Raj Express
www.rajexpress.co
सोशल मीडिया पर जारी विज्ञापन से मचा बवाल
सोशल मीडिया पर जारी विज्ञापन से मचा बवाल|Social Media
मध्य प्रदेश

भोपालः सोशल मीडिया पर कांग्रेस के विज्ञापन से मचा बवाल

भोपाल, मध्यप्रदेश : प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के जन्मदिन पर सोशल मीडिया पर विज्ञापन जारी करके दावा किया गया कि, उन्हें मुख्यमंत्री की कमान दिग्विजय सिंह की वजह से मिली है।

Deepika Pal

राज एक्सप्रेस : मध्यप्रदेश के भोपाल में प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के जन्मदिन पर पीसीसी द्वारा सोशल मीडिया पर एक विज्ञापन जारी किया गया था, जिससे कांग्रेस की सियासत में हलचल मच गई, विज्ञापन में दावा किया गया कि मुख्यमंत्री को कमान मिलने की वजह दिग्विजय सिंह है, जिनके द्वारा कमलनाथ का नाम सीएम पद के लिए दिया गया इसलिए सिंधिया को कमान नहीं मिली।

जारी विज्ञापन से वजह आई सामने :

पीसीसी द्वारा मुख्यमंत्री कमलनाथ के जन्मदिन के मौके पर जारी विज्ञापन में कमलनाथ की खूबियों और उपलब्धियों का बखान किया गया लेकिन अंतिम बिंदु पर लिखी बात में बताया गया कि, 1993 में कमलनाथ मुख्यमंत्री के लिए रेस में शामिल थे और चर्चा भी हो रही थी लेकिन उस समय नेता अर्जुन सिंह द्वारा दिग्विजय सिंह का नाम आगे बढ़ाया था और वे मुख्यमंत्री बनने से चूक गए थे। जिसके 25 साल बाद उन्हें दिग्विजय के समर्थन के साथ मुख्यमंत्री बनने का अवसर मिला।

वहीं कयास लगाए जा रहे हैं कि, सिंधिया को मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री की कमान दिग्विजय सिंह की वजह से नहीं मिली। पूर्व में भी मुख्यमंत्री पद के लिए दिग्विजय सिंह के कार्यकाल के समय कांग्रेसी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिय़ा के पिता माधवराव सिंधिया मुख्यमंत्री की रेस में शामिल थे लेकिन नेता अर्जुन सिंह की वजह से मुख्यमंत्री नहीं बन पाए।

विज्ञापन बन सकता है दिग्गी और सिंधिया के रिश्तों में कड़वाहट की वजह:

दिग्विजय सिंह और ज्योतिरादित्य सिंधिया को लेकर कई दावे किए जा चुके हैं। वहीं सामने आता है कि दोनों के रिश्तों के बीच खटास है। अब इस प्रकार के विज्ञापन से सामने आया है कि, दिग्विजय सिंह की वजह से ही सिंधिया मुख्यमंत्री की रेस से बाहर हो गए थे। वहीं जानकारों का कहना है कि, यह विज्ञापन दिग्विजय सिंह और ज्योतिरादित्य सिंधिया के रिश्तों के बीच खटास का कारण बन सकता है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।