सीएम ने ग्रामीण पथ विक्रेताओं के खातों में अंतरित की ब्याज मुक्त ऋण राशि
CM ने पथ विक्रेताओं को ऑनलाइन राशि अंतरित कीPriyanka Yadav-RE

सीएम ने ग्रामीण पथ विक्रेताओं के खातों में अंतरित की ब्याज मुक्त ऋण राशि

भोपाल, मध्यप्रदेश। CM शिवराज ने मुख्यमंत्री ग्रामीण पथ विक्रेता योजना के तहत ऋण वितरण कार्यक्रम की शुरुआत कन्या पूजन कर पथ विक्रेताओं को ऑनलाइन राशि अंतरित की।

भोपाल, मध्यप्रदेश। एक तरफ जहां प्रदेश में कोरोना का संकट जहां धीरे-धीरे टलता जा रहा है वहीं दूसरी तरफ शिवराज सरकार प्रदेश को 'आत्मनिर्भर मप्र' बनाने के लिए कई योजनाओं पर तेजी से कार्य कर रही है, बता दें कि आज यानि 18 फरवरी को भोपाल के मिंटो हाल में आयोजित वर्चुअल कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मध्यप्रदेश के 40 हजार पथ विक्रेताओं को ऑनलाइन राशि अंतरित की है।

सीएम शिवराज ने 10,000 का ब्याज मुक्त ऋण किया वितरित

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने "मुख्यमंत्री ग्रामीण पथ विक्रेता योजना के अंतर्गत ऋण वितरण कार्यक्रम की शुरुआत कन्या पूजन कर किया, सीएम ने 40,000 पथ विक्रेताओं के खाते में 10,000 रुपये का ब्याज मुक्त ऋण सिंगल क्लिक से वितरित किया, वहीं सीएम ने हितग्राहियों से वर्चुअल संवाद भी किया है। सीएम शिवराज ने 'मुख्यमंत्री ग्रामीण पथ विक्रेता ऋण योजना' के हितग्राहियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से विदिशा के वीरेंद्र राजपूत, दमोह के रामचरण, देवास की पिंकी आगरोद से संवाद किया और शुभकामनाएं दीं।

CM से संवाद करते हुये देवास की पिंकी, दमोह के रामचरन, विदिशा के वीरेंद्र ने बताया-

देवास की पिंकी ने बताया- मैं पहले भी सिलाई का काम करती थी, पहले मैं एक महीने में 1,500 से 2,000 रुपये कमा पाती थी। कोरोना काल में मेरा काम बंद हो गया था। स्ट्रीट वेंडर ऋण योजना की जानकारी मुझे आजीविका मिशन की बैठक में मिली। मैंने ऑनलाइन आवेदन दिया और मुझे 10 हजार रुपये की ऋण राशि मिली, मैंने इससे सिलाई मशीन खरीदी। अब मुझे महीने में 7 से 8 हजार रुपये की आमदनी हो जाती है।

दमोह जिले के रामचरन रैकवार ने बताया- मुझे स्ट्रीट वेंडर ऋण योजना के अंतर्गत ऋण मिला। इस राशि से मैंने अपनी दुकान और बड़ी की। पहले कच्ची फर्श थी उसे पक्की की, और ज्यादा सामान खरीदा। अब बिक्री में बढ़त है।

विदिशा के वीरेंद्र सिंह राजपूत ने कहा- मुझे इस योजना के बारे में आजीविका मिशन से पता चला। आसानी से लोन मिल गया। लॉकडाउन में दुकान बंद हो गई थी, इस राशि से मैंने फिर से दुकान शुरू की। किराने के साथ फलों-सब्जियों की बिक्री भी शुरू की अब हर रोज 500-600 की आमदनी है।

सीएम शिवराज ने कही ये बात

इस संबंध में कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि, आज 40 हजार भाई-बहनों को 10-10 हजार मिल रहे हैं। 40 हजार लोगों की रोजी रोटी की गाड़ी चल निकलेगी, अगले महीने हम फिर आयेंगे मदद देने, लगातार लोग जुड़ते जायें। हमारे गांव के भाई-बहनों के काम-धंधे के लिए रास्ता निकले और इनका जीवन भी सुगम हो, इसलिए हमने मुख्यमंत्री ग्रामीण पथ विक्रेता ऋण योजना बनाई।

सीएम ने स्ट्रीट वेंडर लाभार्थियों को प्रतीकात्मक चेक वितरित किए :

इस कार्यक्रम में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने "मुख्यमंत्री ग्रामीण पथ विक्रेता ऋण योजना" के अंतर्गत स्वीकृत ऋण का लाभार्थियों को प्रतीकात्मक चेक भेंट कर शुभकामनाएं दीं।

स्ट्रीट वेंडर जैसी और योजनाएं हम बनायेंगे ताकि मेरे अधिक से अधिक गरीब भाई-बहन आत्मनिर्भर बन सकें। सम्मान के साथ आप अपना जीवन व्यतीत कर सकें, इसके लिए हम कटिबद्ध हैं।

सीएम शिवराज ने कहा-

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co