CM शिवराज ने संभाली प्रदेश की कमान, सदन कार्रवाई हुई स्थगित
CM शिवराज ने संभाली प्रदेश की कमान, सदन कार्रवाई हुई स्थगित|Social Media
मध्य प्रदेश

CM शिवराज ने संभाली प्रदेश की कमान, सदन कार्रवाई हुई स्थगित

MP विधानसभा में आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की ओर से पेश किए गए विश्वास मत प्रस्ताव को सर्वसम्मति से स्वीकृति प्रदान की गयी।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश विधानसभा में आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की ओर से पेश किए गए विश्वास मत प्रस्ताव को सर्वसम्मति से स्वीकृति प्रदान की गयी। इसके साथ ही एक दिन पुरानी चौहान सरकार ने सदन में बहुमत साबित कर दिया। चौहान ने विशेष सत्र के पहले दिन सदन की कार्यवाही प्रारम्भ होने के बाद विश्वास मत पेश किया, जिसे सभापति जगदीश देवड़ा ने पारित कराने के लिए मतदान की औपचारिकता करायी। सदन में मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस का एक भी सदस्य मौजूद नहीं था। इस दौरान हुए मतदान में विश्वास मत को ध्वनिमत के जरिए सर्वसम्मति से पारित कर दिया गया।

इसके पहले चौहान ने अपने संबोधन में कहा :

राज्यपाल ने सरकार को पंद्रह दिनों के अंदर सदन में बहुमत साबित करने के लिए कहा था, इसलिए वे विश्वास मत पेश कर रहे हैं। साथ ही श्री चौहान ने कहा कि उनकी सरकार की सबसे पहली प्राथमिकता मौजूदा हालातों में कोरोना वायरस के प्रकोप को रोकना है। इस दिशा में कल उन्होंने मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद ही आवश्यक कदम उठाना प्रारंभ कर दिए हैं। सभापति श्री देवड़ा ने विश्वास मत प्रस्ताव पारित होने के बाद सदन की कार्यवाही 27 मार्च, शुक्रवार को सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी।

CM शिवराज सिंह चौहान विधानसभा में साबित किया बहुमत :

मध्य प्रदेश विधानसभा में सीएम शिवराज सिंह चौहान ने बहुमत साबित कर लिया, इस दौरान कांग्रेस का कोई भी विधायक मौजूद नहीं था। राज्यपाल लालजी टंडन ने जगदीश देवड़ा को प्रोटेम स्पीकर बनाया था। इसके बाद सदन की कार्रवाई 27 मार्च तक के लिए स्थगित कर दी गई। उधर मध्य प्रदेश सहित अन्य राज्यों में होने वाले राज्यसभा चुनाव की तारीख भी आगे बढ़ा दी गई है।

राजनीति की जंग जीतकर कोरोना को हराने की तैयारी में CM :

मध्यप्रदेश में एक कोरोना का खतरा लगातार बढ़ता ही जा रहा है, वहीं प्रशासन उठा रही है सख्त कदम। इस बीच ही बीते दिन सोमवार को प्रदेश के नए मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने के बाद नवोदित मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एक्शन मोड में आ गए हैं, इसके चलते ही कोरोना को प्राथमिकता मानते हुए एक बड़ा फैसला लिया है जिसके लिए आधी रात को ली गई, बैठक के दौरान राजधानी भोपाल के जबलपुर में भी कर्फ़्यू लगाने के आदेश जारी किए हैं। कोरोना वायरस अलर्ट के बाद देर रात जबलपुर और भोपाल में कर्फ्यू जारी कर दिया गया है। प्रदेश के 37 जिलों में लॉकडाउन जारी है, पुलिस ने इस दौरान बेवजह बाहर निकल रहे लोगों पर सख्ती बरतना शुरू कर दी है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co