भाजपा कार्यालय के पास कांग्रेस-भाजपा कार्यकर्ता भिड़े
भाजपा कार्यालय के पास कांग्रेस-भाजपा कार्यकर्ता भिड़े|Social Media
मध्य प्रदेश

भाजपा कार्यालय के पास कांग्रेस-भाजपा कार्यकर्ता भिड़े, हुआ पथराव

मध्यप्रदेश भोपाल स्थित भारतीय जनता पार्टी प्रदेश कार्यालय के पास कांग्रेस-भाजपा कार्यकर्ता भिड़े, जमकर हुआ पथराव। जानें क्या है मामला...

Aditya Shrivastava

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश में जहां एक तरफ सत्ता के संघर्ष में सियासत जारी है, वहीं दूसरी और कांग्रेस नेताओं एवं कार्यकर्ताओं द्वारा प्रदेश में गुंडागर्दी शुरू कर दी है। बेंगलुरु में दिग्विजय सिंह को कांग्रेस विधायकों से न मिलने देने और 16 कांग्रेस विधायकों की रिहाई को लेकर भाजपा कार्यालय का घेराव करने जा रहे कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जमकर हंगामा एवं पथराव किया। बुधवार शाम कांग्रेस कार्यकर्ता बैरीकेड तोड़कर भाजपा कार्यालय की तरफ पहुंचे, तभी दोनों पार्टी भाजपा एवं कांग्रेस के कार्यकर्ता भिड़े, जमकर पथराव हुआ। इसमें कई लोगों के घायल होने की सूचना है।

पुलिस ने दोनों पार्टी के कुछ कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया है। मौके पर बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात पंहुचा। न्यू मार्केट, हबीबगंज, गोविंदपुरा समेत चार थानों का पुलिसबल बुलाया गया। प्रशासन ने धारा 144 लागू कर दी है।

भाजपा प्रवक्ता राहुल कोठारी ने कहा कि हमें भाजपा कार्यालय पर हमले की सूचना पहले ही मिल गई थी। इसकी सूचना प्रशासन को भी दी। आज प्रशासन की मदद से कांग्रेस कार्यकर्ता कार्यालय पर आए और कार्यालय पर पथराव किया। यह सारा काम प्रशासन की मिलीभगत से हुआ है। इस कृत्य से भाजपा कार्यकर्ता रुकने वाले नहीं हैं। हम दमनकारी सरकार को हटाने का प्रण लेकर आगे बढ़ेंगे। बेंगलुरु में दिग्विजय और यहां उनके लोग गुंडागर्दी कर रहे हैं।

बेंगलुरु में दिग्विजय सिंह जी आज सुबह अपने आप को कथित रूप से गांधीवादी कह रहे थे। शाम तक उनकी गांधीवादी का नया स्वरूप उन्ही के द्वारा भेजे हुए गुंडों में आप देख सकते हैं। जिन्होंने आज भाजपा कार्यालय पर हमला किया। घेराव के नाम पर कांग्रेस के गुंडों ने भाजपा कार्यालय पर हमला किया है। हमले में पुलिस की भूमिका संदिग्ध है। पूरे प्रदेश में आराजकता का माहौल है सोची समझी साज़िश के साथ महिलाओं को आगे करके हमला करना कांग्रेसियों की हताशा स्पष्ट दिख रही थी। लेकिन हमने चूड़ियां नही पहन रखी हैं।

भाजपा मीडिया प्रभारी लोकेन्द्र पारासर ने कहा कि, घेराव के नाम पर कांग्रेस के गुंडों ने भाजपा कार्यालय पर हमला किया है। हमले में पुलिस की भूमिका संदिग्ध है। लेकिन हमने चूड़ियां नही पहन रखी है। हिम्मत है तो छुपकर नहीं खुलकर सामने आओ।

आपको बता दें कि बेंगलुरु में बुधवार यानि आज सुबह बागी विधायकों से मिलने गए दिग्विजय सिंह, कांतिलाल भूरिया समेत 10 कांग्रेस नेताओं को पुलिस ने हिरासत में ले लिया था।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co