कांग्रेस हमेशा दलितों का अपमान करती रही है, उन्हें अपना गुलाम समझती है-गौतम

विधानसभा उपचुनाव के लिए भाजपा के इंदौर स्थित मालवा-निमाड़ के वार रूम में भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री दुष्यंतकुमार गौतम ने कहा कि कांग्रेस में अनुसूचित जाति वर्ग का अपमान करना ये इनका नया काम नहीं है।
कांग्रेस हमेशा दलितों का अपमान करती रही है, उन्हें अपना गुलाम समझती है-गौतम
कांग्रेस हमेशा दलितों का अपमान करती रही है- गौतमSocial Media

इंदौर, मध्य प्रदेश। विधानसभा उपचुनाव के लिए भाजपा के इंदौर स्थित मालवा-निमाड़ के वार रूम में भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री दुष्यंतकुमार गौतम ने कहा कि कांग्रेस में अनुसूचित जाति वर्ग का अपमान करना ये इनका नया काम नहीं है। पूर्व में समय-समय पर उन्होंने दलित समाज का अपमान किया और डॉ. भीमराव अम्बेडकर का भी अपमान किया है। उन्होंने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने जैसी भाषा का उपयोग किया, कि क्या आईटम है ये पहला पहला नहीं है दिग्विजयसिंह ने पहले भी कहा कि क्या टंच माल है कहने जैसी अनेकानेक घटनाएं घटी हैं। कांग्रेस की अपनी मानसिकता है उनको लगता है कि ये दलितों के वोट हैं, दलितों के वोट आसानी से मिल जाते हैं।

भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री दुष्यंत कुमार ने कहा कि कांग्रेस समझती है कि दलित हमारे गुलाम हैं और गुलामों की तरह रहेंगे, ऐसे ही उन्होंने डॉ. भीमराव अम्बेडक रजी का भी अपमान किया है। डॉ. भीमराव अम्बेडकर जी को 1952 चुनाव नहीं जीतने दिया। जब अम्बेडकर जी किराये के मकान में दिल्ली में रहते थे वहां के मकान मालिक ने उनका सामान उठाकर बाहर फेंक दिया। डॉ. अम्बेडकर जी का अंतिम संस्कार भी दिल्ली में नहीं होने दिया। दादर, मुंबई मेंं अंतिम संस्कार हुआ और बाहर छोटे स्थान पर हुआ। आज देश का दलित पूछता रहा कांग्रेस से आपने सबकी समाधियां बनाई, डॉ. अम्बेडकरजी की समाधि कहा पर है। उनसे बताते नहीं बनता था, लेकिन अब 12 एकड़ का इंदूमिल अधिकृत करके डॉ. अम्बेडकरजी की समाधि बनाने का काम मोदी सरकार कर रही है।

कांग्रेस ने अपने परिवारवाद को आगे बढ़ते हुए परिवार के सभी सदस्यों को भारतरत्न दे दिया था लेकिन डॉ. अम्बेडकर जो सच्चे हकदार थे उन्हें भारत रत्न वीपी सिंह सरकार ने दिया था। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह को कांग्रेसी भूखा नंगा कहते हैं। श्री गौतम ने कहा कि भूखा-नंगा कहने वाले लोगों को मैं जवाब देना चाहता हूं कि हमारी सरकार ने 1.4 लाख नकली एनजीओ को पकड़ा, ढाई लाख अवैध कम्पनी को बंद कराया जो अवैध रूप से संचालित थी, 21 लाख नकली डायरेक्टर जो बिना काम के पैसे लेते थे, उन्हें पहचान कर उनका पैमेंट रूकवाया, 5 करोड़ नकली लोगों को राशन मिलता था उन्हें पहचान कर बंद कराया, 4 करोड़ एलपीजी के नकली कनेक्शन थे उन्हें बंद कराया क्या यह सारी सुविधाएं देश के जरूरतमंद लोगों को पहुंचाई गई, इसलिये हम लोग नंगे भूखे लोग हैं। हाथरस की घटना में खेद व्यक्त करते हुए कहता हूं कि सरकार ने बिना देरी किये 4 लोगों को गिरफ्तार करके उसकी जांच कराई गई फिर एसटीएफ को जांच सौंपी गई, उसके बाद सीबीआई को मामला सौंपा, परिवार को मुआवजा दे दिया गया है। कांग्रेस सिर्फ यह ढूंंढती है कि हमे किस मामले में बोलना है और किस मामले में नहीं बोलना है और अपना राजनैतिक लाभ हानि को देखते हुए हाथरस के बाद देश में चार घटनाएं और हुई लेकिन कांग्रेसी वहां नहीं गये, ये तो अपनी पसंद के अनुसार देश को खंडित करने के लिये तत्पर बैठे रहते हैं। इस दौरान अजा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष सूरज कैरो, वरिष्ठ नेता बाबूसिंह रघुवंशी, गोविन्द मालू, प्रदेश प्रवक्ता उमेश शर्मा, महामंत्री घनश्याम शेर और जिला मीडिया प्रभारी मुकेश जरिया, अजा मोर्चा अध्यक्ष राजेश सिरोड़कर उपस्थित थे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co