कलेक्टर ने की मिनी स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट की समीक्षा
हाट बाजार का किया निरीक्षण, दिए आवश्यक निर्देशमुंगावली संवाददाता

कलेक्टर ने की मिनी स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट की समीक्षा

नगर परिषद में समीक्षा करने के बाद कलेक्टर द्वारा निर्माणाधीन भुजरिया तालाब पार्क व सिद्धेश्वर पार्क का निरीक्षण किया और यहां मौजूद उपयंत्री तोषण राय से जानकारी ली साथ ही आवश्यक दिशा निर्देश दिये।

मुंगावली, मध्य प्रदेश। लगभग ढाई वर्ष से कछुआ की चाल व ठेकेदार की मनमर्जी से चल रहे मिनी स्मार्ट सिटी की समीक्षा कलेक्टर आर उमा महेश्वरी के द्वारा की गई और सभी कार्यों को अतिशीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिए तो वहीं गुणवत्ता में किसी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नही की जाएगी कि बात भी ठेकेदार व विभाग के उपयंत्रियों को कही उन्होंने कहा कि जो भी निर्माण कार्य चल रहे हैं वह तय समय सीमा में तो नही किये गए है, लेकिन नवंबर तक अवश्य पूर्ण कर लिए जाए साथ ही गुणवत्ता का पूरी तरह से ध्यान रखे जाने के निर्देश भी दिए।

हाट बाजार का निरीक्षण किया

नगर परिषद में समीक्षा करने के बाद कलेक्टर द्वारा निर्माणाधीन भुजरिया तालाब पार्क व सिद्धेश्वर पार्क का निरीक्षण किया और यहां मौजूद उपयंत्री तोषण राय से जानकारी ली साथ ही आवश्यक दिशा निर्देश दिये। इस दौरान सिध्देश्वर पार्क में जो पेवर्स लगाए गए हैं, वह सही नहीं है इसके लिए उपयंत्री ने दोबारा लेबलिंग कराकर पेवर्स लगबाने की बात कही। इसके अलावा इनके द्वारा हाट बाजार का निरीक्षण किया गया और यहां भी लाइटिंग करने के निर्देश इनके द्वारा स्मार्ट सिटी के उपयंत्री को दिए गए। इसके अलावा एसडीएम द्वारा सिद्धेश्वर मंदिर के पीछे नया पार्क बनाने के लिए कलेक्टर को मौका मुआयना कराया गया जिसमें उन्होंने तुरंत रिवाइज स्टीमेट बनाकर भेजने को कहा है। वहीं जेल तालाब के नीचे नगर परिषद द्वारा बनाये जा रहे पार्क के लिये भी कलेक्टर के द्वारा आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए।

सेल्फी प्वाइंट पहुंचकर निकलबाई फोटो

अपने इस भ्रमण के दौरान कलेक्टर जेल तालाब पहुचीं और वहां प्रस्तावित निर्माण कार्यों की जानकारी एसडीएम राहुल गुप्ता और सीएमओ विनोद उन्नीतान से ली और उसके बाद यह सेल्फी प्वाइंट पहुचीं और ऑउन आप को फोटो लेने से नही रोक पाई और सभी अधिकारियों के साथ इन्होंने आईलव मुंगावली के सामने खड़े होकर फोटो ली।

क्या अब लगेगा घटिया निर्माण पर अंकुश

कलेक्टर आर उमा महेश्वरी के द्वारा शुक्रवार को जिस तरह से मिनी स्मार्ट सिटी की काफी देर तक समीक्षा बैठक किये जाने के बाद निर्माणाधीन कार्यों की जिस तरह से मौके पर पहुंचकर निरीक्षण किया गया उसके बाद अब सवाल उठता है कि क्या अब ठेकेदार की मनमानी और घटिया गुणवत्ता पर अंकुश लगेगा क्योकि एभी तक देखने में आया है कि नगर परिषद के सीएमओ के द्वारा बार बार गुणवत्ता को लेकर पत्र लिखे गए हैं लेकिन लगातार मनमानी पूर्वक कार्य देखने को मिले है। जिसके चलते महीनों पहले बनी सीसी सड़क टूटने लगीं है। इसके अलावा हाट बाजार, सिद्धेश्वर पार्क के अलावा अन्य कार्यों में भी टूट फूट होने लगीं हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.