Raj Express
www.rajexpress.co
कांग्रेस विधायक बड़ा बयान
कांग्रेस विधायक बड़ा बयान |Social Media
मध्य प्रदेश

CAA विरोध और समर्थन की लड़ाई, कांग्रेस विधायक का बड़ा बयान

देशभर में सीएए के खिलाफ विरोध प्रदर्शन देखने मिल रहा है। इसी बीच एक तरफ जहां कांग्रेस पार्टी के एक कांग्रेस विधायक का बयान सामने आये है।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

राज एक्सप्रेस। देशभर में सीएए के खिलाफ विरोध प्रदर्शन देखने मिल रहा है। इसी बीच एक तरफ जहां कांग्रेस पार्टी पूरे देश में CAA का विरोध कर रही है, वहीं उसके एक कांग्रेस विधायक का बयान सामने आये हैं कि कांग्रेस विधायक हरदीप सिंह डंग ने सीएए का समर्थन किया। उन्होंने कहा है कि इसे NRC से अलग करके देखा जाना चाहिए।

कांग्रेस विधायक हरदीप सिंह डंग ने कहा-

यदि पाकिस्तान, बांग्लादेश आदि देशों के दुःखी लोगों को अगर भारत में सुविधाएं मिलती हैं तो इसमें बुराई क्या है। लेकिन जो लोग पीढ़ियों से भारत में रह रहे हैं, अगर उनके पास दस्तावेज नहीं हैं तो क्या उन्हें देश का नागरिक नहीं माना जाएगा? मेरा मानना है कि सीएए और एनआरसी को अलग-अलग देखने की जरुरत है। हिन्दुस्तान में जो लड़ाई चल रही है, वह समझ में नहीं आ रही है। NRC और CAA दोनों को आपस में मिलाना सबसे गलत बात है।

CAA का समर्थन करते हुए कहा कि, इसे और NRC को अलग-अलग देखने की जरुरत है। उन्होंने कहा कि अगर पड़ोसी देशों के सताए हुए लोगों को यहां नागरिकता दी जाती है तो इसमें कोई नुकसान नहीं है।

कांग्रेस विधायक हरदीप सिंह डांग

कांग्रेस विधायक डंग ने सीएए को ढंग से समझा - चौहान

भाजपा उपाध्यक्ष एवं मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कांग्रेस विधायक हरदीप सिंह डंग ने नागरिकता संशोधन विधेयक (सीएए) को पढ़ा और ढंग से समझा, इसके लिए उन्हें धन्यवाद।

कांग्रेस के बाकी विधायकों नेताओं से उनका अनुरोध है कि वे श्री डंग से सीख लें। कम से कम एक बार सीएए के बारे में पढ़ लें। इसमें गलत कुछ नहीं है। पढ़ें, समझें और श्री डंग का अनुकरण करें।

श्री चौहान ने ट्वीट के जरिए कहा

श्री डंग मंदसौर जिले के सुवासरा से कांग्रेस विधायक हैं और उन्होंने कल वहां मीडिया से कहा कि सीएए और एनआरसी को अलग करके देखा जाना चाहिए। सीएए के माध्यम से पाकिस्तान और बांग्लादेश के पीड़ितों को भारत में सुविधा मिलती है, तो इसमें बुरायी नहीं है। हालांकि उन्होंने एनआरसी का विरोध किया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।