयर से उड़ान भरते समय ही धन्यवाद दिया, सभी पायलट को भी धन्यवाद, एसडीआरएफ, एनडीआरएफ ने भी बेहतरीन काम किया है, अब हमारा ध्यान पीड़ितों को राहत पहुंचाने की ओर है में रोजाना समीक्षा बैठक कर रहा हूँ। शुद्ध पेयजल और भोजन की व्यवस्था हमारी प्रथमिकता है, सफाई के लिए नगरीय विकास विभाग और पंचायत विकास को जिम्मा स्वास्थ्य विभाग मेडिकल हेल्प उपलब्ध कराएगा 7 लाख हेक्टयर में फँसले नष्ट हुई हैं।

केंद्रीय गृहमंत्री से मुख्यमंत्री ने हालातों पर चर्चा की है बड़े पैमाने पर नुकसान प्रदेश में हुआ है, जहां पुल टूटे हैं, वहां जांच के आदेश दे दिए हैं, होशंगावाद और नसरुल्लागंज का दौरा करूंगा। मध्यप्रदेश के पाएलेट्स की तारीफ की, विपरीत परिस्थितियों में दिया कुशलता का परिचय, प्रदेश की आर्थिक हालात बहुत खराब लेकिन हम कोई रास्ता निकालेंगे। सरकार बाढ़ उतरने के बाद तत्त्कालिक राहत देगी नुकसान की पूरी भरपाई की जाएगी।

अब बड़ी चुनौती सामने है, गांव से पानी उतर रहा है, वहां राहत पहुंचाना है। इन क्षेत्रों में अब हैजा, मलेरिया, डेंगू, डायरिया जैसी बीमारियां फैलने का खतरा है। स्वास्थ्य विभाग इन जगहों पर बीमारियों से बचाव के लिए अभियान चलाएगा
मुख्यमंत्री चौहान ने कहा-

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co